Answer for ‘राजुक’ कौन थे?

मौर्य सम्राट आशोक के शासन काल में राजुक नामक अधिकारी का उल्लेख मिलता है। अशोक के स्तम्भ लेख तीन और सात से ज्ञात होता है कि उसने व्युष्ट, रज्जुक, प्रदेशक तथा युक्त नामक पदाधिकारियों को जनता के बीच जाकर धर्म के प्रचार एवं उपदेश देने का आदेश दिया था। ये अधिकारी प्रति पाँचवें वर्ष अपने-अपने क्षेत्रों में दौरे पर जाया करते थे तथा सामान्य प्रशासकीय कार्यों के साथ जनता में धर्म प्रचार किया करते थे। रज्जक जनपद का प्रमुख अधिकारी था इसे अशोक ने अपने राज्यभिषेक के 26वें वर्ष न्यायिक अधिकार भी प्रदान कर दिया। इसे राजस्व अधिकार भी प्राप्त था।