अरविन्दासव के फायदे Arvindasava Benefits

QuestionsCategory: Questionsअरविन्दासव के फायदे Arvindasava Benefits
Vikas Verma Staff asked 1 year ago

अरविन्दासव के फायदे Arvindasava Benefits Patanjali Divya Arvindasava in Hindi

1 Answers
Hindi Gyan Book Staff answered 1 year ago

आज की पोस्ट में बात करते है अरविन्दासव के बारे मै तो सबसे पहले मै आपको ये बता दू की अरविन्दासव को बहुत सारी कम्पनिया बनती है जैसे डाबर , वेदनाथ, पतंजलि और बहुत सारी कंपनियां इसे बनाती हैआप चाहे तो किसी भी कंपनी का ले सकते हैं

फायदे

अब बात करते हैं इसके फायदों के बारे में अरविन्दासव स्पेशल बच्चों के लिए बना है ये बच्चों के लिए एक बेहतरीन औषधि हैजिन बच्चों की इम्युनिटी बहुत कमजोर रहती है जो बच्चे बार-बार में बीमार पड़ते हैं बार-बार उन्हें सर्दी ,खांसी, जुकाम, बुखार उन्हें इस तरह की समस्याएं होती रहती है आए दिन वे बार-बार बीमार पड़ते हैं। तो अरविन्दासव इम्यूनिटी सिस्टम को बूस्ट करता है.

जिस से बच्चा बार बार बीमार नहीं पड़ता और उनका शरीर काफी स्वस्थ बना रहता है इसके अलावा अरविन्दासव डाइजेशन सिस्टम को बेहतर करता है इसके सेवन से बच्चों में भोजन का पाचन और अवशोषण सही होता है जो बच्चे काफी कमजोर है जिनका शरीर काफी दुबला पतला है इसके सेवन से बच्चे जल्दी हटे कटे हो जाते हैं यानी सेहतमंद हो जाते हैं इसके अलावा ये बच्चों के विकास में काफी फायदेमंद होते हैं.

ये ब्रेन के फंक्शन को बेहतर करता है। मेमोरी पावर को बूस्ट करता है साथ ये पाचन तंत्र को सही करता है पाचन शक्ति को बढ़ाता है इसके अलावा यदि बच्चे को भूख नहीं लगती , शारीरिक विकास ठीक से नहीं हो रहा है तो इस कंडीशन में आप इसे ले सकते हैं इसका काफी अच्छा फायदा देखने को मिलता है।इसके अलावा ये लीवर से संबंधित समस्याओं को दूर करता है । ये खून की कमी को दूर कर कमजोरी को दूर करता है।

बच्चों की हड्डियों को मजबूत करता है अरविंदासव बच्चों के अनेक रोगों को दूर करता है उन्हें तंदुरुस्त एवं निरोगी बनाता है । बच्चों की पाचन शक्ति को बढ़ाकर उनकी भूख बढ़ाता है और बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य को सही रखता है अरविंदासव बच्चों की मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य के लिए एक बेहतरीन टॉनिक की तरह काम करता है। तो देखा आपने अरविंदासव के कितने सारे फायदे हैं।

 इसे कैसे बनाया गया है

इसके अंदर बहुत बेहतरीन जड़ी बूटियां जैसे कमल , गम भरी, बहेड़ा ,हरड़ ,आंवला, अर्जुन , मुलेठी मंजिष्ठा , द्राक्षा , धातकी , शहद आदि कई बेहतरीन जड़ी बूटियों को मिलाकर इसे बनाया गया है

 इसे  कैसे लेना है

अब बात करते हैं इसे कैसे लेना हैं तो यह बच्चे की उम्र पर डिपेंड करता है अगर बच्चा 1 साल से कम का है मान लीजिए बच्चा 3 महीने का है तो उसे तीन बूंद अगर बता 4 महीने का है तो उसे चार बूंद अगर बच्चा 5 महीना का है तो उसे 5 बूंद मैं बराबर मात्रा में पानी मिलाकर दि जा सकती है मान लीजिए अगर बच्चा 1 साल का है.

तो उसे 1ml अगर बच्चा 2 साल का है तो उसे 2 ml या 3 साल का है तो उसे तीन ml बराबर मात्रा में पानी मिलाकर कुछ इस प्रकार दि जा सकती है देखिए ये डोस बढ़ भी सकती है अगर बच्चे को प्रॉब्लम ज्यादा है तो इसे दिन में दो बार यानी सुबह-शाम कुछ खाने के बाद देना है अगर बच्चा दूध पीता है तो उसे दूध पीने के आधे घंटे बाद दि जा सकती हैअगर बच्चा कुछ खाता है तो भी आप आधे घंटे बाद दे सकते हैं या अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं

कब तक लेना है

अब बात करें कि आपको ऐसे कब तक लेना है तो आप इसके बढ़िया रिजल्ट के लिए तीन से छह महीना देकर देख सकते हैं

 side effect

अब बात करते हैं इसके side effect की तो इसका कोई side effect देखने को नहीं मिलता लेकिन आपको फिर भी लगता है कि इसे देने के बाद बच्चे को कुछ प्रॉब्लम हो रही है तो आप इसे देना बंद भी कर सकते हैं या ज्यादा जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं ।येथी अरविंदासव की मुख्य जानकारी।

Your Answer