Answer for लोहे की कील पारे में क्यों तैरती है , जबकि यह पानी में डूब जाती है?

लोहे का घनत्व पानी से अधिक है तथा पारे से कम यदि किसी वस्तु का घनत्व द्रव के घनत्व से अधिक हो तो वस्तु डूब जायेगी, क्योंकि वस्तु का घनत्व उसके द्रव्यमान के समानुपाती होता है। उदाहरणार्थ लोहे का जहाज जल पर तैरता है जबकि लोहे की छोटी कील समुद्र में डूब जाती है।