OTP क्या है इसके फायदे और नुकसान क्या है

OTP क्या है इसके फायदे और नुकसान क्या है

जब हम तो रिचार्ज करते हैं या कोई ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते हैं या कुछ इस तरह के काम करते हैं जो कि Secure होते हैं और उनके साथ हमारा मोबाइल या हमारा ईमेल ID अटैच होता है तो उन पर ऐसा कुछ काम करने के लिए सबसे पहले एक OTP भेजा जाता है जिसको की वन टाइम पासवर्ड भी कहा जाता है तो आज हम आपको वन टाइम पासवर्ड मतलब OTP के बारे में इस आर्टिकल में बताएंगे कि यह क्या होता है, यह क्या काम आता है, इसके क्या फायदे हैं और इसके क्या नुकसान है। आज आर्टिकल में आपको पूरी तरह इसके बारे में बताया जाएगा।

OTP क्या होता है।

जैसा कि नाम से ही पता लगता है वन टाइम पासवर्ड मतलब इस पासवर्ड को सिर्फ एक बार इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके बाद इस पासवर्ड का कोई मतलब नहीं रह जाता है. यह Code 6 डिजिट का होता है। जिसका काम हम ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते समय करते हैं। जब भी हम किसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर कुछ सामान खरीदते हैं तो हमारे ATM कार्ड से पेमेंट करने या हमारे नेट बैंकिंग से पेमेंट करने पर हमारी पूरी अकाउंट डिटेल वहां पूछी जाती है तो जब हम सबमिट करते हैं तो हमारे मोबाइल पर एक कोड आता है जो कि हमारे मोबाइल जो कि हमारे बैंक से अटैच होता है। उस कोड का मतलब होता है कि आप ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने की परमिशन दे रहे हैं अगर आप वह कोड गलत भरते हैं तो आपका ट्रांजैक्शन कैंसिल हो जाता है। आपके पैसे या आपकी ऑनलाइन पेमेंट या आपका ऑनलाइन आर्डर कंपलीट नहीं हो पाता है।

OTP का इस्तेमाल क्यों होता है।

यह पासवर्ड एक ऐसा पासवर्ड है जो कि आपके अकाउंट से लॉगिन और ट्रांजैक्शन पासवर्ड से बहुत ज्यादा अलग होता है जब बिल्कुल सुरक्षित होता है। जब आप किसी वेबसाइट पर अकाउंट बनाते हैं तो अपना यूजर नेम और पासवर्ड की सेट करते हैं। हम जो पासवर्ड लॉगिन के लिए सेट करते हैं वह बहुत ही आसान रखते हैं जैसे के नाम और उसके आगे डिजिट लगा देना या कुछ अपनी DOB भर लगा देना। तो इस तरीके के हम पासवर्ड इस्तेमाल करते है ताकि हम याद रख सके लेकिन इस तरह के पासवर्ड हैकर आसानी से हैक कर लेते हैं और हमारे अकाउंट की पूरी पूरी डिटेल चुरा सकते हैं और हमारे बैंक अकाउंट को हैक कर सकते हैं तो इस सभी को रोकने के लिए एक ऐसा स्पेशल पासवर्ड बनाया गया जो सिर्फ एक ही बार इस्तेमाल हो सके। उसी को हम OTP या वन टाइम पासवर्ड कहते हैं इस पासवर्ड का इस्तेमाल सिर्फ 3 मिनट से लेकर 15 मिनट तक किया जा सकता है। इसके बाद इसका इस्तेमाल नहीं किया जा सकता और अगर एक बार आपने इस पासवर्ड को इस्तेमाल कर लिया है तो यह दोबारा इस्तेमाल नहीं हो सकता। इसके लिए आपको दूसरे पासवर्ड लेना पड़ेगा अगर आप कोई ऑनलाइन ट्रांजेक्शन कर रहे हैं तो उस समय आप ओटीपी पासवर्ड ध्यान से लिखें।

OTP का इस्तेमाल कहाँ कहाँ होता है।

ओटीपी का इस्तेमाल सबसे ज्यादा नेट बैंकिंग में ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते वक्त किया जाता है। इसके अलावा जब हम Google पर कोई अकाउंट बनाते हैं हमारा Gmail का अकाउंट बनाते हैं तो उस समय भी हमारे अकाउंट को वेरीफाई करने के लिए ओटीपी का इस्तेमाल किया जाता है। जब हम Facebook पर हमारे अकाउंट को वेरीफाई करते हैं तो उस समय भी ओटीपी का इस्तेमाल होता है। इसके अलावा जब हम Facebook पर हमारे अकाउंट के पासवर्ड को भूल जाते हैं और उसके बाद उसको रिकवरी करते हैं तो उस समय भी ओटीपी पासवर्ड का इस्तेमाल किया जाता है। तो इस तरह की कई जगहों पर ओटीपी पासवर्ड का इस्तेमाल किया जाता है।

OTP के प्रकार

Hard टोकन :

  • RSA SecurID
  • YubiKey
  • HMAC-Based OTP Tokens
  • Printed OTPs

Soft टोकन :

  • Mobile Authenticator

बिना Token :

  • PassiveKey
  • Helpdesk generated OTP
  • Voice Calling
  • SMS Text Messaging
  • Email

OTP के फायदे

OTP यानी वन टाइम पासवर्ड हमारे अकाउंट को सेफ रखने के लिए सुरक्षित रखने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जैसे हमारे पास गूगल का अकाउंट है, हमारे बैंक अकाउंट है, या बैंक अकाउंट का नेट बैंकिंग है, या हम ATM का इस्तेमाल करते हैं तो उस समय जो OTP इस्तेमाल होता है वह हमारे बैंक या हमारे अकाउंट को सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है। जैसा की हमने आपको पहले बताया कि इसका इस्तेमाल सिर्फ एक ही बार किया जा सकता है और यह कुछ समय तक वैलिड रहता है। अगर उस समय तक इसको इस्तेमाल ना किया जाए तो यह एक्सपायर हो जाता है। फिर इसका कोई काम नहीं रहता और जितनी बार आप ट्रांजेक्शन करते हैं आपको हर बार अलग पासवर्ड दिया जाता है। जिससे कि आपका अकाउंट और ज्यादा सिक्योर हो सके। अगर किसी आदमी को आपके बैंक अकाउंट का यूजर ID और पासवर्ड पता लग जाता है तो वह उसका तब तक इस्तेमाल नहीं कर सकता है जब तक उसके पास आपके मोबाइल पर आया हुआ OTP या वन टाइम पासवर्ड ना हो तो इस तरह से आपका अकाउंट गलत तरीके से यूज नहीं होगा।

OTP के नुकसान

  • ईमेल ओटीपी वेरिफिकेशन दूसरे ओटीपी वेरिफिकेशन से कम सिक्योर होता है।
  • जो SMS करके ओटीपी भेज जाते हैं वह थर्ड पार्टी मैसेजिंग का यूज़ करते हैं।
  • एक से ज्यादा बाहर इसका इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। अगर मान लो आपकी ट्रांजैक्शन कैंसिल हो जाती है तो आपको दोबारा OTP का इस्तेमाल करना पड़ेगा।
  • कई बैंक के पैसे ट्रान्सफर पर सिर्फ OTP का इस्तेमाल होता है जो की ज्यादा secure सिस्टम नही है।

इस पोस्ट में आपको otp full meaning , otp means on the phone , otp example , otp full form in aadhar card , otp full form in banking , otp code meaning in hindi , के बारे में बताया गया है अगर इसके अलावा आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके जरूर पूछें. और इस पोस्ट को शेयर जरूर करें ताकि दूसरे भी इस जानकारी को जान सकें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

5 Comments
  1. niraj jha says

    Mera phone jo hai Samsung tizen usme jio sim hai laga hauaa phone re set ho gay otp mang rahhai

  2. yashveer singh Rathore says

    मेरा Facebook अकाउंट है उसमें ओटीपी नहीं आ रहा है मैंने बार-बार यूज कर लिया अब क्या होगा अकाउंट का

  3. ajayyadav says

    Your Comment otp kya hota hoi

  4. Jeetan says

    Mai pancard ke liye ATM se otp verification ke bawjud transition safal nahi ho saka to paisa kat jayegi kya account se jald reply karen

  5. M. Naeem says

    Meme otp ek caller ko batadi is galti ko kaise sudharen

Leave A Reply

Your email address will not be published.