फिजियोथेरेपी क्या होती है – Physiotherapy in Hindi

फिजियोथेरेपी क्या होती है – Physiotherapy in Hindi

Article on Physiotherapy in hindi : आज हम आपको इस पोस्ट में एक बहुत ही बढ़िया और महत्वपूर्ण जानकारी देंगे और यह जानकारी आपके लिए बहुत ही जरूरी है क्योंकि जैसा कि आप सभी जानते हैं आज के समय में बहुत से लोगों को ऐसी बीमारी होती है जो कि दवाइयों से या किसी भी तरह की मेडिसिन से नहीं जाती है और अगर जाती है तो भी उसके ऊपर बहुत ज्यादा खर्च होता है क्या कई बार वह बीमारी हमें बिल्कुल छोटी लगती है जिससे हम दवाइयां लेकर ठीक नहीं करना चाहते हैं. जैसे किसी को मानसिक तनाव, घुटनों में दर्द, पीठ दर्द, जोड़ों में दर्द जैसी समस्याएं होती है तो लोग इसे बहुत परेशान होते हैं.

उनको ठीक करने के लिए फिजियोथेरेपी नाम का एक अभ्यास करना होता है. जो कि आपको बहुत ही आसानी से इन समस्याओं से पीछा छुड़ाने में मदद करता है. तो आज हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे कि फिजियोथेरेपी क्या है. और यह किस तरह से किया जाता है. और इससे आप किस तरह की दिक्कत का पीछा छुड़ा सकते हैं. और आप किस तरह से फिजियोथेरेपी के कारण एक स्वस्थ जीवन व्यतीत कर सकते हैं.तो देखिए.

फिजियोथेरेपी क्या है

Physiotherapy in Hindi language : सबसे पहले हम आपको यह बता देते हैं कि फिजिओथेरपी होता क्या है.वैसे तो फिजिओथेरपी के बारे में लोगों ने अलग-अलग है बातें कही है. भौतिक चिकित्सा अर्थ : वास्तव में फिजियोथेरेपी एक उपचार पद्धति के रूप में परिभाषित की जा सकती है. जो आंदोलन के विज्ञान पर ध्यान केंद्रित करती है. भौतिक साधनों का उपयोग करके चोट या बीमारियों का निदान और उपचार करने का विज्ञान है. जो लोगो की शारीरिक शक्ति, कार्य, गति और समग्र सुख को बहाल, रखरखाव और अधिकतम करने में मदद करती है.भौतिक चिकित्सा प्रदान करने वाले स्वास्थ्य पेशेवरों को फिजियोथेरेपिस्ट कहा जाता है। वे उच्चतर प्रशिक्षित हैं. भौतिक चिकित्सा में मास्टर की डिग्री के साथ और चोट के मूल कारणों का पता करने में सक्षम हैं. साथ ही उन्हें इलाज भी करते हैं.इसका मुख्य उद्देश्य भौतिक साधनों आधारित तकनीकों का उपयोग करके दर्द कम करना और कम से कम दोष देना है.

फिजियोथेरेपी क्यों करने चाहिए

कई लोग सोचते हैं कि यह बिल्कुल स्वस्थ है और उनको यह सब करने की कोई जरूरत नहीं है लेकिन हम आपको बता दें कि यदि आप बिल्कुल स्वस्थ हैं तो भी आप फिजोथेरपी ले सकते हैं क्योंकि इससे आपको किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है यह हमारे शरीर को बहुत फायदा पहुंचाती है और यदि हम इसको नियंत्रित लेते रहते हैं तो हम एक लंबे समय तक स्वस्थ जीवन व्यतीत कर सकते हैं. इससे हमें बहुत फायदा मिलता है और यह हमें बहुत सी बीमारियों से बचाता है.

और बहुत से लोग ऐसा सोचते हैं कि हमें दूसरी बीमारी है और हम उनकी दवाइयां ले रहे हैं. या आप किसी दूसरी तरह का उपचार उन बीमारियों के लिए करवा रहे हैं तो यह लेना हमारे लिए अनिवार्य नहीं होगा और अगर हम इसको लेते हैं तो इसके दुष्परिणाम हो सकते हैं लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है यदि आपको किसी भी तरह की कोई बीमारी है.और उसके उपचार के लिए आप किसी भी तरह की दूसरी दवाइयां या किसी भी तरह का दूसरा उपचार करवा रहे हैं. तो आप उसके साथ यह ले सकते हैं.  इसका आपको किसी भी तरह का नुकसान नहीं होगा बल्कि है. आपको उस बीमारी में बहुत फायदा करेगी इसकी किसी भी तरह का कोई भी नुकसान हमारे शरीर को नहीं पहुंचता है और आप दूसरी उपचार के साथ इसको भी लगातार ले सकते हैं.यह आपको उस बीमारी को रोकने में भी मदद करेगी और उसके साथ उत्पन्न होने वाली दूसरी बीमारियों को भी दूर करती है.

फिजियोथेरेपिस्ट

आज के समय में लोग दवाइयों की ओर ध्यान को कम केंद्रित करते हैं और दूसरी चीजें जैसे फिजियोथैरेपिस्ट योग इत्यादि की ओर ज्यादा ध्यान देते हैं. क्योंकि उनसे ना तो किसी भी तरह का ज्यादा खर्च होता है और ना ही आपको किसी भी तरह की दवाइयों के लिए हॉस्पिटल आदि के चक्कर लगाने पड़ते हैं और आज के समय में तो फिजियोथैरेपिस्ट बनकर आप एक व्यवसाय के रूप में भी काम कर सकते हैं यदि थेरेपिस्ट की डिग्री को प्राप्त करने के लिए लगभग 4 साल का कोर्स करना पड़ता है.

फिजोथेरपी का क्षेत्र आज के समय में बहुत ज्यादा बढ़ गया है. और यह निरंतर बढ़ता ही जा रहा है इसमें आपको बहुत सी मसाज या exercises, stretches, traces, coold application, heat application आदि चीजें करवाई जाती है और यह आपको बहुत सी बीमारियों से छुटकारा दिलाने में मदद करती है.

फिजियोथेरेपी इस्तेमाल करने से

फिजियो थेरेपी का इस्तेमाल करने से बहुत से पेशेंट को अपने जोड़ दर्द पीठ दर्द या मानसिक तनाव जैसी स्थितियां से राहत मिली है सामान्यतः लोगों का मानना होता है कि इन्हीं दिक्कत के कारण लोग इसे  फिजियोथेरेपी का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके अलावा भी हमें फिजियोथेरेपी के बहुत फायदे मिलते हैं. जैसे इनको आप छोटे बच्चों की बीमारियां, बुजुर्ग लोगों की बीमारियां इन सभी  में फिजियोथेरेपी के अच्छे परिणाम देखे गए हैं.

फिजियो थेरेपी से कौन-कौन सी बीमारियां से छुटकारा पाया जा सकता है

जैसा की हमने आपको ऊपर भी बताया है यदि आप लगातार फिजियोथेरेपी का इस्तेमाल कर रहे हैं. तो आपको बहुत सी समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है. इससे आपको बहुत सी चीजों में  फायदा मिलता है. जैसे  पीठ दर्द, जोड़ों के दर्द ,घुटनों का दर्द, मानसिक तनाव, किसी भी तरह की खेलों में लगी हुई चोट, महिलाओं की चोट, बुजुर्गों की चोट, बुजुर्गों की सामान्य बीमारी बच्चों की बीमारियां या किसी भी बच्चे का संतुलन ना बन पाना जैसी समस्याओं को बहुत ही आसानी से दूर करती है.और ऐसा बहुत ही कम देखा गया है. कि फिजियोथैरेपिस्ट आपको इन समस्याओ के लिए किसी भी तरह की दर्द निवारक दवाइयां गोली का सेवन करने के लिए कहते हैं यदि आप की हालत बहुत ही ज्यादा खराब है.

तो कई बार आप का फिजियोथैरेपिस्ट है. आपको दर्द निवारक गोली दे सकता है. और वह आपको तब दी जाती है. जब आपके शरीर का संतुलन बिल्कुल खराब हो जाता है. और आप फिजियोथैरेपिस्ट द्वारा बताई गई चीजों को कर पाने में सक्षम होते हैं. इसलिए वह आपको एक बार दी जाती है ताकि आपके शरीर का संतुलन कुछ समय के लिए बन जाए.इसके अलावा यदि आप लगातार फिजियोथैरेपी लेते रहते हैं तो इससे आपकी मांसपेशियां भी मजबूत होती है और आपको थकावट का अनुभव भी कम होता है और यह आपके शरीर को मजबूत बनाती है और हड्डियों को भी मजबूत बनाती है और इसकी बहुत फायदे आपको मिलते हैं इसके आपको शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से फायदे मिलते हैं.

यदि कोई बुजुर्ग अपना संतुलन बना पाने में सक्षम है. या आपके घर में कोई बच्चा है. जिसके हाथ पैर अच्छे से विकसित नहीं हो रहे हैं.तो आपको अपने फ़िज़ियोथेरेपिस्ट से तुरंत ही मिलना चाहिए.वैसे तो फिजियो थेरेपी को पैरामेडिकल साइंस का दर्जा दिया गया है. लेकिन उन्हें किसी भी मेनस्ट्रीम मेडिकल से कम नहीं है.

फिजोथेरपी कौन-कौन ले सकते हैं

फिजोथेरपी आप किसी भी उम्र में और किसी भी तरह से ले सकते हैं यह आपके लिए जरूरी नहीं है कि आप अभी छोटे हैं तो आपको फिजोथेरपी नहीं लेनी चाहिए और ना ही आपको यह सोचना चाहिए कि यह हमें ज्यादा उम्र के होने के बाद नहीं लेनी चाहिए आप बचपन से लेकर किसी भी उम्र तक इसको ले सकते हैं और इसमें बच्चे, महिलाएं, लड़के, लड़कियां, बूढ़े सभी तरह के आदमी फिजोथेरपी को ले सकते हैं.

आज हमने आपको इस पोस्ट में एक बहुत ही बढ़िया और महत्वपूर्ण जानकारी बताई है. यह जानकारी आप सभी के लिए फायदेमंद हैं. चाहे आपको किसी भी तरह की दिक्कत हो या ना हो आप फिजियोथेरेपी ले सकते हैं. और इसके आपको सिर्फ फायदे ही फायदे मिलते हैं तो यदि हमारे द्वारा बताई गई physiotherapy in hindi language फिजीओथेरपी क्या है भौतिक चिकित्सा उपचार भौतिक चिकित्सा पाठ्यक्रम भौतिक चिकित्सा अर्थ भौतिक चिकित्सा अभ्यास भौतिक चिकित्सा पाठ्यक्रम विवरण article on physiotherapy in hindi जानकारी आपको पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें और यदि आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं.

31 Comments

    • Sir mene 12 ki h Nd muje bpt krni h to ky me kr skti Hu Nd isme select hone se phle ky krna pdega Nd English thodi week h plllzz sir tell me

    • Sir mene 12 ki h Nd muje bpt krni h to ky me kr skti Hu Nd isme select hone se phle ky krna pdega Nd English thodi week h plllzz sir tell me

  • क्या फिजियोथिरैपी से c5,6 की समस्या ठीक हो सकती है

  • फिजजियोथेरिपी करने से कोई नुकसान तो नहीं होता हैं?

  • फिजजियोथेरिपी करने से कोई नुकसान तो नहीं होता हैं?

  • Plz mere question ka reply dena me 1 year se writer cramp se bhot preshan hu kya ye physiotherapy se thik ho skta kya plz reply me

  • Plz mere question ka reply dena me 1 year se writer cramp se bhot preshan hu kya ye physiotherapy se thik ho skta kya plz reply me

  • क्या बच्चो के लिए फिजियोथेरेपिस्ट अलग होते है?

  • क्या बच्चो के लिए फिजियोथेरेपिस्ट अलग होते है?

  • mera baccha 4 sal ka Ho Gaya hai lekin vah chal nahin pata hai aur bol bhi nahin pata hai iske liye Ham Kya Karen

  • mera baccha 4 sal ka ho gaya hai vah bol nahin pata aur chal bhi nahin pata hai bataiye sar kya iske liye Ham Karen usko kaun si bimari hai iske bare mein hamen jankari dijiye ga please sar

  • Mera bacchan 4 sal ka ho gaya hai vah chal nahin pata hai aur bol bhi nahin pata uska ek hath Kam nahin karta hai bataiye sar usko kya bimari hai iske liye Ham Kya Karen sar aap jankari dijiye ega hamen

  • मेरे पैर और कमर me दर्द बहुत होती हैं दवाई खा kar देख ली लेकिन thik नहीं ho रही हैं।फिजियोतेरीपी me कितने दिन ka कोर्स करने se thik ho जाता हैं

  • मेरी जाग में बहुत ही दर्द रहता है और मैं थोड़ा चलता हूं तो मेरे पीठ मे खींचाव के साथ साथ जकड़ जाता है जिससे मैं चल नहीं पाता हूं मेरी उम्र 63 वर्ष की अवस्था में है और यह क्या फिजोथेरेपी से मुझे लाभ मिलेगा क्या कृपया मुझे बताएं।

Leave a Comment