सीआइडी और सीबीआई क्या होती है What is CID and CBI In Hindi

सीआइडी और सीबीआई क्या होती है What is CID and CBI In Hindi

आज हम आपको इस पोस्ट में एक बहुत ही बढ़िया और महत्वपूर्ण जानकारी बताएंगे यह जानकारी जानना आपके लिए बहुत जरूरी है और शायद इस जानकारी के बारे में जानने की कोशिश आप पिछले कई दिनों से कर भी रहे होंगे लेकिन आप शायद उस जानकारी को पाने में नाकाम रहे हैं आज हम आपको इस पोस्ट में CID और CBI क्या होती है. इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे इस पोस्ट में हम आपको CBI क्या होती है. और CID क्या होती है. और इनके साथ साथ इनका क्या-क्या काम होता है.

यह किस तरह से काम करती है.और इन दोनों में क्या फर्क होता है. उसके बारे में पूरी जानकारी विस्तार से देंगे. जैसा कि आप सभी जानते हैं कि CID और CBI हमारे देश की दो जांच कंपनियां है. और इनका काम हमारे देश में अलग-अलग तरह से जांच करने का होता है. तो आज हम आपको इस में इस पोस्ट में पूरी जानकारी CID और CID के बारे में दे रहे हैं.और यह जानकारी आपके लिए जानना इसलिए जरूरी है क्योंकि CID और सीबीआई के बारे में कई बार आपके एग्जाम में कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं. तो उनके हिसाब से यह जानकारी आपके लिए जानना बहुत जरूरी है.  तो देखिए.

CID और CBI

CID के बारे में तो हमारा देश का बच्चा-बच्चा जानता है. क्योंकि CID के ऊपर हमारे देश में एक टीवी शो भी चलाया गया है. जिससे कि हमारे देश के हर नागरिक को पता चला है. कि CBI के बारे में लोग कुछ कम जानते हैं. तो मैं आपको बताता हूं कि CBI और CID क्या होती हैं. CID औ CID दो अलग-अलग जांच एजेंसियां है.यह दोनों अपने क्षेत्र के हिसाब से जांच करती है. CID एक राज्य के अंदर होने वाली किसी भी घटना की जाँच करती है. और यह राज्य सरकार के आदेश के अनुसार काम करती है. जबकि  का CBI पुरे देश में होने वाली अलग-अलग घटनाओं का जांच करने का काम होता है. इसको आदेश देने का अधिकार भारत सरकार, सुप्रीम कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के पास होता है.यानी CID और CBI का काम किसी भी तरह के घटना की जांच करना होता है. तो अब आपको पता चल गया है. कि यह दोनों का क्या काम है. अगर फिर भी आपको समझ में नहीं आया तो नीचे हम आपको इन दोनों के बारे में अलग अलग से जानकारी देंगे तो आप नीचे इस जानकारी को ध्यान से पढ़ें.

CID क्या होती है

तो सबसे पहले हम आपको बताते हैं. CID का पूरा नाम क्या होता है. CID का पूरा नाम अपराध जांच विभाग (Crime Investigation Department) होता है. CID एक राज्य में पुलिस का जांच और खुफिया विभाग होता है. इस डिपार्टमेंट को किसी की मौत, दंगे, अपहरण, चोरी आदि के काम दिए जाते हैं, CID की स्थापना पुलिस कमीशन की सिफारिश पर ब्रिटिश सरकार द्वारा 1902 में की गई थी और किसी भी पुलिस अधिकारियों को इसमें शामिल करने के लिए एक स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है. इस डिपार्टमेंट को किसी भी तरह की घटना की जांच करने का आदेश राज्य सरकार या कभी-कभी राज्य के हाईकोर्ट के द्वारा दिया जाता है.

इसकी स्थापना अधिक  से अधिक मामले सुलझाने के लिए की गई थी, ताकि लोगों का राज्य नागरिक पुलिस पर विश्वास और ज्यादा बढ़  सके। इस इकाई की स्थापना इसी लिए की गई थी कि यह स्वतंत्र रूप से मामलों की जांच कर सके CID में अधिकारीयों की नियुक्ति राज्य पुलिस सेवा से की जाती है. राज्य पुलिस के ही कांस्टेबल , दरोगा , और उच्च अधिकारी CID की टीम में चुने जाते हैं.और CID के अधिकारी कभी भी अपनी ड्रेस नहीं पहनते हैं बल्कि वह जब भी किसी भी घटना की या किसी अपराध की जांच करते हैं तो सादे कपड़े में रहते हैं जैसे आम लोग रहते हैं और ना ही वह कभी अपने दूसरे अधिकारी को सैल्यूट करेंगे CID के अधिकारियों पर राज्य के सभी कानून लागू होते हैं. यदि साधारण भाषा में कहें तो CID राज्य पुलिस का ही एक अंग होता है. जो कि खुफिया तरीके से किसी भी मामले की जांच करता है.

CBI  क्या होती है

सबसे पहले हम आपको बताते हैं. CBI का पूरा नाम क्या होता है. सीबीआई का पूरा नाम से केंद्रीय जांच ब्यूरो (Central Bureau of Investigation)होता है.केंद्रीय जांच ब्यूरो भारत में भारत सरकार की एक जांच एजेंसी है. जो राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होने वाले अपराधों जैसे हत्या घोटालों करप्शन जैसे अपराधों की भारत सरकार की तरफ से जांच करती है सीबीआई एजेंसी की स्थापना 1941 में हुई थी और अप्रैल 1963 में स्कोर केंद्रीय जांच ब्यूरो का नाम दिया था जिसका मुख्यालय दिल्ली में है सीबीआई को जांच करने की शक्तियां दिल्ली के स्पेशल पुलिस स्थापना अधिनियम 1946  दी है.

भारत सरकार और राज्य सरकार की सहमति से राज्य में किसी भी मामले की जांच करने का सीबीआई को दे सकती है लेकिन सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट राज्य सरकार की सहमति के बिना ही देश के किसी भी राज्य में आपराधिक मामलों की जांच करने का आदेश सीबीआई को दे सकती है अब आपको पता चल गया होगा कि सीबीआई क्या होती है.सीबीआई का काम करने का क्षेत्र CID के की तुलना में बहुत बड़ा होता है CID सिर्फ राज्य के अंदर ही जांच कर सकती है लेकिन CBI पूरे देश और देश के अलावा विदेशों में भी भारत सरकार के तरफ से जांच कर सकती है और इसकी टीम भी बहुत बड़ी होती है. तो अब आपको पता चल गया होगा कि CID और CBI क्या है. और इनका क्या क्या काम है. और यह कहां काम करती है. और किस तरह से काम करती है. तो नीचे हम आपको इन दोनों के अंतर के बारे में बताएंगे कि इन दोनों में क्या क्या अंतर है.

CBI और CID में क्या अंतर है

वैसे तो आपको इनके बीच में क्या अंतर है यह आसानी से पता चल जाएगा क्योंकि इन में बहुत ज्यादा फर्क दिखाई देता है.

1. सबसे बड़ा अंतर तो यही है. जैसा की हमने आपको पर बताया था कि CID का काम करने का क्षेत्र छोटा होता है. CID सिर्फ राज्य में ही जांच का काम करती है. लेकिन CBI पूरे भारत में किसी भी राज्य में जाँच का काम कर सकती है. और पूरे भारत के अलावा वह भारत की तरफ से विदेशों में भी जांच कार्य कर सकती है.

2. CID की स्थापना ब्रिटिश सरकार द्वारा की गई थी लेकिन सीबीआई की स्थापना एक विशेष पुलिस प्रतिष्ठान के रूप में की गई है.

3.CID में शामिल होने के लिए आपको जिस राज्य में शामिल होना है. उस राज्य की पुलिस परीक्षा को पास करना है. और उसके बाद आप को अपराध विज्ञान की परीक्षा को भी पास करना होता है. उसके बाद आप किसी राज्य में CID के कर्मचारी बन सकते हैं. .लेकिन CBI में शामिल होने के लिए SSC बोर्ड द्वारा परीक्षा करवाई जाती .है उसमें पास होना जरूरी होता है.

4.CID जैसा की हमने आपको बताया CID सिर्फ एक राज्य में ही काम कर सकती है और उसको उस राज्य की सरकार या उस राज्य के हाई कोर्ट द्वारा आदेश मिलता है. सीबीआई को किसी भी घटना की जांच करने का आदेश केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट या हाई कोर्ट के द्वारा आदेश दिया जाता है उसके बाद सीबीआई किसी घटना की जांच प्रक्रिया शुरू करती है.

5.CID में राज्य के अंदर होने वाले अपराध जैसे हत्या, दंगे, अपराध, चोरी, छेड़छाड़, लूट या किसी तरह की डकैती के मामले में राज्य सरकार की सहमति से बात करती है जबकि का क्षेत्र बड़ा होता है.सीबीआई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होने वाले घोटालों, धोखाधड़ी, हत्या, अपहरण जैसी चीजों की जांच करती है.

6.CBI की शक्तियां CID से बहुत ज्यादा होती है. और उसकी टीम भी बहुत बड़ी होती है. इसलिए लोग बड़े मामलों की बड़े दंगों की या बड़ी दूसरी किसी भी घटना की जांच सीबीआई से करवाने की मांग करते हैं. ताकि उनको एक निष्पक्ष और सही जांच की जानकारी मिल सके.तो अब आपको पता चल गया होगा कि CID और सीबीआई में क्या क्या अंतर होता है.

आज हमने आपको इस पोस्ट में सीआइडी और सीबीआई क्या होती है What is CID and CBI In Hindi cbi janch kaise hoti hai cbi kaise bane central bureau of investigation in hindi Differences between CBI and CID in Hindi- CBI and CID Job in Hindi के बारे में पूरी और विस्तार से जानकारी बताइ. यह जानकारी आपको पसंद आई होगी तो यदि आपको हमारे द्वारा बताइए यह जानकारी पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें और यदि आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं

2 Comments
  1. fagu munda says

    Very good sir

  2. rambabu says

    Hamera chota bhai ka mdar hu hai police bhi sahi ripot na bata rha hai mai kya kru

Leave A Reply

Your email address will not be published.

+