मुंह के लकवे के कारण लक्षण बचाव व उपचार

मुंह के लकवे के कारण लक्षण बचाव व उपचार

हमारे दैनिक जीवन में हमें बहुत सारी ऐसी खतरनाक बीमारियों का सामना करना पड़ता है जिनसे कई बार इंसान की मौत भी हो जाती है और अगर किसी इंसान की मौत नहीं होती तो वह पूरे जीवन भर उसी बीमारी के कारण बहुत ज्यादा परेशान रहता है आपने सुना होगा कि बहुत सारे लोगों के शरीर में लकवा आ जाता है जो कि एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है

लेकिन कई लोगों के मुंह में भी लकवा आता है जिससे रोगी को बोलने, खाने पीने व बातचीत करने में बहुत सारी परेशानी आती है तो इस ब्लॉग में हम मुंह के लकवे के उत्पन्न होने के कारण, लक्षण, बचाव व इसके उपचार आदि के बारे में विस्तार से बातें करने वाले हैं.

मुंह का लकवा

हमारे पूरे शरीर में मांसपेशियों का जाल बिछा हुआ है और हमारा पूरा शरीर मांसपेशियों के कारण ही गतिविधियां करता है लेकिन जब हमारे मुंह के आसपास की मांसपेशियां किसी कारण काम करना बंद कर देती है या काम करना कम कर देती है तब इस समस्या को मुँह के लकवे के नाम से जाना जाता है मुंह में लकवा होने पर रोगी का मुंह एक तरफ खींचा हुआ नजर आता है व रोगी को बोलने, हंसने खाने-पीने व मुंह खोलने आदि में समस्या आती है और कई लोगों में लगवा इतना खतरनाक होता है कि वह अपना मुंह भी नहीं खोल पाता और इससे रोगी की चेहरे की मांसपेशियां बिल्कुल कमजोर व ढीली नजर आती है और रोगी के चेहरे की मांसपेशियां लटक जाती है वैसे तो लकवा हमारे मुंह के किसी भी साइड आ सकता है और ज्यादातर लकवे की समस्या 30 वर्ष से ऊपर की आयु के लोगों में देखी जाती है लेकिन कई बार यह समस्या कम उम्र की आयु के इंसानों में भी आ जाती है हमारे समय पर ध्यान देने व तुरंत इलाज मिलने पर चेहरे के लकवे को कम या ठीक भी किया जा सकता है लेकिन अगर इसका समय पर इलाज न हो पाए तो यह आगे बढ़ सकता है

कारण

अगर मुंह की लकवे के कारणों के बारे में बात की जाए तो इस समस्या के कई मुख्य कारण होते हैं जैसे चेहरे के ऊपर गहरी चोट लगना, रोगी के चेहरे की मांसपेशियां कमजोर होना, रोगी की मांसपेशियों में किसी प्रकार की क्षति पहुंचाना, रोगी की खोपड़ी में गर्दन की हड्डी में चोट या फैक्चर आना, रोगी की गर्दन या सिर में ट्यूमर होना, रोगी के कान में संक्रमण होना, कान के आसपास गहरी चोट लगना, रोगी को लाइम रोग होना, रोगी की रीड की हड्डी में गहरी चोट लगना, हमारे मस्तिष्क में सभी मांसपेशियों को नियंत्रण करने वाली मांसपेशियों में रुकावट आना, आदि इस समस्या के मुख्य कारण होते हैं इसके अलावा इस समस्या का सबसे मुख्य कारण हमारे चेहरे के आसपास की मांसपेशियों को कमजोर होना या उनमें किसी प्रकार की दिक्कत आना ही होता है वह चाहे किसी भी कारण से आए

लक्षण

जब किसी इंसान के चेहरे के ऊपर लकवा आता है तब इससे रोगी के चेहरे पर कई लक्षण दिखाई देते हैं जैसे रोगी का चेहरा एक तरफ से टेढ़ा होना, रोगी को खाने पीने, बोलने, मुंह खोलने, बात करने आदि में परेशानी होना, रोगी के चेहरे की मांसपेशियां ढीली होना, रोगी की मांसपेशियां लटक जाना, रोगी को मुंह खोलने में समस्या आना, रोगी का तुतला कर बोलना, रोगी के मुंह से आवाज बिल्कुल भी ना निकलना, रोगी की आवाज सही से समझ न आना, रोगी के मुंह से लार टपकना, रोगी के कानो व कान के आसपास के हिस्सों में दर्द होना, रोगी का सवाद की भावना को महसूस न कर पाना, रोगी का बोलते समय एक पलक का झपकना, रोगी को हंसते बोलते समय एक आंख बंद हो जाना, रोगी की गर्दन टेढ़ी रहना आदि की समस्या के मुख्य लक्षण होते हैं इसके अलावा रोगी के लक्षण उसके चेहरे के ऊपर लकवे का कितना असर है इसके ऊपर निर्भर करता है

बचाव

अगर आप इस समस्या से बताना चाहते हैं तब आपको कुछ ऐसी चीजें का ध्यान रखना बहुत जरूरी है जो कि आप को इस समस्या से बचा सकती है जैसे

  • आप को नियमित रूप से साइकिलिंग, जोगिंग, योगा, प्राणायाम आदि करने चाहिए
  • आपको अपने चेहरे के ऊपर चोट लगते ही तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए
  • अगर आपके चेहरे के आसपास या कानो आदि में संक्रमण हो जाता है तब आपको तुरंत डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए
  • आपको ज्यादा बीड़ी सिगरेट तंबाकू मीट मछली व नशीली चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए
  • आपको घी व घी से बने हुए खाद्य पदार्थों का सेवन कम कर देना चाहिए
  • आपको ज्यादा तले भुने हुए वह मिर्च मसालेदार भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए
  • आपको फास्ट फूड से परहेज करना चाहिए
  • आपको मिलावटी खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए
  • आपको ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए
  • आपको गाजर, मूली, शलगम, हरी मटर जैसी चीजों का सेवन जरूर करना चाहिए
  • आपको सभी प्रकार के फल फ्रूट नियमित रूप से खाने चाहिए
  • आपको अपने चेहरे के ऊपर लकवे के लक्षण दिखाई देते ही तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर के पास जाना चाहिए
  • आपको लकवे के लक्षण दिखाई देते ही अपने सिर का टेस्ट जरूर करवाना चाहिए

उपचार

अगर आपके चेहरे पर लकवा आ जाता है तब आप इसके लिए कुछ ऐसी घरेलू चीजों या आयुर्वेदिक चीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं जिनसे आप को इस समस्या से छुटकारा पाने में मदद मिलती है जैसे

  • आपको हर रोज अरंड के तेल को गर्म करके दूध में डालकर सुबह शाम सेवन करना चाहिए
  • आपको अमलतास के पत्तों का रस निकालकर सुबह शाम मुंह के ऊपर अच्छी तरह मालिश करनी चाहिए
  • आपको हर रोज रात में सोते समय दूध में छुहारे उबालकर खाने चाहिए व उबली हुई दूध को पीना चाहिए
  • आपको हर रोज अपनी नाक में देसी घी की दो दो बूंदे डालनी चाहिए
  • आपको सेब, अंगूर, नाशपाती के रस को बराबर मात्रा में मिलाकर हर रोज एक गिलास रस का सेवन करना चाहिए
  • आपको ज्यादा से ज्यादा प्याज का सेवन करना चाहिए या आप प्याज के रस का भी सेवन कर सकते हैं यह भी लकवे के रोगी के लिए बहुत फायदेमंद होता है
  • आपको तुलसी के पत्तों को दही और सेंधा नमक के साथ अच्छी तरह मिलाकर लकवे से ग्रस्त अंगों पर लेट लगाना चाहिए इससे भी आपको फायदा पहुंचता है
  • आपको हर रोज गर्म पानी में तुलसी के पत्तों को उबालकर इसकी भाप से लकवे से ग्रस्त अंगों को सेंकना चाहिए
  • आपको करेले की सब्जी या करेले के रस का सेवन करना चाहिए इससे भी आपको लकवे के ऊपर नियंत्रण पाने में मदद मिलती है
  • आपको हर रोज लहसुन को पीसकर मक्खन के साथ मिलाकर खाना चाहिए इससे भी आपके लकवे में राहत मिलती है

लेकिन अगर आपके चेहरे के ऊपर लकवा आ जाता है तब आप उस तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर के पास जाना चाहिए वह अपने शरीर के टेस्ट आदि करवा कर अच्छे से दवाइयां लेनी चाहिए क्योंकि यह एक ऐसी समस्या है जो आपके पूरे शरीर को भी कब्जे में कर सकती है इसलिए इस समस्या के होने पर आपको देरी बिल्कुल भी नहीं करनी चाहिए

मुंह के लकवे के कारण लक्षण बचाव व उपचार लकवे के लक्षण और उपाय पैरालिसिस अटैक के लक्षण लकवा का अंग्रेजी दवा मंत्र से लकवा बीमारी का इलाज मुंह में लकवा का इलाज लकवा का देसी इलाज फेस पैरालिसिस रिकवरी टाइम लकवा का कारण

Leave a Comment