नाइट्रोजन की खोज किसने की

नाइट्रोजन की खोज किसने की

नाइट्रोजन गैस का नाम तो सुना ही है जिसकी मात्रा वायुमण्डल सभी गैसों में सबसे ज्यादा है रंगहीन, गंधहीन और स्वादहीन गैस है रासायनिक दृष्टि से नाइट्रोजन निष्क्रिय तत्व है। साधारण ताप पर न तो यह जलता है और न अन्य धातुओं से यौगिक बनाता है। उच्च ताप पर यह अनेक तत्वों जैसे लीथियम, मैग्नीशियम, कैल्सियम, बोरॉन आदि से क्रिया कर नाइट्राइड पदार्थ यौगिक बनती है

नाइट्रोजन गैस  वायुमंडल में आयतन के अनुसार नाइट्रोजन 78 .5 प्रतिशत मात्रा में उपस्थित है ऑक्सीजन को रासायनिक क्रिया अथवा भौतिक साधनों द्वारा अलग करके इसके नाइट्रोजन गैस को वायुमंडल से भी तैयार कर सकते हैं इसका क्वथनांक ऑक्सीजन से नीचा है नाइट्रोजन का रासायनिक सूत्र N है  नाइट्रोजन एक अक्रिय गैस है जो अपने आप कोई क्रिया नही करती है |

नाइट्रोजन की खोज

नाइट्रोजन खोज 1772 में स्कॉटलैण्ड के वैज्ञनिक डेनियल रदरफोर्ड ने की थी डेनियल ने शेले के साथ मिलके  सर्वप्रथम 1772 ई. में नाइट्रोजन स्वतंत्र रूप पाया शेले ने उसी वर्ष यह स्थापित किया कि वायु में मुख्यत: दो गैसें उपस्थित हैं, जिसमें एक सक्रिय तथा दूसरी निष्क्रिय है। तभी प्रसिद्ध फ्रांसीसी वैज्ञानिक लाव्वाज़्ये ने नाइट्रोजन गैस को ऑक्सीजन से अलग कर नाइट्रोजन का नाम ‘ऐजोट’ रखा। 1790 में शाप्टाल  ने इसे नाइट्रोजन नाम दिया।

नाइट्रोजन के भौतिक गुण

  • नाइट्रोजन एक रंगहीन, गंधहीन और स्वादहीन गैस है|
  • इसका अणु दो परमाणुओं का बनता है। इसका संकेत N है|
  • नाइट्रोजन की  परमाणु संख्या 7,  है|
  • परमाणु भार 14.007, गलनांक – 210° सें., क्वथनांक – 195.8° सें., घनत्व 1.25 ग्राम प्रति लीटरहै|
  • इसका  क्रांतिक ताप – 147° सें., 0° सें. तथा सामान्य दबाव पर जल में विलेयता 23.5 घन सेंमी. प्रति लीटर है।
  • नाइट्रोजन निष्क्रिय गैस है साधारण ताप पर न तो यह जलता है और न अन्य धातुओं से यौगिक बनाता है।
  • यह गैस गंधक, फॉस्फोरस तथा अनेक तत्वों एवं यौगिकों के साथ अभिक्रिया करती है|
  • नाइट्रोजन को वायुमंडल से भी तैयार कर सकते हैं, जिसमें ऑक्सीजन को रासायनिक क्रिया अथवा भौतिक साधनों द्वारा अलग करना होता है।
  • प्रयोगशाला में नाइट्रोजन ऐमोनियम नाइट्राइट पर ताप के प्रभाव से मुक्त किया जाता है। अमोनियम नाइट्राइट अस्थायी पदार्थ है। इस कारण ऐमोनियम क्लोराइड एवं सोडियम नाइट्राइट के मिश्रित विलयन का उपयोग इस कार्य के लिए करते हैं।
  • इसका  उबलने का समय ऑक्सीजन से नीचा है। इस कारण इसका ऑक्सीजन पहले वाष्प बनकर निकल जाता है और अवशेष द्रव में बाद में नाइट्रोजन रहता है।

नाइट्रोजन के उपयोग

  • नाइट्रोजन गैस का उपयोग आइसक्रीम बनाने में किया जाता है |
  • बिजली के बल्बों में नाइट्रोजन भरने से उनकी जीवन अवधि बढ़ जाती है।
  • नाइट्रोजन टायरो में भरवाने से वो फटते नही है |
  • निष्क्रिय वातावरण बनाने में नाइट्रोजन का उपयोग किया जाता है |
  •  नाइट्रोजन के अनेक यौगिक विस्फोटक होते है जैसे ट्राइनाइट्रोग्लिसरीन, ट्राइनाइट्रोटॉलूईन आदि होते है |

यह भी देखे

इस पोस्ट में आपको  नाइट्रोजन की खोज किसने की नाइट्रोजन का सूत्र   नाइट्रोजन का उपयोग नाइट्रोजन क्या है किसने की नाइट्रोजन गैस क्या है नाइट्रोजन स्थिरीकरण के बारे में बताया गया है अगर इसके अलावा आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके जरूर पूछें. और इस पोस्ट को शेयर जरूर करें ताकि दूसरे भी इस जानकारी को जान सकें.

9 Comments

Leave a Comment