कार्बन एवं उसके यौगिकों का उपयोग अधिकतर कार्यों में ईंधन के रूप में क्यों किया जाता है ?

QuestionsCategory: Questionsकार्बन एवं उसके यौगिकों का उपयोग अधिकतर कार्यों में ईंधन के रूप में क्यों किया जाता है ?
Questions Staff asked 3 days ago

कार्बन एवं उसके यौगिकों का उपयोग अधिकतर कार्यों में ईंधन के रूप में क्यों किया जाता है ?कार्बन और उसके यौगिक के प्रश्न उत्तर एथेनॉइक अम्ल का सूत्र कार्बन एवं उसके यौगिक notes

1 Answers
hindigyanbook Staff answered 3 days ago

जब साबुन को जल में डाला जाता है तो उसके अणु के दो सिरे दो भिन्न गुणधर्मों को प्रकट करते हैं: जल में विलयशील हाइड्रोफिलिक और हाइड्रोकार्बन में विलयशील हाइड्रोफ़ोबिक। यह जल में घुलनशील नहीं होते। पानी में डालने से साबुन का आयनिक सिरा जल के अंदर होता है जबकि हाइड्रोकार्बन पूँछ ( दूसरा सिरा ) जल के बाहर होता है। ऐसे अणुओं का बड़ा समूह बनने के कारण होता है जिसमे हाइड्रोफ़ोबिक पूँछ बड़े समूह के भीतरी हिस्से में होता है जबकि उसका आयनिक सिरा बड़े समूह की सतह पर होता है। जल में विलयशील हाइड्रोफिलिक और हाइड्रोकार्बन में विलयशील हाइड्रोफ़ोबिक के समूह को ही मिसेल कहते हैं। साबुन एथेनॉल जैसे दूसरे विलायकों में घुल जाता है इसलिए मिसेल का निर्माण नहीं करता।