भारतीय सामान्य ज्ञान के प्रश्न उत्तर

भारतीय सामान्य ज्ञान के प्रश्न उत्तर

✒ मध्यकालीन भारतीय आर्य भाषाओं का स्थिति काल रहा है→500 ई.पू. से 1000 ई.पू.
✒ ‘प्राचीन देशभाषा’ (पूर्व अपभ्रंश) को ‘अपभ्रंश’ तथा परवर्ती अर्थात् अग्रसरीभूत अपभ्रंश को ‘अवहट्ठ’ किस भाषा वैज्ञानिक ने कहा है→सुनीतिकुमार चटर्जी एवं सुकुमार सेन
✒ अर्द्धमागधी अपभ्रंश से इनमें से किस बोली का विकास हुआ है→बंगाली
✒ कामताप्रसाद गुरु का हिन्दी व्याकरण विषयक ग्रंथ, जो नागरी प्रचारिणी सभा, काशी से प्रकाशित हुआ था, उसका नाम था→हिन्दी व्याकरण
✒ देवनागरी लिपि है→अक्षरात्मक
✒ विद्यापति की उस प्रमुख रचना का नाम बताइए, जिसमें ‘अवहट्ठ’ भाषा का बहुतायत प्रयोग हुआ है→कीर्तिलता
✒ जॉर्ज ग्रियर्सन ने पश्चिमोत्तर समुदाय की भाषा को आधुनिक भारतीय आर्यभाषाओं की किस उपशाखा में रखा है→बाहरी उपशाखा
✒ उर्दू किस भाषा का मूल शब्द है→तुर्की भाषा
✒ ‘साहित्य का इतिहास दर्शन’ ग्रंथ के लेखक का नाम है→डॉ. नलिन विलोचन शर्मा
✒ जहाँ शब्दों, शब्दांशों या वाक्यांशों की आवृत्ति हो, किंतु उनके अर्थ भिन्न हों, वहाँ निम्न में से कौन-साअलंकार है→यमक
✒ गिला’ कहानी के लेखक का नाम है→प्रेमचन्द्र

✒ ‘गंगावतरण’ काव्य के रचयिता हैं→जगन्नाथदास रत्नाकर
✒ छायावादी कवियों ने जब आध्यात्मिक प्रेम को अपनी कविताओं में व्यक्त किया तो ऐसी कविताओं को किस वाद के अंतर्गत रखा गया है→रहस्यवाद
✒ गोवा की स्वीकृत राजभाषा है→कोंकणी
✒ ‘ध्रुव स्वामिनी’ नाटक के रचयिता हैं→जयशंकर प्रसाद
✒ ‘परिवर्तन’ नामक कविता सर्वप्रथम सुमित्रानन्दन पंत के किस कविता संग्रह में संगृहीत हुई है→पल्लव
✒ भिखारीदास की रचना का नाम है→काव्य निर्णय
✒ उन्नीसवीं सदी की साहित्य- सर्जना का मूल हेतु है→पराधीनता का बोध
✒ ‘यह प्रेम को पंथ कराल महा तरवारि की धार पै धावनो है’, नामक पंक्ति किस कवि द्वारा सृजित है→बोधा
✒ आचार्य केशवदास को ‘कठिन काव्य का प्रेत’ किस आलोचक ने कहा है→आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
✒ भक्तिकाल का एक कवि अवतारवाद और मूर्तिपूजा का विरोधी है. इसके बावज़ूद वह हिन्दुओं के जन्म-मृत्यु सम्बन्धी सिद्धांत को मानता है, ऐसा रचनाकार है→कबीर
✒ प्रथम सूफ़ी प्रेमाख्यानक काव्य के रचयिता हैं→मुल्ला दाऊद
✒ भक्तिकालीन कवियों में एक ऐसा ख्यातिलब्ध रचनाकार है जो अपने काव्य में लोकव्यापी प्रभाव वाले कर्म और लोकव्यापिनी दशाओं के वर्णन में माहिर है। ऐसे रचनाकार का नाम है→तुलसीदास
✒ ‘जायसी -ग्रंथावली’ के सम्पादक का नाम है→रामचन्द्र शुक्ल
✒ दोहा छन्द में श्रृंगारी रचना प्रस्तुत करने वालों में हिन्दी के सर्वाधिक ख्यातिलब्ध कवि हैं→बिहारी
✒ ‘कंचन तन धन बरन बर रहयौ रंग मिलि रंग। जानी जाति सुबास ही केसरि लाई अंग॥’ उपर्युक्त पंक्तियाँ किसकी हैं?→ बिहारी
✒ जलप्लावन भारतीय इतिहास की ऐसी प्राचीन घटना है जिसको आधार बनाकर छायावादी युग में एक महाकाव्य लिखा गया है। उसका नाम है→कामायनी
✒ शब्दार्थों सहित काव्यम् यह उक्ति किसकी है→भामह
✒ ढ़ाई आखर प्रेम के, पढ़ै सो पंडित होय॥ प्रस्तुत पंक्ति के रचयिता हैं→कबीर दास
✒ चौपाई के प्रत्येक चरण में मात्राएँ होती हैं→16
✒ ‘संदेश रासक’ के रचयिता हैं→अब्दुल रहमान
✒ ‘साखी’ के रचयिता हैं→कबीरदास
✒ लोगहिं लागि कवित्त बनावत, मोहिं तौ मेरे कवित्त बनावत॥ प्रस्तुत पंक्ति के रचयिता हैं→घनानन्द
✒ बैर क्रोध का अचार या मुरब्बा है, यह कथन किसका है→रामचन्द्र शुक्ल
✒ रामभक्त कवि नहीं हैं→नरोत्तमदास

✒ जीवन में हास्य का महत्त्व इसलिए है कि, वह जीवन को→सरस बनाता है
✒ श्रृंगार रस का स्थायी भाव है→रति
✒ रहीम द्वारा लिखित इन पंक्तियों में ‘बड़े’ शब्द का प्रयोग जिस रूप में हुआ है, वह है-
✒ बड़े बड़ाई ना करें, बड़े न बोलें बोल।
✒ रहिमन हीरा कब कहै, लाख टका मेरो मोल॥→ संज्ञा
✒ किस रस का संचारी भाव उग्रता, गर्व, हर्ष आदि है→वीर
✒ कबीरदास की भाषा थी→सधुक्कड़ी
✒ “रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून” में कौन-सा अलंकार है→श्लेष
✒ ‘कितने पाकिस्तान’ नामक उपन्यास के लेखक हैं→कमलेश्वर
✒ राजेन्द्र कुमार द्वारा सम्पादित पुस्तक ‘आलोचना का विवेक’ किस विधा से संबंधित है→आलोचना
✒ ‘भ्रमरगीत’ के रचयिता हैं→सूरदास
✒ ‘ईदगाह’ कहानी के रचनाकार हैं→प्रेमचंद
✒ कवि कालिदास की ‘अभिज्ञान शाकुंतलम’ का हिन्दी अनुवाद किसने किया→राजा लक्ष्मण सिंह
✒ ‘यह काम मैं आप कर लूँगा’, पंक्तियों में ‘आप’ है→निजवाचक सर्वनाम
✒ निम्नलिखित में से कौन-सा स्त्रीलिंग में प्रयुक्त होता है→ऋतु
✒ ‘तरनि तनूजा तट तमाल तरुवर बहु छाए’ में कौन-सा अलंकार है→अनुप्रास अलंकार
✒ उपर्युक्त पंक्तियों में रस है-
✒ ‘राग है कि, रूप है कि
✒ रस है कि, जस है कि
✒ तन है कि, मन है कि
✒ प्राण है कि, प्यारी है’→अद्भुत
✒ मुग़ल काल में किस भाषा को रेख्यां कहा गया है→उर्दू
✒ मुग़ल काल की राजकीय भाषा थी→उर्दू
✒ हिन्दी भाषा बोलने वाले भारतीयों का प्रतिशत लगभग है→40 प्रतिशत
✒ दक्षिण भारत में हिन्दी भाषा के क्षेत्र में किसने प्रचार-प्रसार किया→सी. राजगोपालाचारी
✒ हिन्दी के पश्चात भारत की दूसरी सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा है→बांग्ला
✒ दक्षिण भारत की सर्वाधिक प्राचीन भाषा है→तमिल
✒ भारत की किस भाषा को ‘इटालियन ऑफ़ द ईस्ट’ कहा जाता है→तेलुगु
✒ गंगा छवि वर्णन’ कविता के रचनाकार हैं→भारतेन्दु हरिश्चन्द्र
✒ ‘अनामदास का पौधा’ उपन्यास के रचयिता हैं→हज़ारी प्रसाद द्विवेदी
✒ ‘वही मनुष्य है जो मनुष्य के लिए मरे’ के रचयिता हैं→मैथिलीशरण गुप्त
✒ कौन-सी भाषा देवभाषा है→संस्कृत

✒ चोल शासकों की भाषा क्या थी→तमिल
✒ निम्नलिखित में से कौन-सी भाषाएँ हाल ही में प्राचीन भाषाएँ घोषित की गई है→कन्नड़ एवं तेलुगु
✒ भारत की तीसरी सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा है→तेलुगु
✒ निम्नलिखित में से किसमें तमिल एक प्रमुख भाषा है→सिंगापुर
✒ आचार्य विश्वनाथ प्रसाद मिश्र ने रीतिकाल को ‘श्रृंगारकाल’ नाम दिया, लेकिन उन्होंने इस पर जो ग्रंथ लिखा, उसका नाम ‘हिन्दी का श्रृंगारकाल’ नहीं है, बल्कि उसका नाम है→हिन्दी साहित्य का अतीत, भाग -2
✒ ‘भारत मित्र’ पत्र (जो कलकत्ता से सन् 1934 में प्रकाशित हुआ था) के एक सम्पादक थे→रुद्रदत्त शर्मा
✒ ‘मेवाड़ की पन्ना’ नामक धाय के अलौकिक त्याग का ऐतिहासिक वृत्त लेकर ‘राजमुकुट’ नाटक की रचना की गई थी, इस नाटक के लेखक का नाम है→गोविंद बल्लभ पंत
✒ डॉ. कृष्ण शंकर शुक्ल ने आचार्य केशवदास पर एक समीक्षात्मक पुस्तक लिखी थी, उस पुस्तक का नाम है?→ केशव की काव्यकला
✒ ‘आत्मनिर्भरता’ निबंध के रचनाकार हैं→बालकृष्ण भट्ट
✒ ‘समांतर कहानी’ के प्रवर्तक कौन थे→कमलेश्वर
✒ ‘श्रद्धा’ किस कृति की नायिका हैं→कामायनी
✒ ‘तरुवर फल नहिं खात है, सरवर पियहिं न पान’। इस पंक्ति के रचयिता हैं→रहीम
✒ ‘तरनि-तनूजा-तट तमाल तरुवर बहु छाए’। इस पंक्ति के रचयिता हैं→भारतेन्दु हरिश्चन्द्र
✒ भूषण की कविता का प्रधान स्वर है→प्रशस्तिपरक
✒ भक्तिकाल की रामाश्रयी शाखा के निम्नलिखित में से कौन-से कवि हैं→तुलसीदास
✒ भक्तिकाल में एक ऐसा कवि हुआ, जिसने अपने भाव व्यक्त करने के लिए उर्दू, फ़ारसी, खड़ीबोली आदि के शब्दों का मुक्त उपयोग किया है?→ कबीर
✒ हिन्दी के प्रथम गद्यकार हैं→लल्लूलाल
✒ ‘राग दरबारी’ उपन्यास के रचयिता हैं→श्रीलाल शुक्ल
✒ ‘पूस की रात’ कहानी के रचनाकार हैं→प्रेमचन्द
✒ ‘पंच परमेश्वर’ के लेखक हैं→प्रेमचन्द
✒ ‘तोड़ती पत्थर’ (कविता) के कवि हैं→सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’
✒ ‘हार की जीत’ (कहानी) के कहानीकार हैं→सुदर्शन
✒ ‘रानी केतकी की कहानी’ के रचयिता हैं→इंशा अल्ला ख़ाँ
✒ ‘शिव शंभु के चिट्ठे’ से संबंधित रचनाकार हैं→बाल मुकुन्द गुप्त
✒ ‘रसिक प्रिया’ के रचयिता हैं→केशवदास
✒ ‘कुटज’ के रचयिता हैं→हज़ारी प्रसाद द्विवेदी
✒ मसि कागद छुयो नहीं कलम गही नहिं हाथ॥ प्रस्तुत पंक्ति के रचयिता हैं→कबीरदास
✒ ‘चन्दन विष व्यापत नहीं, लिपटे रहत भुजंग’। इस पंक्ति के रचयिता हैं→रहीम
✒ ‘जब-जब होय धर्म की हानी, बाढ़हिं असुर अधम अभिमानी’। इस पंक्ति के रचयिता हैं→तुलसीदास
✒ “यदि चादर के बाहर……..पसारोगे तो पछताओगे”→पैर
✒ (वाक्य में उचित विराम चिह्न लगाएँ) उसने एम ए बी एड पास किया है→एम.ए., बी.एड
✒ ‘महाभोज’ रचना की प्रधान समस्या को उजागर करने वाले विकल्प को चुनिए→राजनीतिक समस्या

✒ अर्द्धसम मात्रिक जाति का छन्द है→दोहा
✒ तोड़ती पत्थर’ कैसी कविता है→यथार्थवादी
✒ अवधी भाषा के सर्वाधिक लोकप्रिय महाकाव्य का नाम है→रामचरितमानस
✒ विद्यापति की ‘पदावली’ की भाषा क्या है→मैथिली
✒ ‘शेष कादम्बरी’ के रचयिता हैं→अलका सरावगी
✒ ‘मुख रूपी चाँद पर राहु भी धोखा खा गया’ पंक्तियों में अलंकार है→रूपक
✒ जहाँ किसी वस्तु का लोक-सीमा से इतना बढ़कर वर्णन किया जाए कि वह असम्भव की सीमा तक पहुँच जाए, वहाँ अलंकार होता है→अत्युक्ति
✒ अपभ्रंश का वाल्मीकि किसे कहा गया है→स्वयंभू
✒ बिहारी, बंगाली, उड़िया और असमिया भाषाओं का जन्म कौन-से अपभ्रंश से हुआ है→मागधी
✒ निम्न में से कंठ्य ध्वनियाँ कौन-सी हैं→क, ख
✒ ‘क’, ‘ख’, ‘ग’, और ‘फ’ में से कौन-सा अक्षर उर्दू से लिया गया है→फ
✒ वर्ण के द्वितीय व चतुर्थ व्यंजन क्या कहलाते हैं→महाप्राण
✒ भावों और विचारों को प्रकट करने वाले मानव-मुख से निकले ध्वनि-संकेतों को क्या कहते हैं→भाषा
✒ एक भाषा दूसरी भाषा से क्या लेती है→शब्दावली
✒ सर्वप्रथम भाषा का प्रयोग किस रूप में हुआ→सांकेतिक
✒ किस रस को ‘रसराज’ कहा जाता है→श्रृंगार रस
✒ संस्कृत भाषा का प्राचीनतम रूप कहाँ दिखाई पड़ता है→ऋग्वेद
✒ हिन्दी भाषा का जन्म हुआ है→पाली प्राकृत से
✒ ‘ग्रियर्सन’ ने किसे ‘देशी हिन्दुस्तानी’ कहा है→खड़ी बोली
✒ स्वयंभू ने किस भाषा को ‘देसी भाषा’ कहा है→अपभ्रंश
✒ किस पुस्तक में हिन्दी का सर्वप्रथम उल्लेख हुआ→रामचरितमानस
✒ शौरसेनी, पैशाची, महाराष्ट्री, अर्द्धमागधी और मागधी, ये निम्न में से किस भाषा के पाँच भेद हैं→प्राकृत
✒ भारतीय आर्यों की भाषा में ‘ट’ वर्ग की ध्वनियाँ किसकी देन हैं→द्रविड़ भाषाओं की

✒ ‘ट’, ‘ठ’, ‘ड’, ‘ढ’ वर्णों का प्रयोग होता है→ओज
✒ वीर रस का स्थायी भाव क्या होता है→उत्साह
✒ स्थायी भावों की कुल संख्या कितनी है→9
✒ ‘धनाक्षरी छंद’ किस प्रकार का छंद है→वर्णित
✒ निम्न में से पृथ्वी का पर्यायवाची शब्द कौन-सा है→रत्नगर्भा
✒ हिन्दी साहित्य का नौवाँ रस कौन-सा है→शांत रस
✒ सर्वश्रेष्ठ रस किसे माना जाता है।→श्रृंगार रस
✒ छंद का सर्वप्रथम उल्लेख कहाँ मिलता है→ऋग्वेद
✒ हिन्दी साहित्य के आरंभिक काल को आचार्य रामचन्द्र शुक्ल ने क्या कहा है→वीरगाथा काल
✒ ‘शिवा बावनी’ के रचनाकार कौन हैं→भूषण
✒ निम्न में से प्रेमचंद के अधूरे उपन्यास का नाम क्या है→मंगलसूत्र
✒ हिन्दी के प्रथम गद्यकार हैं→लल्लूलाल
✒ निम्नलिखित में से कौन-सी बोली पूर्वी हिन्दी की नहीं है→मालवी बोली
✒ ‘जब-जब होय धर्म की हानी, बाढ़ै असुर अधम अभिमानी’, पंक्ति के रचनाकार कौन हैं→तुलसीदास
✒ ‘अनिल’ का पर्यायवाची शब्द क्या है→पवन
✒ ‘कठिन काव्य के प्रेत हैं’, यह किस कवि के लिए कहा गया है→अज्ञेय
✒ ‘मुख रूपी चाँद पर राहु भी धोखा खा गया’, इन पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है→रूपक
✒ वियोगी हरि जी का पूर्ण नाम क्या था→श्री हरि द्विवेदी
✒ कौन-सी बोली पश्चिमी हिन्दी की नहीं है→बघेली बोली
✒ इनमें से सही शब्द कौन-सा है→श्रृंगार
✒ ‘पंचवटी’ शब्द में कौन-सा समास है→बहुब्रीहि
✒ ‘कुरुक्षेत्र’ को क्या कहा जाता है।→रणक्षेत्र
✒ हिन्दी वर्णमाला में स्वरों की संख्या कितनी है→दस
✒ जयशंकर प्रसाद का संबंध किस काव्य-प्रवृत्ति से है→छायावाद
✒ निम्नलिखित भाषाओं में से कौन-सी भाषा उत्तर प्रदेश में नहीं बोली जाती→मैथिली भाषा
✒ भक्ति को रस रूप में प्रतिष्ठित करने वाले आचार्य कौन हैं→वल्लभाचार्य
✒ ह्रदय की वह कौन-सी स्थायी दशा है, जो सदाचार को प्रेरित करती है→शील दशा
✒ प्रयोगवाद को ‘बैठे ठाले का धन्धा’ किस आलोचक ने कहा→नन्द दुलारे वाजपेयी

✒ चंदबरदाई किसके दरबारी कवि थे→पृथ्वीराज चौहान के
✒ अपभ्रंश को ‘पुरानी हिन्दी’ किसने कहा है→चन्द्रधर शर्मा गुलेरी
✒ कबीर किस काव्य धारा के कवि हैं→ज्ञानमार्गी
✒ ‘विपाशा पत्रिका’ का प्रकाशन किस प्रदेश से होता है→उत्तर प्रदेश
✒ साहित्य को क्या माना गया है→कठिन तपस्या और महान यज्ञ
✒ निम्न में से किन्हें ‘राष्ट्रकवि’ कहा जाता है→रामधारी सिंह दिनकर
✒ कबीरदास की भाषा थी→सधुक्कड़ी बोली
✒ ‘जनमेजय का नागयज्ञ’ किसकी कृति हैं→जयशंकर प्रसाद
✒ ‘श्रद्धा’ किस कृति की नायिका है→कामायनी
✒ हिन्दी नाटकों के मंचन में ‘यक्षगान’ का प्रयोग किसने किया है→गिरीश कर्नाड
✒ आचार्य रामचन्द्र शुक्ल के निबन्ध संग्रह का नाम है→चिंतामणि
✒ भारत में सर्वाधिक किस भाषा का प्रयोग किया जाता है→हिन्दी भाषा
✒ अधिकतर भारतीय भाषाओं का विकास किस लिपि से हुआ→ब्राह्मी लिपि
✒ हिन्दी खड़ी बोली किस अपभ्रंश से विकसित हुई है→शौरसेनी
✒ श्रृंगार रस का स्थायी भाव क्या है→अद्भुत
✒ माधुर्य गुण का किस रस में प्रयोग होता है→भयानक
✒ नवल सुन्दर श्याम में कौन-सा अलंकार है→उल्लेख अलंकार
✒ ‘कामायनी’ किस प्रकार का ग्रंथ है→महाकाव्य
✒ कालिदास की अन्तिम रचना ‘अभिज्ञान शाकुन्तलम्’ का हिन्दी अनुवाद किसने किया था→राजा लक्ष्मण सिंह
✒ तुलसीदास ने अपनी रचनाओं में किसका वर्णन किया है→राम
✒ ज्ञानपीठ पुरस्कार पाने वाले हिन्दी के प्रथम साहित्यकार हैं→सुमित्रानन्दन पंत
✒ ‘आकाशदीप’ कहानी के लेखक हैं→जयशंकर प्रसाद
✒ ‘रामचरितमानस’ में कितने काण्ड हैं→7
✒ ‘राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय’ कहाँ है→नई दिल्ली
✒ श्रृंगार रस का स्थायी भाव है→रति
✒ जाकी रही भावना जैसी, प्रभु मूरत देखी तिन तैसी। प्रस्तुत पंक्ति के रचयिता हैं→तुलसीदास
✒ भारतीय संविधान के किस अनुच्छेद में हिन्दी को राजभाषा घोषित किया गया है→343
✒ खड़ी बोली का प्रयोग सबसे पहले किस पुस्तक में हुआ→प्रेम सागर
✒ देवनागरी लिपि का विकास किस लिपि से हुआ है→ब्राह्मी लिपि
✒ निम्नलिखित शब्दों में से किसमें व्यंजन संधि है→सत्कार
✒ ‘भारत भारती’ (काव्य) के रचयिता का नाम है→मैथिलीशरण गुप्त
✒ सर्वनाम कितने प्रकार के होते हैं→छ:
✒ भरतमुनि ने अपभ्रंश को नाम दिया है→अशुद्धभाषा
✒ ‘महोदय’ में कौन-सी संधि है→गुण
✒ अष्टछाप के कवियों में प्रथम नियुक्त कीर्तनकार कवि कौन थे→सूरदास
✒ ‘उद्धवशतक’ किसकी कृति है→जगन्नाथदास रत्नाकर
✒ ‘प्रभुजी तुम चन्दन हम पानी’ किसकी पंक्ति है→रैदास
✒ ‘एक भारतीय आत्मा’ नाम से कविता की रचना किसने की→माखन लाल चतुर्वेदी ने
✒ अज्ञेय की कौन-सी रचना यात्रा पर आधारित है→एक बूंद सहसा उछली
✒ इनमें से कौन भरतमुनि के रस-सूत्र का व्याख्याकार है→भट्टलोल्लट
✒ ‘रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून’ में कौन-सा अलंकार है→श्लेष
✒ जयशंकर प्रसाद की ‘चन्द्रगुप्त’ निम्नांकित में से क्या है→नाटक
✒ तुलसीदास की किस रचना का सम्बन्ध ज्योतिष से है→रामाज्ञा प्रश्न
✒ ‘कवि सम्राट’ इसे कहा जाता है→अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’
✒ निम्न में से स्त्रीलिंग शब्द कौन-सा है→ठंडाई
✒ हिन्दी ग़ज़ल लेखन का कार्य किसने प्रारंभ किया→दुष्यंत कुमार
✒ निम्नलिखित में कौन-सी हिन्दी पत्रिका है→केरल ज्योति
✒ ‘मधुर-मधुर मेरे दीपक जल’ में कौन-सा भाव व्यक्त हुआ है→विरह और रहस्य
✒ ‘बरवै रामायण’ किसकी रचना है →तुलसीदास
✒ निम्नलिखित में से अर्द्ध स्वर कौन-सा है→य
✒ हिन्दी की मूल उत्पत्ति किससे हुई है→वैदिक संस्कृत
✒ निम्नलिखित में से कौन-सी भाषा देवनागरी लिपि में लिखी जाती है→मराठी भाषा
✒ इनमें संयुक्त व्यंजन कौन-सा है→ज्ञ
✒ सूर्य शब्द का स्त्रीलिंग क्या होगा→सूर्या
✒ हिन्दी साहित्य के आधुनिक काल को इस नाम से भी अभिहित किया जाता है→गद्य काल
✒ मुझे तोड़ लेना वनमाली, उस पथ पर देना तुम फेंक
✒ मातृभूमि पर शीश चढ़ाने, जिस पथ जावें वीर अनेक
✒ प्रस्तुत पंक्ति के रचयिता हैं→माखन लाल चतुर्वेदी
✒ रामधारी सिंह दिनकर किस रस के कवि माने जाते हैं→वीर रस

✒ ‘मधुशाला’ के लेखक हैं→हरिवंश राय बच्चन
✒ जहाँ बिना कारण के कार्य का होना पाया जाए वहाँ कौन सा अलंकार होता है→विभावना
✒ हिन्दी की पहली कहानी लेखिका का नाम है→बंग महिला
✒ ‘मोक्ष की इच्छा करने वाला’ कहलाता है→मुमुक्षु
✒ संज्ञा के कितने भेद हैं→तीन
✒ निम्नलिखित में से कौन-सी रचना खड़ी बोली की है→साकेत
✒ ‘ठेले पर हिमालय’ किसकी रचना है→धर्मवीर भारती
✒ सबसे प्राचीन कौन सी वीरता है।→वाकवीरता
✒ ‘आँसू’ का बहुवचन क्या होगा→आँसुओं
✒ ‘नीलकमल’ में कौन-सा समास है→कर्मधारय समास
✒ ‘गीतांजलि’ के रचयिता कौन हैं→रबीन्द्रनाथ टैगोर
✒ चाय किस भाषा का शब्द है→चीनी
✒ व्याकरण की दृष्टि से ‘प्रेम’ शब्द क्या है→भाववाचक संज्ञा
✒ उत्तर भारत में भक्ति का प्रसार करने का श्रेय किसे प्राप्त है→स्वामी रामानंद
✒ हिन्दी का पहला दैनिक समाचार-पत्र कौन-सा था→उतण्ड मार्तण्ड
✒ जयशंकर प्रसाद की काव्य-भाषा कौन-सी है→खड़ी बोली
✒ ‘दाँतों तले अंगुली दबाना’ का अर्थ क्या होगा→आश्चर्य करना
✒ भारत-विभाजन और सांप्रदायिकता की घटनाओं से संबंधित कौन-सी कहानी है→मलवे का मालिक
✒ भाषा के शुद्ध रूप का ज्ञान किससे होता है→व्याकरण
✒ निम्नलिखित में से कौन-सी रचना रामधारी सिंह ‘दिनकर’ की है→उर्वशी
✒ मैथिली का विकास किस अपभ्रंश से माना जाता है→मागधी अपभ्रंश
✒ रामकथा पर आधारित काव्य कौन-सा है→अग्निलीक
✒ काव्य क्षेत्र में ‘प्रबन्ध शिरोमणि’ की उपाधि किसे दी गई है→मैथिलीशरण गुप्त
✒ जहाँ उपमेय में अनेक उपमानों की शंका होती है, वहाँ कौन-सा अलंकार होता है→संदेह
✒ हिन्दी साहित्य के इतिहास के सर्वप्रथम लेखक का नाम क्या है→गार्सा द तासी
✒ ‘प्रेमसागर’ के लेखक कौन हैं।→लल्लू लाल
✒ ‘चरण-कमल बन्दौ हरि राई’ में कौन-सा अलंकार है→रूपक अलंकार
✒ जिन शब्दों के अंत में ‘अ’ आता है, उन्हें क्या कहते हैं→अकारांत
✒ सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला की कविता ‘जूही की कली’ किसका उदाहरण है→मुक्त छंद का
✒ वल्लभाचार्य किस सम्प्रदाय के संस्थापक हैं→शुद्धाद्वैत
✒ निम्न में से किस पुस्तक में ‘भ्रमरगीत’ का प्रसंग है→सूरसागर
✒ ‘गागर में सागर’ मुहावरे का अर्थ क्या है→संक्षेप में गहरी बात कहना
✒ 2007 ई. का आठवां ‘विश्व हिन्दी सम्मेलन’ कहाँ आयोजित हुआ था→न्यूयॉर्क
✒ चौपाई के चारों चरणों में कितनी मात्राएँ होती है→सोलह
✒ अपभ्रंश शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम किसने किया→पतंजलि
✒ भारतेन्दु हरिशचंद्र के अनुसार हिन्दी नयी चाल में कब ढली→1873 ई.
✒ ‘तोड़ती पत्थर’ कैसी कविता है→यथार्थवादी

✒ ‘शोभित कर नवनीत लिए, घुटरुनि चलत रेनु तन मण्डित मुख दधि लेप किए’। इन पंक्तियों में कौन-सारस है→वात्सल्य रस
✒ रीतिकाल का वह कौन-सा कवि है, जो अपनी मात्र एक कृति से हिन्दी साहित्य में अमर हो गया→बिहारी
✒ निम्नलिखित में से ‘छायावाद’ के प्रवर्तक का नाम क्या है→जयशंकर प्रसाद
✒ निम्न विकल्पों में से कौन-सा एक महाकाव्य नहीं है→कुरुक्षेत्र
✒ अर्थ के आधार पर वाक्य के कितने भेद होते हैं→आठ
✒ मनोविश्लेषणात्मक शैली के उपन्यासकार कौन हैं→इलाचन्द्र जोशी
✒ बिहारी निम्नलिखित में से किस काल के कवि थे→रीतिकाल
✒ दोपहर के बाद के समय को क्या कहा जाता है→अपराह्न
✒ ‘बुँदेले हरबोलों के मुँह हमने सुनी कहानी थी।
✒ खूब लड़ी मर्दानी वह तो झाँसी वाली रानी थी॥’
✒ प्रस्तुत उपरोक्त पक्तियों के रचयिता कौन हैं→सुभद्रा कुमारी चौहान
✒ नीलगाय में कौन-सा समास है→कर्मधारय
✒ हिन्दी भाषा में कितने वचन होते हैं→दो
✒ ‘विनयपत्रिका’ के रचयिता का नाम क्या है→तुलसीदास
✒ प्रथम सूफ़ी प्रेमाख्यानक काव्य के रचयिता कौन हैं→मुल्ला दाऊद
✒ निम्नलिखित में से कौन-सा शब्द ‘तत्सम’ है→काल
✒ चौपाई के चारों चरणों में कितनी मात्राएँ होती हैं→सोलह
✒ ‘अशोक के फूल’ (निबंध-संग्रह) के रचनाकार कौन हैं→हज़ारी प्रसाद द्विवेदी
✒ हिन्दी साहित्य के आधुनिक काल को इस नाम से भी अभिहित किया जाता है→गद्य काल
✒ ‘मानवीकरण अलंकार’ का प्रयोग किस प्रकार की कविता में हुआ है→नयी कविता में
✒ ‘रामचरितमानस’ किस भाषा में लिखा गया है→अवधी
✒ पृथ्वीराज रासो’ किस काल की रचना है→आदि काल
✒ ‘विखंडन’ की अवधारणा का संबंध किस ‘वाद’ से है→संरचनावाद
✒ जायसी के सर्वोत्कृष्ट ग्रंथ का नाम क्या है→पद्मावत
✒ “ऊधव मोहिं ब्रज बिसरावत नाहीं” में कौन-सा रस है→श्रृंगार रस
✒ दोहा और रोला को क्रम से मिलाने पर कौन-सा छंद बनता है→कुण्डलिया
✒ ‘धातुसेन’ प्रसाद के किस नाटक का पात्र है→स्कंदगुप्त
✒ ‘मुन्डा भाषा’ परिवार का क्षेत्र कौन-सा है→छोटा नागपुर
✒ ‘आनन्द कादम्बिनी’ पत्रिका के सम्पादक कौन थे→चौधरी बदरीनारायण प्रेमघन
✒ ‘राजगृह’ में कौन-सा समास विद्यमान है→तत्पुरुष समास
✒ ‘कामायनी’ किसकी रचना है→जयशंकर प्रसाद
✒ ‘इतिहास’ शब्द का शुद्ध विशेषण क्या है→ऐतिहासिक
✒ ‘महात्मा गाँधी अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय’ का मुख्यालय कहाँ पर है→वर्धा
✒ राजेंद्र कुमार द्वारा सम्पादित पुस्तक ‘आलोचना का विवेक’ किस विधा से संबंधित है→आलोचना
✒ ‘बीसलदेव रासो’ के रचनाकार का नाम क्या हैं→नरपति नाल्ह
✒ भूषण किस रस के कवि थे→वीर रस
✒ ‘निराला’ को कैसा कवि माना जाता है→क्रान्तिकारी
✒ ज्ञानपीठ पुरस्कार किस क्षेत्र में श्रेष्ठ कार्य के लिए दिया जाता है→साहित्य
✒ ‘कठिन काव्य का प्रेत’ किस कवि को कहा जाता हैं→केशवदास को
✒ हिन्दी में स्वतंत्र रूप से बोले जाने वाले अक्षर क्या कहलाते हैं→स्वर
✒ हिन्दी भाषा में वे ध्वनियाँ कौन सी हैं, जो दूसरी ध्वनियों की सहायता से बोली या लिखी जाती हैं→व्यंजन
✒ निम्नलिखित में से कौन-सी पुस्तक ‘रामचन्द्र शुक्ल’ द्वारा लिखी गई है→हिन्दी साहित्य का इतिहास
✒ वीर रस का स्थायी भाव क्या होता है→उत्साह
✒ अवधी भाषा के सर्वाधिक लोकप्रिय महाकाव्य का नाम क्या है→रामचरित मानस
✒ निम्नलिखित में से कौन-सा पश्च स्वर है→आ
✒ ‘रसोईघर’ में कौन-सा समास है→तत्पुरुष
✒ हिन्दी साहित्य के किस भाव को व्यभिचारी भाव कहा जाता है→संचारी भाव
✒ जहाँ एक ही शब्द के अनेक अर्थ व्यक्त किये गए हों, तो वहाँ कौन-सा अलंकार होता है→श्लेष
✒ आदिकाल में किस कवि ने ‘अवहट्ट भाषा’ में रचना की→अब्दुल रहमान

Leave a Comment