Answer for किस मंदिर परिसर में एक भारी भरकम नन्दी की मूर्ति है जिसे भारत की विशालतम् नन्दी मूर्ति माना जाता है?

चोल शासक राजराज प्रथम के शासन काल में निर्मित त्रिचनापल्ली जिले के तंजौर में स्थित शैव मंदिर, जिसे राजराजेश्वर अथवा वृहदीश्वर मंदिर के नाम से जानते है। यह द्रविड़ शैली का सर्वोच्चतम नमूना माना जा सकता है। आधार के ऊपर तेरह मंजिलों वाला पिरामिड आकार का शिखर है। मंदिर के गर्भगृह के सम्मुख में विशाल नंदी की एकाश्मक मूर्ति बनी है जो भारत में बनी नंदी की मूर्तियों में विशालतम है।