Answer for कर्म का सिद्धांत किससे संबंधित है ?

वेद के दो भाग हैं–कर्मकाण्ड तथा ज्ञानकाण्ड। ब्राह्मण ग्रंथों में वैदिक कर्मकाण्डों का विशिष्ट विवरण मिलता है तथा उपनिषदों में ज्ञानकाण्ड का प्रतिपादन है। मीमांसा जिसे पूर्व मीमांसा भी कहा जाता है, का उद्देश्य वैदिक कर्मकाण्डों के सम्बन्ध में निर्णय देना है तथा उनकी दार्शनिक महत्ता का प्रतिपादन करना है। यह मत वेद को अपौरुषेय तथा नित्य मानता है। उपनिषद तथा वेदान्त उत्तरमीमांसा कहे जाते हैं क्योंकि इनमें कर्मकाण्डों के स्थान पर ज्ञान विवेचन मिलता है। पूर्व मीमांसा के प्रणेता जैमिनी हैं जिनका ग्रन्थ ‘मीमांसा सूत्र’ इस दर्शन का सूत्र है।