Answer for ब्रह्म समाज किस सिद्धांत पर आधारित है?

1828 में राजा राममोहन राय ने ब्रह्मसमाज की नींव डाली। ब्रह्म समाज का उद्देश्य शाश्वत, अपरिवर्त्य ईश्वर की पूजा है जो सारे विश्व का कर्ता और रक्षक है। इसमें मूर्तिपूजा तथा बलि प्रथा की निन्दा की गयी है। राजा राममोहन राय के उपदेशों का तात्पर्य भी सभी धर्मों में आपसी एकता बंधन को दृढ़ करना था। इस संस्था में नया जीवन फूंकने और इसे एक ईश्वरवादी आंदोलन के रूप में आगे बढ़ाने का श्रेय महर्षि देवेन्द्र नाथ टैगोर (1818-1905) को था।