एचडीएफसी लाइफ कार्डियक केयर बीमा पॉलिसी प्लान

एचडीएफसी के इस नए प्लान में बहुत सारी सुविधाओं को जोड़ा गया है ताकि नागरिकों को ज्यादा से ज्यादा आकर्षित किया जाए और उन्हें ज्यादा ज्यादा प्रॉब्लम से छुटकारा दिलाया जाए। hdfc तरह-तरह की समस्याओं से निपटने के लिए लाती रहती है । सबको पता है आजकल पूरे विश्व में ह्रदय घात की समस्या बढ़ती जा रही है भारत में ही यदि कुल केसों की बात करें तो करोड़ों के ऊपर हर साल लोग दिल की बीमारी से मर जाते हैं। मेन समस्या आती है इलाज का पैसा ना होना। तथा आर्थिक समस्या के चलते सही से इलाज ना होना दिल की बीमारियों की हार्टअटैक की समस्या बनती है।

इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए एचडीएफसी में हृदय रोग के लिए नया बीमा प्लान निकाला है जिसमें कोई भी नागरिक निवेश करके अपने भविष्य में होने वाली दिल की बीमारियों के लिए निवेश करके अच्छा रिटर्न वापस प्राप्त कर सकता है।

एचडीएफसी में लाइफ कॉर्डिक बीमा पॉलिसी प्लान में बेहद कम प्रीमियम में निवेश करने की सुविधा प्रदान किए ताकि देश का कोई भी नागरिक आसानी से जुड़कर सुविधा का लाभ ले सकते हैं  एचडीएफसी का नया प्लान non-linked बेनिफिट बीमा पॉलिसी प्लान है इसमें लोगों को निवेश करने पर एकमुश्त राशि रिटर्न के तौर पर दी जाएगी।

यदि आपको एचडीएफसी की स्कीम के बारे में कोई जानकारी नहीं है तो आज हम अपनी दिशा बताने वाले हैं कि आप पैसे एचडीएफसी के इस स्कीम से जुड़कर अपना भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं । और आर्थिक रूप से तथा स्वास्थ्य रूप से अपनी सुरक्षा कर सकते हैं जानकारियां जाने के लिए बने रहे हमारे साथ चलिए शुरू करते हैं…. .

 क्या है एचडीएफसी लाइफ कार्डियक केयर बीमा पॉलिसी प्लान

एचडीएफसी में प्लान को देश में  नागरिकों के लिए उनके हृदय संबंधी रोगों को केयर करने के लिए इस पॉलसी का प्लान बनाया है। इस पॉलसी की सहायता से देश के नागरिक गंभीर दिल की समस्या से छुटकारा पा पाएंगे ।जैसा कि हम सब जानते हैं कि आजकल हर साल हर महीने इलाज इतना महंगा होता जा रहा है कि आम आदमी के बस की बात नहीं है। और इसी वजह से मृत्यु दर भी बढ़ रही है अधिकतर लोग अपना इलाज न कराने की वजह से पैसे की आर्थिक समस्या की वजह से जान से हाथ धो रहे हैं।

एचडीएफसी ने समस्या को देखते हुए कार्डियक केयर पॉलिसी बनाई है जिससे कि लोगों को अपने हृदय संबंधी रोगों से निपटने के लिए सर्जरी के लिए तथा महंगी दवाओं के लिए बीमा बाल सीधे आर्थिक सुविधा मिल पाएगी। इस प्लान से लोगों को आर्थिक सुरक्षा के साथ हृदय संबंधी बीमारियों के लिए केयर की भी सुविधा दी जाएगी या एक नान लिंक्ड  कार्डियो केयर प्लान है। जिसमें हृदय से संबंधित सारे खर्च का निर्वहन करने का प्रावधान है।

यानी कि आपने इसमें निवेश कर लिया तो आपको भविष्य में की थी हृदय संबंधी बीमारी के लिए चिंतित नहीं रहना पड़ेगा यदि आप किसी अस्पताल में बीमारी के चलते रहता है। रोग के संबंधित बीमारी के चलते एडमिट है तो आपको राशि का भुगतान करने का भी विकल्प इसमें एचडीएफसी द्वारा दिया गया है ।आपको पैसे की समस्या नहीं आएगी आप आसानी से इलाज करवा पाएंगे इस पॉलसी में आपकी द्वारा जमा की गई राशि 1961 80 सी के डी के तहत लाभ भी दिया जाता है।

कैसे जुड़े एचडीएफसी लाइफ कार्डियक केयर बीमा पॉलिसी प्लान

  • Hdfc के प्लान में जोड़ने के लिए आपको आईडीएफसी के ऑफिशियल दफ्तर पर जाकर आवेदन करना होगा वह आलसी खरीदनी होगी।
  • तथा निवेश करना शुरू करना होगा इसके लिए आपको पॉलसी का फार्म लेकर जो जो भी रिक्वायरमेंट है उसे फिलअप करके सबमिट कर देना होता है।
  • एचडीएफसी बैंक अधिकारी के पास इसके बाद आपको आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद बता दिया जाएगा कि आप आवेदन स्वीकार हुआ है नहीं यदि आपको अनुमति दे दी जाती है।
  • तो आपको निवेश करने की योग्यता प्राप्त हो जाती है घर बैठे भी ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है इसके लिए आपको एचडीएफसी के ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होता है ।
  • पॉलसी के फार्म को जारी रिक्वायरमेंट डॉक्यूमेंट ऐड करके फिलअप करके ऑनलाइन सब मिट कर देना होता है इसके बाद आपके मोबाइल में नोटिफिकेशन करके बता दिया जाएगा।
  • कि आपका आवेदन स्वीकार हुआ है नहीं या जानकारी आप एचडीएफसी के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर भी प्राप्त कर सकते हैं।

क्या है पूरा प्लान

एचडीएफसी के इस प्लान को गहराई से समझने की कोशिश करें गहराई से समझने की बात करें तो एचडीएफसी ने इस प्लान को विशेषकर हृदय संबंधी रोगों के लिए बीमा पॉलसी देने के लिए शुरू किया है। इस पो में 18 से 65 साल का कोई भी व्यक्ति निवेश करके अपने लिए भविष्य सुरक्षित कर सकता है। तथा मैच्योरिटी की उम्र पार्टी धारक की 75 साल की गई है। इसमें सम इंश्योर्ड राशि ₹200000 मिनिमम रखी गई है तथा अधिकतम 5000000 रुपए सम इंश्योर्ड रखी गई है।  50 साल तक की पॉलसी टर्मरखी गई है।

 इस प्लान में तथा चार प्रकार के भुगतान विकल्प भी शामिल किए गए हैं ।

जिसमें 1 माह 3 माह क्षमा ही तथा वार्षिक तरीके से आप प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं। निमित्त प्रीमियम की बात करें तो इसमें आप 357.40 के हिसाब से प्रीमियम जमा कर सकते हैं तथा इकट्ठा प्रीमियम जमा करने की 1313 . 20 रुपए जमा करने का नियम है।

पॉलिसी की विशेष बातें

यदि कोई पॉलसी द्वारा अपनी बीमारी से संबंध में हॉस्पिटल में भर्ती होता है तो उसे इस साल से से आर्थिक भुगतान का लाभ मिलता है। तथा हर 10 दिन के लिए तैयार रुपए का अस्पताल का खर्च पॉलसी की तरफ से दिया जाता है। तथा गैर icu कमरे में रहने पर आप को वार्षिक लाभ के तहत ₹20000 दो परसेंट की दर से दिए जाते हैं ।

₹20000 5 दिनों के लिए आईसीयू बेड के लिए दिए जाते हैं। यानी की गंभीर स्थिति में आप को 5 दिनों के लिए ₹20000 का बीमा कवर दिया जाता है। सबसे अच्छी बात यह है कि यदि पाल्सी धारक किसी भी बीमारी के वजह से अस्पताल में भर्ती हो रहा है तो उसको 24 घंटे के अंदर बीमा पॉलिसी का भुगतान किया जाएगा ।

इसके साथ ही राइटर भी लिया गया है।

इंडक्शन बेनिफिट राइटर के तौर पर पॉलिसी धारक  को मिलता है जिसका लाभ पॉलसी धारक को बोनस के रूप में मिलता है । इस राइडर का लाभ होता है। कि यदि आपने जितना भी निवेश किया है उसके पहले एनिवर्सरी में 10 परसेंट आपके जमा की गई रकम का बढ़ जाता है।

बीमा राशि के तहत मूवी बीमा राशि में दो सौ पर्सेंट का इजाफा होता है इस स्कीम के तहत क्लेम करने पर बढ़ती हुई राशि रुक जाती है तथा इसमें कोई वृद्धि नहीं होती आप की रकम में फायदा जरूर होगा। महत्वपूर्ण दस्तावेज में आवेदक को देने होते हैं। आवेदन करने से पहले पॉलिसी खरीदने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज की जरूरत पड़ती है इस को साथ ले जाना ना भूलें नहीं तो पाल्सी खरीदने का लाभ नहीं मिलेगा।

 

एचडीएफसी लाइफ कार्डियक केयर बीमा पॉलिसी प्लान एचडीएफसी जीवन सम्पूर्ण समृद्धि प्लस हिंदी में योजना के विवरण एचडीएफसी लाइफ सुपर इनकम प्लान 50 लाख का टर्म इंश्योरेंस का प्रीमियम एचडीएफसी जीवन की गारंटी पेंशन योजना एचडीएफसी बीमा कंपनी एचडीएफसी लाइफ क्या है एचडीएफसी एर्गो क्या है एचडीएफसी लाइफ प्रोग्रोथ प्लस

Leave a Reply

Your email address will not be published.