आयात निर्यात किसे कहते हैं आयात निर्यात बिजनेस प्लान

आयात निर्यात किसे कहते हैं आयात निर्यात बिजनेस प्लान

आजकल का जमाना ऐसा हो गया है कि हर चीज यहां से वहां पर जाने में कोई परेशानी नहीं होती कोई भी चीज हमारे यहां होती है उसे हम दूसरे देश में भेजते हैं और दूसरे जैसे हम अपने देश ले आते हैं। किसी को आया किया जाता है जो चीज हमारे यहां ज्यादा पैदावार होती है हम दूसरे देशों में निर्यात किया जाता है। दूसरे देशों में जो चीज हमारे यहां कम पैदा होती है उसे दूसरे देशों से आयात किया जाता है इस बिजनेस को आयात निर्यात ने कहा जाता है.

आपके पास जो भी उत्पादन हो रहा है उसे बेंच कर बिक्री करना चाहते हो उसे रेजिस्ट्रेशन करवा कर सरकार को बेंच सकते हैं सरकार उसे दूसरे देशों में निर्यात कर देती है। यदि आप कोई बिजनेस के बारे में कोई जानकारी नहीं है बताने वाले हैं कि आप कैसे बिजनेस कर सकते हैं। और घर घर बैठे अच्छी खासी रकम मोटी रकम कमा सकते हैं। यदि आपको जानना है आयात निर्यात बिजनेस क्या है कैसे कमाई होगी कितनी कमाई होगी यदि आपको जानना है तो आज हम आपको बताएंगे कि आप कैसे अपना प्रोडक्ट निर्यात कर के फायदा उठा सकते हैं जानने के लिए बने रहे हमारे साथ चलिए शुरू करते हैं.

आयात निर्यात किसे कहते हैं

what is import export business plan – आयात निर्यात बिजनेस प्लान का मतलब होता है कोई वस्तु हमारे पास ज्यादा है तो उसे दूसरे देश में भेज देते हैं और जो चीज कि हमें कमी होती है हम से दूसरे देश में मंगवा लेते हैं। यही आयात निर्यात बिज़नेस होता है।आपके पास ज्यादा किसी चीज की पैदावार है तो उसे आप रजिस्ट्रेशन करवा कर सरकार के माध्यम से दूसरे देश भिजवा सकते हैं। दूसरे देशों में अपना सामान बेचने पर ज्यादा अधिक इनकम होती है इसीलिए लोग आयात निर्यात बिजनेस करते हैं। यह आयात निर्यात बिजनेस बहुत फायदेमंद होता है। निर्यात में हम दूसरे देशों में अपना सामान भेज कर अच्छी काफी महंगे दामों पर मुनाफा कमाते हैं इस बिजनेस में बहुत से लोग जुड़े हैं। और बेंच मोटी रकम कमा रहे हैं। भारत सरकार भी मौका देती है कि आप अपना सामान रजिस्टर करवाइए और हम उसे प्रमोट करके विदेशों में भिजवा कर आपको अच्छे दामों पर उपलब्ध कराएंगे।

आपके सामानों के दाम दोगुना बेंच करके देंगे यह काम बहुत दिनों से चलता आया है हमेशा से ऐसा होता रहा है कि जो भी चीज की कमी हमारे देश में होती है उसे हम दूसरे देशों से आयात करते हैं। तथा जो चीज हमारे देश में ज्यादा होती है उसे निर्यात कर देते हैं या बिजनेस प्लान करके आप ही मोटी रकम कमा सकते हैं क्योंकि केवल रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है इसके बाद आप अपने निर्यात कर सकते हैं और 2 गुना मुनाफा कमा सकते हैं। आया था उनकी दुआ करते हैं कि हमारे देश में बहुत ही कमी होती है। निर्यात उसको करते हैं जो हमारे देश में ज्यादा पैदावार होती है  बस यही है बिजनेस प्लान आयात निर्यात का बिजनेस करना थोड़ा मुश्किल है किंतु आप ने शुरु कर दिया तो अच्छी कमाई करने से आपको कोई नहीं रोक सकता।

 कैसे शुरू करें आयात निर्यात बिजनेस प्लान

how to start import export business plan – आयात निर्यात बिजनेस करने  के लिए आपके पास पर्याप्त प्रोडक्ट होनी चाहिए जिस भी प्रोडक्ट को आप दूसरे देशों में भेजना चाहते हैं उसकी मात्रा अधिक होनी चाहिए इसके लिए आपको रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा उसके बाद अपना काम शुरू कर सकते हैं और दुगना मुनाफा कमा सकते हैं।

बिना रजिस्ट्रेशन के बिजनेस नहीं किया जा सकता है आपको रजिस्ट्रेशन के लिए आपको proprietor and partnership privet limited company के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करवाना होता है उसके बाद ही आप बिजनेस को कर सकती हैं चाय पर हारे स्टेशन करवा सकता है यदि उसके पास रेजिस्ट्रेशन करने का कोई जुगाड़ नहीं है तो जिला के उद्योग के विभाग से रजिस्ट्रेशन करवा सकता है।

महत्वपूर्ण आवेदन प्रक्रिया

आवेदन करने के लिए आईईसी में जाकर डायरेक्ट अप्लाई कर सकता है iec में रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए प्रोसेस होते हैं उन्हें फॉलो करना होता है। बाकी सब रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद उसने इंपोर्ट एक्सपोर्ट कोड की जरूरत पड़ती है। यह कोड उन्हें एबिलिटी देता है। कि आप अपना सामान अपना प्रोडक्ट इंपोर्ट एक्सपोर्ट कर सकते हैं। यह विदेशी निदेशालय के द्वारा दिया जाता है जिसको शार्ट में dgft कहां जाता है यह संस्था भारत के वाणिज्य विभाग के अंतर्गत काम करती है।

कोड नंबर 10 अंकों का होता है इसे प्राप्त करने के बाद आप योग्यता पा लेते हैं अपने प्रोडक्ट को निर्यात करने के लिए आप योग्य हो जाते हैं। इस काम को करने से पहले तक हर चीजों पर बहुत ही ध्यान देना पड़ता है नियम कायदे कानून के हिसाब से आपको अप्रूवल मिलता है। आपको भारत सरकार द्वारा दिए गए मापदंडों द्वारा बोर्ड को हासिल करना पड़ता है। इसमें किसी भी प्रकार की कोई दलाली  का कोई रोल नहीं रहता Iec कोड पाने के लिए यदि आप सरकार के नियमों साथ चलेंगे तो आपको जल्दी ही अप्रूवल मिल जाएगा। इस कोड को लेने के लिए आपको विदेश महानिदेशालय में संपर्क करना पड़ता है वहीं पर आपको अप्रूवल दिया जाएगा।

इस प्रक्रिया में लगने वाला महत्वपूर्ण दस्तावेज होते हैं

  • जिन्हें जमा करना पड़ता है तभी कोड मिलता है
  • उन दस्तावेजों में आपका पैन कार्ड
  • कंपनी का रजिस्ट्रेशन
  • कंपनी से जुड़ी जानकारियां
  • कंपनी की दस्तावेज की फोटो कॉपी,
  • अप्लिकेन्ट
  • बिजनेस करंट अकाउंट

की आवश्यकता पड़ती है यह डॉक्यूमेंट को जमा करने पड़ेंगे तभी आपको मिलेगा।

रेजिस्ट्रेशन cum membership सर्टिफिकेट

आवेदक को आई ई सी iec कोड मिल जाने के बाद वह  रेजिस्ट्रेशन cum membership सर्टिफिकेटके लिए रिजवान हो जाता है जिसके बाद उसे एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल द्वारा रजिस्ट्रेशन प्राप्त हो जाता है और वह सपोर्ट करने के लिए मान रहे हो जाता है।

आप को बिजनेस को करने के लिए जीएसटी नंबर की जरूरत पड़ती है

यह जीएसटी नंबर आप किसी चार्टर्ड अकाउंटेंट से आसानी से बनवा सकते हैं कुछ पैसे जरूर लगता है किंतु यह प्रक्रिया भी बहुत जरूरी है। बड़ी आसानी से आप ऑनलाइन माध्यम से जीएसटी नंबर बनवा सकते हैं और इसकी पेमेंट आप ऑनलाइन पर कर सकते हैं।

प्रोडक्ट बेचने के लिए ई-कॉमर्स शिपिंग कंपनी को हायर करना पड़ता है

यह कंपनी आपके प्रोडक्ट को एक देश से दूसरे देश तक ले जाने का काम करती है इसके लिए आपको उनको हायर करना पड़ेगा सबसे अच्छी ई-कॉमर्स शिपिंग कंपनी की बात करें तो shiprocket को माना जाता है जिस पर 25000 से अधिक आयात निर्यात करने वाली कंपनियां भरोसा करती है।

मुझे उम्मीद है आपको यह आर्टिकल आयात निर्यात बिजनेस प्लान को पढ़कर बिजनेस की सारी जानकारियां प्राप्त हो गई होगी यदि आपको यह फ़िक्र पसंद आए तो इसे आप भी शुरू कर सकते हैं यदि आपके पास काफी मात्रा में कोई भी समान किसी भी प्रकार का उत्पादन वाले समान हैं तो आप सरकार में रजिस्ट्रेशन करवा कर अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं और मोटी रकम कमा सकते हैं।

भारत से निर्यात की जाने वाली वस्तुएं कैसे पैसे के बिना निर्यात कारोबार शुरू करने के लिए कैसे भारत में आयात निर्यात व्यापार शुरू करने के लिए हिंदी में निर्यात आयात किताब निर्यात आयात प्रक्रियाओं और हिंदी पीडीएफ में दस्तावेज़ीकरण भारत का आयात-निर्यात आयात निर्यात किसे कहते हैं आयात निर्यात लाइसेंस फीस

Leave A Reply

Your email address will not be published.