Answer for साधारण मानव में कितने गुणसूत्र होते हैं?

मनुष्य एकलिंगी जीव है जिसमें गुणसूत्रों की संख्या 46 होती है। प्रत्येक संतान को समजात गणसत्र की प्रत्येक जोड़ी का एक गुणसूत्र अण्डाणु के द्वारा माता से तथा दूसरा शुक्राणु के द्वारा पिता से प्राप्त होता है। शुक्रजन में अर्द्धसत्री विभाजन द्वारा दो प्रकार के शक्राण बनते हैं। आधे वे जिनमें 23वीं जोडी का x गणसत्र जाता है (22+X) और आधे वे जिनमें 23वीं जोड़ी में Y गणसूत्र जाता है अर्थात (22+y) नारियों में एक समान प्रकार के गणसत्र अर्थात (22 +x) वाले अण्डाणु पाए जाते हैं। निषेचन के समय यदि अण्डाणx गुणसूत्र वाले शुक्राणु से मिलता है तो युग्मनज में 23वीं जोड़ी xx होगी और इससे बनने वाली संतान लड़की होगी। इसके विपरीत किसी अण्डाणु से Y गुणसूत्र वाला शुक्राणु निषेचित होगा तो XY गुणसूत्र वाला युग्मनज बनेगा तथा संतान लड़का होगा। इस प्रकार पुरुष का Y गुणसूत्र संतान में लिंग निर्धारण हेत उत्तरदायी है।