मुहांसों के लक्षण उपचार और बचाव के तरीके

मुहांसों के लक्षण उपचार और बचाव के तरीके

आज के समय में आपको हर दूसरे लड़के या लड़की के मुंह पर मुंहासे दिख जाएंगे और यह किसी भी सुंदर इंसान की चेहरे को  खराब कर सकते हैं वैसे तो मुहासे किशोरावस्था की शुरुआत से होने लगते हैं लेकिन कुछ लोगों में यह किशोरावस्था से पहले भी हो जाते हैं जिससे आज के समय में हर कोई परेशान है लेकिन कई बार मुहासे इतनी ज्यादा मात्रा में हो जाते हैं कि उनसे छुटकारा पाना बहुत ज्यादा मुश्किल होता है .

इतनी ज्यादा मात्रा में और ज्यादा मात्रा में मुंहासे हो जाने के कारण उस व्यक्ति का चेहरा बिल्कुल खराब हो जाता है लेकिन ऐसा नहीं है कि इन मुहांसों का कोई भी इलाज या दवाई नहीं होती लेकिन कुछ ऐसे लेकिन कुछ ऐसे कारण भी होते हैं या इनसे छुटकारा नहीं पाया जा सकता इस ब्लॉक में हम मुहांसों से होने वाली परेशानी को उनके बचाव इनके लक्षण और इनके उपचार आदि के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं.

मुहासे किन किन कारणों से होते हैं

सबसे पहले बात करेंगे हम कि आखिरकार मुहासे किन किन कारणों से हो सकते हैं वैसे तो मुंहासे होने के बहुत सारे कारण होते हैं लेकिन मुंहासे होने का सबसे प्रमुख कारण जैसे युवावस्था के हार्मोन्स की अधिकता, पेट खराब रहना, खून के विकार, मिर्च-मसालेदार, खटाई से बनी हुई चीजें आदि खाना कई बार हमारी त्वचा का ज्यादा गंदा रहना, या ज्यादा मात्रा में स्किन प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना, विटामिंस की कमी आना और ज्यादा तली हुई चीजों का सेवन करना, ज्यादा हस्तमैथुन करना, ज्यादा एडल्ट फिल्में देखना, गर्भाशय की खराबी, मासिक धर्म की खराबी, ज्यादा मात्रा में कॉफी ,शराब या नशीले पदार्थों का सेवन करने से भी आपके चेहरे पर मुंहासे हो सकते हैं इसके अलावा और भी मुंहासे होने के और भी कई कारण हो सकते हैं

मुहांसों के लक्षण

अब इसके बारे में जानना बहुत जरूरी है कि मुहांसों के कौन-कौन से लक्षण होते हैं क्योंकि कई बार हमारे चेहरे पर कुछ दिन के लिए भी फोड़े फुंसी हो जाते हैं लेकिन मुंहासे अक्सर बहुत ज्यादा लंबे समय तक रहते हैं इसलिए इसकी कारणों को जानना बहुत जरूरी है

अगर आपको मुहांसों की समस्या होती है तब उस स्थिति में अक्सर आपके चेहरे पर छोटी-छोटी फुंसियां निकल जाती है पहले फुंसियां लाल रंग की होती है जो कि बहुत ज्यादा दर्द भी करती है और यह धीरे-धीरे बढ़ने लगती है फिर इनके अंदर पीप आना शुरू हो जाती है जिससे फुंसियों का रंग सफेद हो जाता है और मुंहासे होने लगते हैं और जब पीप आने लगती है और फिर इनके अंदर से बिल्कुल छोटे छोटे कांटों के जैसे कील निकलती है और उसके बाद ही मुहासे ठीक होने लगते हैं लेकिन कई बार यही मुंहासे दोबारा फिर से निकलने लगते हैं और कई लोगों को यह समस्या बार-बार होने लगती है जिससे उस व्यक्ति का चेहरा बहुत ज्यादा खराब हो जाता है और इन मुहांसों के निशान भी रहने लगते हैं और इसके अलावा कब्ज, मुंह से दुर्गंध, जीभ पर मैल आदि देखने को मिलते हैं

क्या क्या नहीं खाना चाहिए

अगर आपको मुहांसों की समस्या है तो उस स्थिति में आपको क्या क्या नहीं खाना चाहिए क्योंकि मुहासे कई बार गलत चीजों का सेवन करने से भी हो सकते हैं

  • आज के समय में ज्यादातर बीमारियों का सबसे बड़ा कारण तली भुनी हुई चीजें होता है तो आपको अपने भोजन के अंदर कम से कम तली भुनी हुई चीजों को शामिल करना चाहिए
  • आपको फास्ट फूड से परहेज करना चाहिए
  • सफेद चीनी और मैदे आदि से बनी हुई चीजों को नहीं खाना चाहिए
  • ज्यादा उत्तेजक चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए जैसे ज्यादा कड़क चाय, कॉफी, मांस, मछली, अंडा, शराब, तंबाकू आदि
  • आपको ज्यादा बिस्किट, चॉकलेट, पेस्ट्री, अचार, कोल्ड ड्रिंक भी आदि नहीं खाना चाहिए
  • आपको आपको ज्यादा गर्म चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए

क्या क्या खाना चाहिए

अगर आपको मुहांसों से संबंधित समस्या हो जाती है तब आपको उस स्थिति में किस तरह का भोजन खाना चाहिए

  • आपको ज्यादा भारी खाना नहीं खाना चाहिए और आपको संतुलित आहार लेना चाहिए
  • आपको अपने भोजन के अंदर अंकुरित गेहूं, चना, मूंग, मसूर, अरहर आदि की दालों आदि को शामिल करना चाहिए
  • आपको ज्यादा मात्रा में खट्टे फल खाने चाहिए जैसे आम अंगूर पपीता सेब संतरा नींबू मौसमी और नारंगी आदि
  • आपको सबसे ज्यादा कच्ची सब्जियां जैसे गाजर, मूली, पालक, सरसों, सरगम, मेथी, पत्ता गोभी, ककड़ी आदि का सेवन करना चाहिए
  • आपको दूध, दही, पनीर, मूंगफली, काजू, बादाम, पिस्ते आदि का सेवन करना चाहिए

रोग निवारण में सहायक उपाय

आपको मुंहासे हो जाते हैं तब आपको क्या-क्या करना चाहिए और क्या क्या नहीं करना चाहिए क्योंकि कई बार गलत चीजों का इस्तेमाल करने या गलत चीजों के खाने से आपके मुंहासे और ज्यादा बढ़ जाते हैं और फिर आपको बहुत दिक्कत होती है

आपको क्या-क्या करना चाहिए

  • आपको अपने चेहरे को गर्म पानी की भाप से सेकना चाहिए और मुंह धो कर तोलिए से रगड़कर साफ़ करना चाहिए
  • आपको बोरिक लोशन के साथ पकी हुई फुंसियों को धीरे-धीरे साफ करना चाहिए
  • आपको सुबह सुबह बाहर खुली हवा में घूमना चाहि
  • हमेशा सोने से पहले अपने चेहरे पर जैतून का तेल, दूध की मलाई या जायफल का दूध के साथ पेस्ट बनाकर लगाना चाहिए
  • ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीना चाहिए जिससे आपको कब्ज की समस्या नहीं रहेगी क्योंकि मुंहासे कब्ज के कारण भी हो सकते हैं
  • आप अपने चेहरे पर मुल्तानी मिट्टी को भी ठंडे पानी में भिगोकर लगा सकते हैं
  • आपको एलोवेरा को अपने मुंह पर लगाना चाहिए

क्या क्या नहीं करना चाहिए

  • आपको मुहांसों को गंदे हाथों से छूना नहीं चाहिए
  • एडल्ट फिल्में या स्टोरी आदि नहीं देखनी चाहिए
  • अपने चेहरे पर ज्यादा स्किन प्रोडक्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
  • आपको ज्यादा नशीले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए जैसे शराब खैनी पान गुटखा आदि

आपके चेहरे पर मुंहासे हो जाते हैं तब आप कुछ आयुर्वेदिक दवाइयों या जड़ी बूटियों का इस्तेमाल करके भी इनसे छुटकारा पा सकते हैं इसके अलावा नीचे हमने आपको कुछ दवाइयों के बारे में भी बताया है जिनको आप डॉक्टर की सलाह के बाद इस्तेमाल भी कर सकते हैं.

मुहांसों की आयुर्वेदिक दवा

आयुर्वेदिक दवा लेने के वैसे तो बहुत सारे फायदे होते हैं क्योंकि आयुर्वेदिक दवाओं के नुकसान ना के बराबर होते हैं. अगर आप किसी अच्छे डॉक्टर की देखरेख में आयुर्वेदिक दवा का उपयोग करेंगे तो आपको कोई भी नुकसान नहीं होता है. और किसी भी दवा का उपयोग करने के साथ-साथ आपको खाने पीने का भी ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है क्योंकि मुहांसों के होने का सबसे बड़ा कारण आपका खान-पान ही होता है. तो नीचे आपको कुछ आयुर्वेदिक दवाइयों के नाम बताए गए हैं. लेकिन इनका उपयोग करने से पहले किसी वैद्य की सलाह जरूर लें.

  • रक्तशोधन वटी (वैद्यनाथ)
  • पुरीला लिक्विड (चरक)
  • बुसिस पेय (ब्रुक लैण्ड)
  • साफी (हमदर्द)
  • नीमी कैपसूल (ट्रियो) पूरीअप पेय (धन्वन्तरि)
  • रदोना सीरप (सोलमिक्स)
  • सारिवाकल्प (स्वदेशी)
  • सारिवा सीरप

मुँहासे की होम्योपैथिक दवा मुँहासे के लिए सबसे अच्छी क्रीम चेहरे से कील मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय पतंजलि पिम्पले क्रीम मुहासे के दाग हटाने के उपाय कील की दवा मुंहासे हटाने के उपाय पिंपल हटाने का घरेलू उपाय

Leave a Comment