शुगर लेवल कम कैसे करें शुगर लेवल कम करने वाले पौष्टिक आहार

शुगर लेवल कम कैसे करें  शुगर लेवल कम करने वाले पौष्टिक आहार

how to reduce Suger level from your diet –   शुगर लेवल कम करने के लिए कौन सा आहार लेना चाहिए कम शुगर वाले खाद्य पदार्थ शरीर का शुगर लेवल  घटाने के लिए आहार. आजकल के व्यक्तियों में यह वह किसी भी उम्र का व्यक्ति हो  उसका शुगर लेवल बड़ी जल्दी से बढ़ रहा है वह शुगर की बीमारी की चपेट में आ रहा है।  शुगर की बीमारी का स्तर पूरे विश्व में इतना तेजी से बढ़ रहा है जिसका अंदाजा लगाना बहुत ही मुश्किल है । पैकेट बंद खाना लोगों का  काम नहीं हो रहा फास्ट फूड पर ज्यादातर आज के युवा  मजे से खा रहे हैं बिना अपने स्वास्थ्य की परवाह किए  घर के भोजन की कोई तकलीफ नहीं देता खासकर युवा वर्ग खाने पीने की चीजों को लेकर बहुत लापरवाह है। यही कारण है कि  आज शुगर  घर घर की  समस्या बना हुआ।  पहले कहीं कभारर शुगर के पेशेंट मिलते थे वह भी एक  उम्र गुजर जाने के बाद  आजकल तो  किसी भी उम्र का  लिहाज नहीं रखती हर उम्र के लोगों को शुगर हो रही है।

आजकल का खान पीन लोगों को ज्यादा बीमार कर रहा है लोग मेहनत ज्यादा नहीं करते किंतु खाने पीने में ऐसी चीजों का इस्तेमाल करते हैं जो रोज रोज  हमें पोषित करने के बजाए हमें भी मार रहा है। आज का हार खाने के बाद व्यक्ति तंदुरुस्त नहीं हो रहा। बल्कि बीमारी की तरफ जा रहा है कम उम्र में ही लोग बड़े-बड़े गंभीर बीमारियों से ग्रसित होते जा रहे हैं।

पहले का जमाना हुआ करता था कि कहीं भी बहुत दूर दराज में कोई भी बीमार देखने को मिलता था किंतु आज का ऐसा समय आ गया है कि हर घर में एक दो बीमार जरूर रहते हैं। वह भी कम उम्र वाले लोग ज्यादा बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं इस का सबसे बड़ा कारण है प्रिजर्वेटिव खाना आहार आज का पैकेट बंद खाना आज का और का उटपटांग आहार हमें बीमारी की तरफ धकेल रहा है। यदि खाने पीने की चीजों को सही कर ले तो हम कभी बीमार नहीं पढ़ सकते। यदि आपको अच्छी डाइट लेना नहीं आता तो वह बीमारी के चंगुल में फंस जाएंगे।

आज हम आपको शुगर कम करने के लिए डाइट प्लान बताने वाले हैं इसे फॉलो करके आप अपने शुगर के लेवल को बिना किसी एलोपैथ की सहायता लिए कम कर सकती हो चलिए शुरू करते हैं.

शुगर कम करने की डाइट प्लान क्या है

what is plan to reduce suger level from your diet – आपकी उम्र चाहे छोटी हो या बड़ी आप अपने खाने का विशेष ध्यान नहीं देंगे तो आप बीमारी के चंगुल में जरूर फंस जाएगे। आपको बीमारी के चंगुल में ना फसने के लिए हम आपके लिए लाएं ऐसा डाइट प्लान जिसे फॉलोकरके आप अपने शरीर से शुगर की मात्रा कम कर सकते हैं। और अपने आप को फिट कर सकते हैं आजकल के जमाने में शुगर हर व्यक्ति के अंदर इतनी तेजी से बढ़ रहा है। कि लोग इस बीमारी से त्रस्त हो गए हैं।

Sugar kam karne ke upay in hindi – एलोपैथ में इसका कोई इलाज ना होने के कारण एक दवा से हजार दवा खाने पर मजबूर हो जाते हैं। लेकिन कभी भी शुगर की बीमारी ठीक नहीं कर पाते । यदि हम अपने खानपान का विशेष ध्यान देने लगे प्रकृति से जुड़ जाएं तो हम शुगर जैसी लाइलाज बीमारी से भी छुटकारा पा सकते हैं। आज हम आपके लिए अपने इस आर्टिकल में ऐसे ही खानपान का डाइट प्लान लेकर आए हैं जिससे आप यदि अपने जीवन में शामिल करेंगे तो आप शुगर जैसी गंभीर बीमारियों से भी निजात पाएंगे। और एलोपैथ की गंभीर दवाओं को खा खाकर शरीर खराब करके अपने शरीर की दुर्दशा बना ली है उसे भी  ठीक कर पाएंगे और शुगर की जिंदगी से भी छुटकारा पा पाएंगे।

हमारे शरीर में शुगर क्यों बढ़ता है

शुगर बढ़ने का मतलब होता है हमारे शरीर में हमारा पैंनक्रियाज कमजोर हो चुका है वह पाचन नहीं कर पा रहा है हमारा शरीर शुगर की अधिक मात्रा होने की वजह से शरीर को पोषित नहीं कर पाता शरीर के हर सेल्स को ऑक्सीजन की जरूरत होती है। इसके लिए शुगर सामान्य होना चाहिए यदि शुगर सामान्य नहीं होगा तो हमारे शरीर के सेल्स बेकार होने लगते हैं और हमें कई तरह की गंभीर बीमारियां हो जाती हैं। शुगर लेवल हमारे शरीर को ऑक्सीजन तथा पोषण देने का काम करता है। शुगर लेवल ठीक है तो हमारे शरीर का एक-एक अंग पोषित होता रहेगा।

तथा उसे उसमें मौजूद शरीर के सारे सेल्स को शरीर का पोषण मिलने के साथ उसे रोगों से लड़ने की क्षमता भी बनी रहती है। शुगर लेवल शुगर की अधिक मात्रा हो जाने की वजह से शरीर में विभिन्न प्रकार की बीमारियां आने लगती है शुगर लेवल तब बढ़ता है ।जब हमारा शरीर ठीक से भोजन का पाचन नहीं कर पाता शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है हमारा पेनक्रियाज एकदम से निष्क्रियता की ओर बढ़ने लगता है।

काम करना बंद कर देता है या कमजोर होने की वजह से ही शुगर बीमारी बढ़ती हैं। शरीर का ब्लड पतला नहीं होने के कारण शुगर की मात्रा बढ़ जाती है ।यदि हमारा शरीर में मौजूद ब्लड पतला रहता है तो उसमें चांस रहते हैं कि हम स्वस्थ हैं जैसे जैसे शरीर में शुगर लेवल बढ़ता है हमारा ब्लड गाढ़ा होता जाता है उसमें अधिक गाढ़ा हो  हो जाने की वजह से हमारी रक्त की धमनियों में ब्लड सरकुलेशन कम होने लगता है।

जिससे कि हमारे शरीर के मौजूद आर्गन को पोसकता मिलनी कम हो जाती है और धीरे-धीरे सारे अंगों में इसका प्रभाव भी दिखने लगता है। शुगर लेवल कम करने के लिए हमें कुछ विशेष चीजों पर ध्यान देना पड़ता है उसमें सबसे पहले आती है हमारी डाइट खाने पीने की अच्छी  यही सब ठीक कर सकती है।

शुगर के दुष्प्रभाव

Diabetes symptoms in hindi – हमारे शरीर में शुगर के बढ़ जाने से कई प्रकार के दुष्प्रभाव हो जाते शुगर यह कैसी बीमारी है जिसके आने के बाद बीमारी से आने की शुरुआत हमारे शरीर में हो जाती है। मोटापा थायराइड ब्लड प्रेशर अनिद्रा जोड़ों का दर्द स्किन की बीमारियां रोशनी कम होना बाल झड़ना हार्ट पेशेंट बन्ना सर दर्द बने रहना शरीर में एसिड का दुष्प्रभाव हो जाना।

शरीर में एसिड पीएच अत्यधिक मात्रा में बनने लगना सांस की समस्या अस्थमा होना ऐसी कई प्रकार की बीमारियां शुगर हो जाने के बाद हमारे शरीर में ऐसी स्पीड से आती हैं मानो कोई दरवाजा खुलने के बाद बाढ़ का पानी घुस आता हो। शुगर में सबसे बड़ी दिक्कत है आती है कि एलोपैथ में इसका कोई इलाज नहीं है एलोपैथ वाले मरीजों को चूतिया बनाते हैं। एक दवा से तो दवा दो दवा से 10 दवा इसी तरह बढ़ाते बढ़ाते शरीर को मरीज कितना खराब कर देते हैं कि वह शुगर से लड़ने की क्षमता खो देता है ।

और अंत में वह ऐसी स्थिति में आ जाता है कि ना तो वह ठीक से कार्य कर पाता है ना ही अपना जीवन जी पाता है शुगर के अत्यधिक प्रभाव से शरीर का मानसिक संतुलन बिगड़ सकता है शरीर अपंग हो सकता है। शरीर में जोड़ों की गंभीर समस्या हो सकती है। हार्ट अटैक आ सकता है ब्लड प्रेशर बिगड़ सकता है पेट के कई गंभीर हो रोग हो सकते हैं जैसे हेपेटाइटिस सिरोसिस फैटी लीवर इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम जैसी कई अन्य बीमारियां शुगर के दुष्प्रभाव से हो सकती है।

शुगर को मेंनटेन रखना हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है यदि वह केवल एलोपैथ के इलाज में भागता रहेगा उटपटांग खाना-पीना करता रहेगा तो वह कभी भी छुटकारा नहीं पा सकता सुबह जैसी बीमारियों से शुगर की बीमारी उन्हीं लोगों के लिये लाइलाज है जो अपने खान पीएम को नहीं सुधार पाते जो भी और एलोपैथिक दवाई खाकर खाट अपनी शारीरिक स्थिति खराब कर लेते हैं।

शुगर की बीमारी कम करने के लिए क्या खाएं

यदि हम अपने आहार में ऐसी चीजों को शामिल करें जो पाचन में सहायक हैं और हमें ऊर्जा देने वाली चीजें हैं डाइट में शामिल करें शुगर का प्रयोग कम करें शरीर में ना डालें तो हम बड़ी आसानी से शुगर को भी कंट्रोल कर सकते हैं।

व्यक्ति को दिन भर में अपने खाने में हर 1 टाइम के भोजन में 30 ग्राम चीनी से ज्यादा नहीं लेनी चाहिए। अपनी दिनचर्या में जितना हो सके वॉटर intake बढ़ा देना चाहिए जितना शरीर में पानी की तरलता बनी रहेगी शुगर लेवल को कंट्रोल करने में आपको उतनी ही सहूलियत होगी शरीर में सबसे ज्यादा पानी का महत्व होता है पानी आप समय-समय पर पीते रहेंगे तो शुगर के दुष्प्रभाव कम होते रहेंगे।

शरीर में शुगर की मात्रा कम करने के लिए अगर हम कोई विषय चीजों का ध्यान दे दे तो हमें शुगर कभी भी नुकसान नहीं पहुंचा सकता. इसके लिए आपको अपने शरीर में होने वाली दिन भर की गतिविधियों पर ध्यान देना होता है। हमारा शरीर ज्यादा कैलोरी तो नहीं ले रहा हमारा शरीर ज्यादा शुगर तो नहीं खा रहा। हम अपने आहार में कैसी चीजें खा रहे हैं । हमारा आहार ज्यादा बाजार की चीजों से तो नहीं भरा है। हमारा आहार ज्यादा शुगर युक्त चीजों से तो नहीं बना है।

हमारे आहार में प्रोटीन कितना है कैल्शियम कितना है हम हरी सब्जियों का सेवन कितना कर रहे हैं। हम फलों का सेवन कितना कर रहे हैं। हमारा वजन बढ़ रहा है कि घट रहा है । हमें कोई दूसरी हमें कोई दूसरी शारीरिक परेशानियां अंदरूनी दर्द चक्कर एंजायटी उलझन शरीर में दर्द सर में दर्द किसी भी प्रकार उलझन शरीर में दर्द सर में दर्द किसी भी प्रकार की अंदरूनी समस्या तो नहीं हो रही।

इन सब चीजों का ध्यान देना बहुत जरूरी है । आजकल के समय में यदि आप अपने शरीर का ध्यान दे देंगे तो आप अच्छा जीवन और लंबा जीवन भी जिएंगे साथी समाज में व्याप्त गंभीर बीमारियों से भी बच पाएंगे। शुगर का लेवल कम करने के लिए हमें अपने आहार में हरी सब्जियां रेशेदार फल छिलके वाली दाल वाटर इंटेक्स को बढ़ाना बहुत आवश्यक है।

शुगर में क्या न करे

यदि व्यक्ति मेहनत करने वाला है एक्सरसाइज करता है मेहनत का काम करता है तो वह किसी भी प्रकार का भोजन कर सकता है।

  • किंतु आजकल के इस मॉडल जमाने में हर आदमी अंग्रेज बनने की कोशिश करता है वह मेहनत नहीं करता खाने में उटपटांग चीजों का इस्तेमाल करता है।
  • प्रिजर्वेटिव बाजार का आइटम फास्ट फूड पर ज्यादा तवज्जो देता है घर का सादा भोजन किसी को पसंद नहीं आता यही सब बुरी आदतें शुगर के लेवल को बढ़ाने का काम करती है।
  • कम उम्र में लोग कई जटिल बीमारियों के शिकार होने लगे हैं। इसका मेन कारण है कि शारीरिक मेहनत कम कर देना आहार में बाजार की चीजों का ज्यादा इस्तेमाल करना शुगर का ध्यान ना देना।
  • यही सारी चीजें हमें बीमारी की तरफ धकेल रही है।
  • साथ ही हम जितनी बार भी भोजन कम से कम शुगर युक्त आहार हो कम से कम कार्बोहाइड्रेट हो कम से कम देर से पकने वाली चीजें हैं खाना जितना हो सके चबाकर खाएं खाना खाने के आधे घंटे बाद पानी का सेवन करें।
  • खाने के बीच में जूस तथा छाछ लस्सी का प्रयोग करें खाना खाने के बाद तुरंत ज्यादा पानी ना पिए सुबह उठकर जितना हो सके धीरे-धीरे करके पानी का सेवन बढ़ाएं।
  • शरीर में पानी की मात्रा कम ना होने दें। शरीर में पानी की कमी होने से शुगर ज्यादा बढ़ती है ब्लड में ऑक्सीजन लेवल कम ना होने दें ब्लड गाढ़ा नहीं होना चाहिए।
  • ब्लड जितना पतला होगा उतना शुगर लेवल अच्छा होता है बेचने वाले भोजन तथा फास्ट फूड प्रिजर्वेटिव खाना एकदम से इग्नोर करें फास्ट फूड पैकेट बंद खाना भोजन ना करें।
  • जितना हो सके ना खाएं घर के खाने कोतरजीह दे नित्य प्रति अपनी दिनचर्या को प्रकृति से जोड़ने का प्रयास करें।
  • बाहर ही मार्केट की चीजों को तरजीह देना बिल्कुल बंद कर दें जितनी अपने आहार में हरी सब्जियां फलो दाल रेशेदार भोजन का प्रयोग करेंगे।
  • फाइबर युक्त चीजों का प्रयोग करेंगे विटामिन सी उपयोग करेंगे उतनी जल्दी ही आप अपने शुगर लेवल को बड़ी आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं।

और हमेशा के लिए शुगर से छुटकारा पा सकते हैं। यदि आपने अपने जीवन में डाइट का अच्छा ध्यान दे दिया तो यकीन मानिए कि आप कभी भी किसी बीमारी की चपेट में नहीं आएंगे ।

मुझे उम्मीद है आपको यह आर्टिकल शुगर लेवल कैसे कम करें शुगर के बारे में सारी जानकारी आपको हो गए होंगी यदि आपको इस जानकारी से कुछ सीखने को मिले तो आप जरूर अपने जीवन में उसे अप्लाई करें यह आर्टिकल उन लोगों के लिए बेहद जरूरी है जो आजकल के युवा हैं फास्ट फूड पर ज्यादा इनका ध्यान रहता है अपने घर के शुद्ध भोजन को तरजीह नहीं देते।

वह गंभीर समस्याओं से कम उम्र में ही झूझने लगते हैं ऐसे व्यक्तियों को इस आर्टिकल से कुछ सीखने को मिलेगा बाकी यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे अपने यारऔर दोस्तों के साथ भी शेयर करें। ताकि उन्हें भी शुगर के डाइट प्लान के बारे में पता चल सके बाकी यदि आपको कोई भी समस्या है कोई प्रश्न है कोई डाउट है इस आर्टिकल से संबंधित तो उसे अपने कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

महिलाओं में शुगर के लक्षण बच्चों में शुगर के लक्षण पूर्व मधुमेह के लक्षण शुगर कम होने के लक्षण यूरिन में शुगर के लक्षण डायबिटीज के लक्षण और उपाय यूरिन शुगर क्या है यूरिन शुगर कितना होना चाहिए पतंजलि में शुगर का इलाज २५० शुगर लेवल शुगर का देसी इलाज शुगर की दवा शुगर का आयुर्वेदिक इलाज शुगर के लक्षण और इलाज शुगर की देशी दवा पानी से शुगर का इलाज

Leave a Comment