Answer for किस अभिलेख से यह प्रमाणित होता है कि चन्द्रगुप्त का प्रभाव पश्चिम भारत पर था?

चन्द्रगुप्त मौर्य का पश्चिम में अधिकार था इसका प्रमाण उसके किसी अभिलेख में नहीं है बल्कि रुद्रदामन का जूनागढ़ शिलालेख से हमें पता चला है। जूनागढ़ शिलालेख से ज्ञात होता है कि चन्द्रगुप्त मौर्य ने अपने पश्चिमी प्रान्त के गवर्नर पुष्पगुप्त वैश्य को सौराष्ट्र प्रान्त में एक झील का निर्माण करने की आज्ञा दी थी। यही झील सुदर्शन झील के नाम से इतिहास में विख्यात है। इस झील का निर्माण कार्य सम्राट अशोक के काल में भी हुआ जब यहां नहर निकाली गयी थी। रुद्रदामन के समय में इसका बांध टूट गया था जिसकी मरम्मत रुद्रदामन ने अपने राज्यपाल सविशाख से करवाया। स्कन्दगुप्त ने भी इस बांध का मरम्मत कार्य किया था।