अश्वगंधा खाने के फायदे व नुकसान

अश्वगंधा खाने के फायदे व नुकसान

प्राचीन समय से ही भारत में आयुर्वेद जड़ी बूटियों का प्रचलन हो रहा है भारत में बहुत सारे आयुर्वेद पैदा हुए हैं उन्होंने भारत की धरती पर से अनेक प्रकार की जड़ी बूटियों की खोज करके बहुत सारी  दवाई बनाई है और लोगों को ठीक किया है वैसे तो भारत के अंदर बहुत अलग अलग तरह की जड़ी बूटियों से दवाई बनाई जाती है और यह आज से नहीं बल्कि पिछले लगभग 5000 साल वर्षों से होता आ रहा है पहले आयुर्वेदिक दवाओं का प्रचलन बहुत ज्यादा होता था क्योंकि उस समय डॉक्टर या आज के समय की मेडिसिंस नहीं थी उस समय सिर्फ गई जड़ी बूटियों से बनाई दवाई से ही लोगों को ठीक किया जाता था और चाहे किसी भी प्रकार की बीमारी हो या किसी भी प्रकार की कोई अन्य दिक्कत हो तो जड़ी बूटियों से बनाई हुई दवा ही दी जाती थी और उन्ही जड़ी बूटियों के अंदर एक ऐसा पौधा है जो कि आज तक जीवित है

उस पौधे का नाम अश्वगंधा है अश्वगंधा पौधा बहुत ही गुणकारी पौधा माना जाता है यह प्राचीन काल की जड़ी बूटियों में से एक पौधा है यह बहुत पहले से ही काम में लिया जा रहा है इस पौधे से बहुत से लोगों की जानें बचाई गई और आज भी यह पौधा आयुर्वेद दवा को बनाने की काम में लिया जा रहा है

अश्वाघंदा एक बहुत ही पुराना पोधा है। इसके द्वारा बहुत प्रकार की दवाए तेयार की जाती है। इसका नाम अश्वगंधा इसलिए रखा है क्योकि इसके तनों व पतों से घोड़े के मूत्र की दुर्गंद आती है। इस पोधे को बहुत लाभदक व गुणकारी माना जाता है। इसके द्वारा कई प्रकार के केप्सूल व पावडर बनाये जाते है। अश्वगंधा के अंदर सबसे ज्यादा रसायन इसके जड़ के अंदर पाया जाता है। कई छेत्रों में अश्वाघंदा की खेती भी की जाती है। अश्वगंधा की जड़ 6000 रूपए प्रति क्विंटल व इसका बीज 50 रूपए प्रति किलो है। इसकी ऊंचाई 170 सेंटीमीटर होती है। यह लाल रंग व टमाटर जैसा होता है।

अश्वगंधा का इस्तेमाल दवाई के रूप में कई सालों से हो रहा है। यह एक बहुत ही फायदेमंद दवाई है। जिससे की बहुत सारी परेशानियां और बीमारियों का इलाज बड़ी आसानी से हो जाता है। लेकिन इसका उपयोग एक सीमा तक करने पर ही यह फायदेमंद है। अगर उस सीमा से ज्यादा इसका इस्तेमाल किया जाए तो यह आपके लिए बहुत ही नुकसानदायक भी हो सकती है। आज हम आपको बताने वाले हैं असवगंधा खाने के फायदे और नुकसान।

यौन शक्ति बढ़ाये

अगर आप अश्वगंधा का इस्तेमाल करते हैं तो आपके शरीर में एक नया जोश उत्पन्न होता है सेक्स के दौरान किसी भी तरह की समस्या अगर आप को आती हैं तो आपको निश्चित ही अश्वगंधा का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि यह सेक्स से संबंधित बहुत चाहिए बीमारी को दूर करता है अगर आप सेक्स के दौरान थक जाते हो तो आप को अश्वगंधा इस्तेमाल जरूर करना चाहिए क्योंकि इससे इस्तेमाल करने से आप का वीर्य बहुत जल्दी बनता है और अगर आप जल्दी थक जाते हैं तो थकान भी दूर करता है और इससे आपका शरीर भी तंदरुस्त रहता है और आजकल जो सेक्स से संबंधित दवाइयां आती है उनमें अश्वगंधा का बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है अश्वगंधा का तेल भी आता है जिस से मालिश करने पर आप के रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है.

चेहरे की झुर्रियां मिटाए

National Institute of Advance Science & Technology के साइंटिस्ट ने द्वारा बताया गया कि उनकी एक रिसर्च के दौरान उन्होंने पाया है कि अगर कोई आदमी लगातार अश्वगंधा का सेवन करता है तो वह चेहरे पर होने वाली झुरियां से बच सकता है और यदि अश्वगंधा के चूर्ण को तेल में मिलाकर चर्म रोग के ऊपर लगाया जाए तो उसमें भी उसका बहुत फायदा मिलता है

अश्वगंधा के हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदे

अगर आप अश्वगंधा का नियमित रूप से शेयर करते हैं तो यह आपकी शरीर में सूजन को कम करने में मदद करता है और यह आपके शरीर में तनाव और रक्त के कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है एक रिसर्च के दौरान पाया गया है कि यह रक्त के कोलेस्ट्रॉल को नीचे लाता है और इसके अलावा इसके मानव शरीर में बहुत से फायदे मिलते हैं

अश्वगंधा है घाव भरने में उपयोगी

अगर आपके शरीर पर कहीं भी चोट लगे या घाव हो तो आप अश्वगंधा की जड़ को पीसकर पानी के साथ मिलाकर उसका चिकना पेस्ट बना लें और उसको फिर घाव की जगह पर लगाएं इससे आपको घाव में निश्चित ही फायदा मिलता है और आप को दर्द से भी राहत मिलती है.

टी.बी. रोग में फायदेमंद

अगर किसी को टीवी की बीमारी है तो उसको लगातार अश्वगंधा का सेवन करना चाहिए यह टीवी की बीमारी में बहुत ही फायदेमंद साबित होता है और यदि आपको सांस की बीमारी है तो अश्वगंधा को शहद और घी में मिलाकर पीने से आपको राहत मिलती है और यह खांसी की बीमारी में भी बहुत ही फायदेमंद साबित होता है

पाचन क्रिया में फायदेमंद

अश्वगंधा के पेड़ के अंदर पेट को साफ करने की ताकत होती है अगर किसी को पेट में किसी भी प्रकार की दिक्कत है तो उसको अश्वगंधा खाना चाहिए अश्वगंधा हमारे पेट में होने वाली गैस को भी दूर करता है और यह पेट की दिक्कत के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है अगर आप इसका ज्यादा चयन करते हैं तो यह पेट के लिए नुकसान भी कर सकता है इसलिए आप इसका नियम के अनुसार ही सेवन करें.

अश्वगंधा है मधुमेह का इलाज

मधुमेह के रोगियों के लिए अश्वगंधा बहुत फायदेमंद साबित होता है अश्वगंधा बहुत पुराने समय से आयुर्वेद चिकित्सा का एक प्रमुख हिस्सा रहा है मधुमेह के उपचार के लिए यह बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है और इसके मधुमेह के रोगियों के उपचार में बहुत ही सकारात्मक परिणाम पाए गए हैं.

 अश्वाघंदा के लाभ

1. अश्वगंधा पोधे के पते हमारे तव्चा के रोगों से बचाते है।
2. अश्वगंधा शरीर पर सूजन को ठीक व घाव को भरता है।
3. अश्वगंधा के चूरन को दूध में मिला कर पीने से रक्त चाप ठीक रहता है।
4. इसके पाउडर को तेल में मिला कर बॉडी पर लगाने से तव्चा में निखार आता है।
5. इसके प्रयोग से हमारी यादास्त बढ़ती है व दिमाग मजबूत बनता है।
6. अश्वगंधा के सेवन से Sex Power बढ़ती है। वीर्य की गुणवत्ता बढ़ती है और वीर्य ज्यादा मात्रा में बनता है।
7. यह शरीर को बलशाली बनाता है।
8. यह कद बढ़ाने में भी मदद करता है।
9. इसके सेवन कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है।
10. यह मन को शांत रखता है।
11. जो लोग सम्भोग के दौरान जल्दी थक जाते हैं, यह उनके लिए भी एक बहुत हीं प्रभावशाली औषधी है।
12. यह हमारे शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ाता है।
13.जिन स्त्रियों की योनी से सफेद चिपचिपा पदार्थ निकलता है, उन्हें भी अश्वगंधा खाने से बहुत फायदा पहुंचाता है।
14.अश्वगंधा हमारे ब्लड शुगर लेवल को भी कम करने में मदद करता है। यह हमारे मसल सेल में इंसुलिन सेनसीवीटी को बढ़ाता है और कई स्टडीज के बाद पता लगाया है की अगर आप इसका इस्तेमाल 4 हफ़्तों तक करते हैं तो आपके खून में शुगर की मात्रा नॉर्मल हो जाती है।
15. अश्वगंधा को पाए जाने वाले मिनरल्स और विटामिन से हमें तनाव से मुक्त होने में मदद मिलती है। इससे ऐसे हॉर्मोंस निकलते है जिससे हमें तनाव से मुक्ति मिलती है।अश्वगंधा खाने पर 69 परसेंट नींद न आने की समस्या और तनाव पर रहने की समस्या दूर हो जाती है।
16. असवगंधा टेस्टेस्टोरॉन लेवल बढ़ाने और वीर्य की क्वालिटी बढ़ाने में मदद करता है। एक स्टडी के दौरान पता लगा है कि अगर असवगंधा को 3 महीने तक लगातार लिया जाए तो बच्चे न होने की समस्या से छुटकारा दूर हो जाती है।

 अश्वगंधा के नुकशान

1. इसके अधिक सेवन से नींद आने लगती है।
2. इसके अधिक सेवन से पेट रोग होने लगते है।
3. अश्वघंदा का अधिक सेवन शरीर को कमजोर करता है।
4. गर्भवती महिलाओं को इसका अधिक सेवन नुकसानदायक है।
5. दूसरी मडिसिन भी हमारे शरीर को नहीं लगती है।

हमने आपको इसके बारे में बताया है लेकिन फिर भी आप इसको लेने से पहले डॉक्टर की सलाह ले ले अगर आप का इसके बारे में कोई सवाल है तो आप कॉमेंट में लिख सकते है।

Tags :- अश्वगंधा के गुण अश्वगंधा चूर्ण के उपयोग अश्वगंधा के नुकसान पतंजलि अश्वगंधा के फायदे पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल अश्वगंधा चूर्ण पतंजलि अश्वगंधा का सेवन कैसे करे अश्वगंधा शतावरी

24 Comments

  • kya isase hair Problems thik hota hai?
    aur isase virya ki matra aur quality badhiya hoti hai?
    please help me…… i wait your comments. ….

  • I’hv been taking ASHWAGANDHA CHURN (along with other churanas)as per doctor’s prescription for one n half years as ayurvedic medicine over Kidney stone. Shall I hv to stop taking it?As I’m feeling weak

  • I’hv been taking ASHWAGANDHA CHURN (along with other churanas)as per doctor’s prescription for one n half years as ayurvedic medicine over Kidney stone. Shall I hv to stop taking it?As I’m feeling weak

  • Sir, hum avi jaundice kaa dwa khaa rahey the but,or thik ho gaya hai an mai weakness kaa medicine le raha hu,mai chaata hun ki. Ashwagandga kaa use karu. Kiu ki mujhey night fall hota hai or thik v ho gaya hai mera veerya……kya kare aap mujhe advice dey sir………my no.8538906264

  • Sir, hum avi jaundice kaa dwa khaa rahey the but,or thik ho gaya hai an mai weakness kaa medicine le raha hu,mai chaata hun ki. Ashwagandga kaa use karu. Kiu ki mujhey night fall hota hai or thik v ho gaya hai mera veerya……kya kare aap mujhe advice dey sir………my no.8538906264

  • I’m 16 year old and started taking ashwagandha power with milk at night for increasing my height from today only and I haven’t taken advice from doctor. Should it will not harmful for me in any manner.

  • I’m 16 year old and started taking ashwagandha power with milk at night for increasing my height from today only and I haven’t taken advice from doctor. Should it will not harmful for me in any manner.

  • आज हम पहली बार अस्वागन्ध चूर्ण का इस्तेमाल सेक्स समस्या को सॉल्व करने के लिए लिए थे रात में गर्म दूध के साथ लेकिन सुबह में मुझे गैस जैसा महसूस हो रहा है और पेट फूलने जैसा । तो क्या हम इसका इस्तेमाल करे या है अगर करे तो कैसे

  • आज हम पहली बार अस्वागन्ध चूर्ण का इस्तेमाल सेक्स समस्या को सॉल्व करने के लिए लिए थे रात में गर्म दूध के साथ लेकिन सुबह में मुझे गैस जैसा महसूस हो रहा है और पेट फूलने जैसा । तो क्या हम इसका इस्तेमाल करे या है अगर करे तो कैसे

  • मै आज ही इस चूर्ण को लाया हूँ और साथ में यौवनवती टेबलेट भी लाया हूँ ,तो मुझे बताये की इन दोनों का सेवन कैसे करना चाहिए ,क्या दोनों को एक साथ सेवन कर सकता हु

  • Sir
    Hum abhi pet Me gass ulti or lamjori se jujh rahe hai sarir me thora bhi takat nahi mil raha hai iske liye kya Kare

  • Sir
    Hum abhi pet Me gass ulti or lamjori se jujh rahe hai sarir me thora bhi takat nahi mil raha hai iske liye kya Kare

Leave a Comment