मल्टीमीडिया क्या है What Is Multimedia In Hindi

मल्टीमीडिया क्या है What Is Multimedia In Hindi

मल्टीमीडिया (Multimedia) क्या है: आज इस पोस्ट में हम बताने वाले हैं की मल्टीमीडिया (Multimedia) क्या है? (What is Multimedia in Hindi). मानव जीवन में एक दूसरे को समझने के लिए communication बहुत महत्वपूर्ण है। वर्षो पहले मनुष्य केवल आमने सामने ही एक दूसरे से बात कर सकता था। आज मल्टीमिडिया (Multimedia) के विकाश होने की वजह से हम न सिर्फ एक दूसरे से कहीं से भी बात कर पा रहे हैं बल्कि उन्हें हम Voice Message, Video, Location आदि भेज पा रहे हैं। इतना ही नहीं हम उनके साथ और पूरे परिवार के साथ एक साथ वीडियो कॉलिंग के माध्यम से जुड़ सकते हैं।

तो अब आप सोचेंगे की यह मल्टीमिडिया क्या है? तो आपको बता दें की मल्टीमीडिया संचार और सूचना प्रदान करने का एक उपयुक्त साधन है जिसके लिए विशेष Device की आवश्यकता होती है। तो आइए अब विस्तार से जानते हैं की मल्टीमिडिया की परिभशा क्या है और मल्टीमीडिया कितने प्रकार के होते हैं।

मल्टीमीडिया (Multimedia) क्या है?

भाषा की दृष्टि से मल्टीमीडिया दो शब्दों से मिलकर बना है, “Multi” और “Media”। यहां पर Multi का अर्थ है अनेक, जबकि मीडिया का अर्थ कुछ ऐसा होता है जिसका उपयोग Message को व्यक्त करने के लिए किया जाता है। तो मल्टीमीडिया में एक मध्यस्थ संदेश होता है जिसमें Graphics, Text, Animation, Audio और Video आदी एक से अधिक तत्व होते हैं।

सीधे शब्दों में कहें तो मल्टीमीडिया ग्राफिक्स, टेक्स्ट, एनीमेशन, ऑडियो और वीडियो का एक संयोजन है जिसे Devices पर प्रदर्शित, संग्रहीत या शेयर किया जा सकता है। हर Multimedia को प्रदर्शित करने के लिए Multimedia Software होते हैं। Adobe Photoshop, VLC Media Payer, Mx Player आदि मल्टीमिडिया सॉफ्टवेयर के उदाहरण हैं।

आमतौर पर कंप्यूटर में कुछ अतिरिक्त हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर जोड़कर, आप कंप्यूटर पर काम करने के साथ-साथ Image भी देख सकते हैं, गाने सुन सकते हैं, आदि। इसे मल्टीमीडिया इसलिए कहा जाता है क्योंकि एक ही डिवाइस से कई तरह के काम किए जा सकते हैं।

दरअसल मल्टीमीडिया शब्द एक ऐसा शब्द है जो थिएटर की दुनिया से आया है। एक से अधिक माध्यमों में प्रदर्शित होने वाले शो को मल्टीमीडिया शो (Multimedia Show) कहा जाता है। जहां मल्टीमीडिया प्रदर्शन में कई चीजें शामिल होती हैं जैसे कि video monitors, synthesized bands, साथ ही कुछ व्यक्ति भी Show में काम करते है।

मल्टीमीडिया की शुरूआत कैसे हुई?

History of Multimedia in Hindi :- गुटेनबर्ग और कैक्सटन 15वीं शताब्दी में प्रिंट मीडिया की शुरुआत करने वाले पहले व्यक्ति थे। फिर 19वीं शताब्दी में यह शुरूआत जारी रहा, जिस समय दुनिया में संचार के विकास के लिए तरह तरह के खोज हुए। मैथ्यू ब्रैडी ने 1862 में अपनी फोटोग्राफिक कास्ट करके जनता को चौंका दिया था।

इसके अलावा सैमुअल मोर्स के द्वारा टेलीग्राफ के आविष्कार किया गया। अलेक्जेंडर ग्राहम बेल द्वारा टेलीफोन का आविष्कार किया गया। गुग्लिमो मार्कोनी द्वारा रेडियो का आविष्कार किया गया। इसके बाद अगला जॉन लोगी बेयर्ड और लुमियर भाइयों द्वारा टेलीविजन के आविष्कार किया गया था। 1940 के दशक के अंत में टेलीविजन क्रांति ने मल्टीमीडिया को और अधिक गंभीर विकास में ला दिया। इसके साथ ही 1960 के दशक से जब कंप्यूटर और इंटरनेट का युग शुरू हुआ तो मल्टीमिडिया का और विकास हुआ। मल्टीमीडिया तब 1980 के दशक के अंत में जाना जाने लगा।

वर्तमान में, कंप्यूटर का उपयोग एक ऐसा माध्यम भी प्रदान करता है जो सूचनाओं का प्रसार करता है और यूजर के लिए मनोरंजन प्रदान करता है। आज कंप्यूटर कोई विलासिता की वस्तु नहीं है, बल्कि सभी की आवश्यकता है। यह मल्टीमीडिया कंप्यूटर प्रौद्योगिकी के निर्माण के विकास को दर्शाता है।

मल्टीमीडिया कितने प्रकार के होते हैं?

मल्टीमीडिया को मुख्य रूप से दो भागों में बाँटा जा सकता है।

  • रैखिक (Linear)
  • गैर रेखीय (Non Linear)

रेखीय  (Linear)

ऐसे मल्टीमीडिया जो समय पर निर्भर होते हैं, रैखिक मल्टीमीडिया (Linear Multimedia) कहलाते हैं। यह ऐसा मल्टीमीडिया है जिसे अनुक्रमिक तरीके से प्रस्तुत करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसकी एक अलग शुरुआत और अंत है। यह एक तार्किक प्रवाह पर एक प्रारंभिक बिंदु से एक निष्कर्ष तक जाता है। यह स्वतंत्र रूप से इसे नियंत्रित करने के अवसर के बिना किया जाता है। ऐसे मल्टीमीडिया में यूजर्स को टेक्स्ट, ग्राफिक्स आदि को कंट्रोल करने का ज्यादा मौका नहीं मिलता है। उदाहरण के लिए: ऑडियो, वीडियो, GIF आदि।

गैर-रेखीय  ( Non-linear)

ऐसा मल्टीमीडिया जो समय पर निर्भर नहीं होता है, गैर-रेखीय मल्टीमीडिया (Non Linear Multimedia) कहलाती है। गैर-रेखीय मल्टीमीडिया को असतत मीडिया भी कहा जाता है। यह एक ऐसा मल्टीमिडिया है जो आपको सख्त आदेश का पालन किए बिना सामग्री के माध्यम से नेविगेट करने की अनुमति देती हैं। आप इस मल्टीमीडिया को जब चाहे जहां से भी चाहें देख सकते हैं और नेविगेट कर सकते हैं। टेक्स्ट या इमेज आदि नॉन-लीनियर मल्टीमीडिया के उदाहरण हैं। Non Linear Multimedia पुनः दो प्रकार का होता है।

हाइपर मीडिया (Hyper Media)

हाइपरमीडिया मुख्य रूप से इंटरनेट वेबसाइटों पर उपयोग किया जाता है। इंटरनेट वेबसाइटें बड़ी मात्रा में जानकारी प्रदान करती हैं ताकि उपयोगकर्ता अपनी आवश्यकताओं के अनुसार विषय चुन सकें। वेबसाइट पर उपलब्ध कंटेंट आदि Hyper Media के उदाहरण हैं।

इंटरएक्टिव मल्टीमीडिया (interactive multimedia)

यह सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला मल्टीमीडिया है। ऐसे मल्टीमीडिया में अधिकतम User का नियंत्रण होता है। इसमें ऐसे Image या Text शामिल हैं जिन्हें अपनी इच्छा के अनुसार आसानी से नियंत्रित किया जा सकता है।

मल्टीमीडिया का उपयोग कहां किया जाता है?

सूचना प्रौद्योगिकी का विकाश होने से, मल्टीमीडिया का उपयोग बड़े पैमाने पर बढ़ रहा है। मल्टीमीडिया का व्यापक उपयोग आजकल हर जगह देखा जा सकता है। मल्टीमीडिया के उपयोग के बारे में संक्षेप में नीचे चर्चा की गई है:

मनोरंजन (Entertainment) : मल्टीमीडिया मनोरंजन का एक मुख्य श्रोत है। विशेष रूप से कंप्यूटर गेम, संगीत सुनना या कंप्यूटर की मदद से तस्वीरें देखने में मल्टीमीडिया का ही इस्तेमाल किया जाता है। विभिन्न प्रकार की फिल्मों और एनिमेशन में विशेष Effects उत्पन्न करने के लिए Entertainment industry में मल्टीमीडिया का भी कई तरह से उपयोग किया जाता है।

शिक्षा (Education)

मल्टीमीडिया की सहायता से words, letters, images आदि को एक साथ जोड़कर एक Colourful education system विकसित की गई है। प्राथमिक विद्यालय से लेकर विश्वविद्यालय स्तर तक के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में मल्टीमीडिया का उपयोग सीखने के माध्यम के रूप में किया जाता है।

इस मल्टीमीडिया के उपयोग का अच्छा प्रभाव पड़ता है क्योंकि यह बहुत प्रभावी होता है। शिक्षण पद्धति जो नीरस और उबाऊ लगती है, मल्टीमीडिया को एक बहुत ही रोचक नवाचार बनाती है ताकि छात्र इस मल्टीमीडिया का उपयोग करने वाली शिक्षण विधियों को बेहतर ढंग से समझ सकें और पसंद कर सकें।

मल्टीमीडिया भी यह पता लगाने का सही उपकरण है कि प्रत्येक छात्र की रुचि क्या है, उन्हें अपनी रुचि के क्षेत्रों को चुनने, अपनी इच्छा के अनुसार सीखने की स्वतंत्रता है, ताकि छात्र स्कूल में शिक्षण और सीखने की प्रक्रिया में अधिक सक्रिय हो सकें।

व्यापार (Business)

किसी भी Products के बारे में विज्ञापन या विस्तृत जानकारी अब मल्टीमीडिया सॉफ्टवेयर में प्रकाशित की जाती है, ताकि कोई भी Products के बारे में विवरण जान सके। इसके अलावा, ई-कॉमर्स के माध्यम से, एक कंपनी अपने Products का ऑर्डर और डिलीवरी ले सकता है।

इस तरह, जहां जनता आसानी से सीधे जानकारी तक पहुंच और प्राप्त कर सकती है। मल्टीमीडिया विभिन्न स्थानों, स्टेशनों, हवाई अड्डों, शॉपिंग सेंटरों, पर्यटकों के आकर्षण से लेकर शैक्षणिक संस्थानों तक में पाया जा सकता है। वर्तमान में, सूचना के प्रसार के लिए कंप्यूटर, लैपटॉप और गैजेट जैसे विभिन्न उपकरण भी हैं, इसलिए जानकारी प्राप्त करने के लिए किसी विशेष स्थान पर जाने की आवश्यकता नहीं है।

चिकित्सा (Hospitality)

चिकित्सा क्षेत्र में मल्टीमीडिया का उपयोग अवर्णनीय है। पहले एक माँ को जन्म देने के बाद ही अपने बच्चे के लिंग का पता चलता था। हालाँकि, प्रौद्योगिकी के विकास के साथ, विशेष रूप से मल्टीमीडिया के माध्यम से ही, अब एक माँ अपने बच्चे के जन्म के कुछ महीने पहले ही उसके लिंग का पता लगा सकती है।

एक स्कैनिंग डिवाइस की खोज, अर्थात् अल्ट्रासाउंड, डॉक्टरों को गर्भ में भ्रूण की स्थिति जानने की अनुमति देती है। यह स्वास्थ्य क्षेत्र में मल्टीमीडिया के उपयोग का एक उदाहरण है जो मनुष्यों के लिए बहुत उपयोगी है।

स्वास्थ्य की दुनिया में अल्ट्रासाउंड डिवाइस ही एकमात्र मल्टीमीडिया डिवाइस नहीं हैं। एक्स-रे स्कैनर भी है, जो डॉक्टरों के लिए अपने रोगियों में स्वास्थ्य समस्याओं का निदान करने के लिए एक महत्वपूर्ण उपकरण है। ये खोजें मीडिया कर्मियों के लिए अपने रोगियों को ठीक करने और बचाने के उनके प्रयासों में बहुत मददगार हैं।

विज्ञापन (Advertisement) : बड़े निर्माता अपने Products का प्रचार प्रसार करने और उसे बढ़ावा देने के लिए विभिन्न प्रकार के मल्टीमीडिया का उपयोग करते हैं। जैसे होर्डिंग, दीवार पर लिखाई आदि।

आज इस पोस्ट में मैने बताया की मल्टीमीडिया क्या है और इसका इस्तेमाल कहां कहां किया जाता है। आशा करता हूं आपको इस पोस्ट से मदद मिली होगी। यदि आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अन्य लोगों के साथ भी जरूर शेयर करें। मल्टीमीडिया क्या है इसके प्रकार मल्टीमीडिया की विशेषताएं क्या है मल्टीमीडिया के फायदे और नुकसान मल्टीमीडिया क्या है मल्टीमीडिया के विभिन्न सॉफ्टवेयर की व्याख्या कीजिए मल्टीमीडिया सॉफ्टवेयर क्या है मल्टीमीडिया एलिमेंट्स क्या है मल्टीमीडिया के उपयोग

यह पोस्ट एक Guest पोस्ट है और इस पोस्ट को लिखा है MyHinditricks का admin Parvez जी ने।
Multimedia
Comments (0)
Add Comment