शीघ्रपतन क्या है इसके कारण लक्षण बचाव व उपचार

शीघ्रपतन क्या है इसके कारण लक्षण बचाव व उपचार

संभोग करना हर पुरुष या महिला की चाहत होती है क्योंकि संभोग करने के बाद पुरुष और महिला दोनों को खुशी व मन को शांति मिलती हैं और संभोग हमारे जीवन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा होता है लेकिन कई बार पुरुषों या महिलाओं में कुछ ऐसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती है जिससे वे खुलकर या सही तरीके से संभोग नहीं कर पाते हैं.

उनको खुशी नहीं मिलती तो इसी तरह से पुरुषों में एक उत्पन्न होने वाली समस्या शीघ्रपतन भी है जो कि एक बहुत ही बड़ी समस्या है इससे पुरुष के साथ-साथ महिला भी नाखुश रहती है तो इस ब्लॉग में हम शीघ्रपतन होने के कारण लक्षण बचाव उपचार आदि के बारे में बातें करने वाले हैं.

शीघ्रपतन क्या है

सबसे पहले आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि शीघ्रपतन क्या होता है शीघ्रपतन पुरुषों में उत्पन्न होने वाली एक ऐसी यौन समस्या है जिससे पुरुष के लिंग से संभोग के दौरान निकलने वाला वीर्य तुरंत निकल जाता है और इसके कारण कई बार पुरुष को अपनी महिला साथी की सामने शर्मिंदगी का भी सामना करना पड़ता है क्योंकि जब भी हम संभोग करते हैं तब हमारे लिंग से वीर्य जितना देर से निकलेगा उतनी ही ज्यादा समय तक हम संभोग कर पाएंगे और संभोग का आनंद ले पाएंगे जब किसी इंसान में शीघ्रपतन की समस्या उत्पन्न होती है

तब संभोग के समय रोगी का वीर्य तुरंत निकल जाता है और रोगी को निराशा का सामना करना पड़ता है और इसके साथ ही उसकी महिला साथी को भी संभोग की संतुष्टि प्राप्त नहीं होती और यह समस्या कई बार पुरुष की दूसरी की समस्याओं का भी कारण बन जाती है क्योंकि जब भी कोई महिला या पुरुष संभोग से खुश नहीं होता या उसके मन को शांति नहीं मिलती तब उसका स्वभाव चिड़चिड़ा, गुस्सैल व तनावपूर्ण रहता है इसलिए एक स्वस्थ जीवन में संभोग का भी बहुत बड़ा महत्व होता है आज के समय में ज्यादातर नकली और मिलावटी खान-पान के कारण पुरुषों में समस्या बहुत तेजी से बढ़ रही है लेकिन अगर कोई इंसान अपनी जिंदगी में पहली या दूसरी बार संभोग कर रहा है और उसका वीर्य तुरंत निकल जाता है तब उसको शीघ्रपतन की समस्या बिल्कुल भी नहीं माना जाता क्योंकि पहली बार ऐसा करने पर भी अगर तुरंत निकलना आम बात है

कारण

अगर शीघ्रपतन की समस्या उत्पन्न होने के कारणों के बारे में बात की जाए तो उसके शरीर में इस समस्या के उत्पन्न होने के पीछे कई अलग-अलग कारण माने जाते हैं लेकिन होते हैं जैसे पहली बार संभोग करना, यौन इच्छाओं को दबाए रखना, अपने शरीर में पहली बार संभोग करने का डर रहना, ज्यादा मानसिक तनाव, चिंता, क्रोध, गुस्सा आदि रखना, ज्यादा उत्तेजित खाद्य पदार्थों का सेवन करना, डर के माहौल में सेक्स करना, अपनी पसंदीदा महिला साथी के साथ संभोग न करना, रोगी में वीर्य की कमी होना, ज्यादा हस्तमैथुन करना, ज्यादा बीड़ी, शराब, सिगरेट, तंबाकू आदि का सेवन करना, रोगी में अन्य यौन समस्याएं उत्पन्न होना, रोगी का ज्यादा एलोपैथिक दवाओं का सेवन करना, रोगी का ज्यादा तले हुए भोजन का सेवन करना, रोगी के शरीर में सेक्स हार्मोन या हार्मोनल से संबंधित समस्याएं उत्पन्न होना, रोगी की प्रोस्टेट या मूत्र मार्ग संक्रमण होना रोगी के अंडाशय या लिंग के ऊपर चोट लगना, आदि इस समस्या के मुख्य कारण होते हैं

लक्षण

अगर किसी इंसान के शरीर में शीघ्रपतन की समस्या उत्पन्न हो जाती है तब उस रोगी में इस समस्या के कई लक्षण दिखाई देते हैं लेकिन इस समस्या का सबसे बड़ा और मुख्य कारण रोगी जब भी संभोग करता है तब उसके शरीर से निकलने वाला वीर्य महिला पार्टनर के करीब जाते ही निकल जाता है इसके अलावा कई और लक्षण होते हैं जैसे रोगी में उत्तेजना की कमी होना, रोगी का यौन बातों के प्रति दिलचस्पी न रहना, रोगी का महिला साथी के पास जाते समय डर का माहौल रहना, संभोग करने से पहले ही रोगी का वीर्य निकलना, संभोग करने से कुछ समय पश्चात वीर्य निकलना, रोगी का ज्यादा यौन बातें व वीडियो आदि देखते समय अपने आप वीर्य निकलना, रोगी का अपनी महिला पार्टनर के प्रति रुचि न रहना, रोगी का अपनी संभोग लाइफ से नाखुश रहना, रोगी में मानसिक तनाव, चिंता, क्रोध, गुस्सा, चिड़चिड़ापन आना, रोगी को खुद और उसकी महिला पार्टनर को संभोग से शांति व खुशी न मिल पाना आदि की समस्या के मुख्य लक्षण होते हैं इसके अलावा भी इस समस्या क़े कई और लक्षण हो सकते हैं

बचाव

फिर भी किसी इंसान में समस्या उत्पन्न हो जाती है तो उस इंसान को इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए कुछ ऐसी बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है जो कि उसके लिए फायदेमंद हो सकती है जैसे

  • सबसे पहले रोगी को अपनी दैनिक दिनचर्या में बदलाव लाना चाहिए
  • रोगी को हर रोज सुबह सुबह सैर व योग आदि करने चाहिए
  • रोगी को ज्यादा उत्तेजक खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए
  • रोगी को शराब बीड़ी सिगरेट तंबाकू जैसी नशीली चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए
  • रोगी को ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियां व् फ्रूट आदि का सेवन करना चाहिए
  • रोगी को इस समस्या के उत्पन्न होने पर तुरंत किसी अच्छे योन रोग विशेषज्ञ से मिलना चाहिए
  • रोगी को सेक्स करते समय डर चिंता तनाव गुस्सा आदि अपने मन में नहीं रखना चाहिए
  • रोगी को सेक्स करते समय पूरा ध्यान अपनी महिला साथी के ऊपर लगाना चाहिए
  • रोगी को हस्तमैथुन की आदत छोड़ देनी चाहिए
  • आपको ज्यादा तले भुने हुए व मिर्च मसालेदार भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए

उपचार

अगर किसी इंसान के शरीर में शीघ्रपतन की समस्या उत्पन्न हो जाती है तब उस इंसान को इस समस्या से बचने के लिए सबसे पहले डॉक्टर के पास जाना चाहिए डॉक्टर आपको अलग-अलग प्रकार की दवाइयों में एक्सरसाइज के बारे में बताते हैं जिसे आप किसी के पतन की समस्या को कम किया जाता है लेकिन मार्केट में आपको ऐसे बहुत सारे सप्लीमेंट में दवाइयां मिल जाएंगे जिनसे आप अपने शीघ्रपतन की समस्या को बिल्कुल कम कर सकते हैं और अपनी संभोग की जिंदगी में खूब मजे कर सकते हैं

लेकिन फिर भी अगर आपके शरीर में यह समस्या उत्पन्न हो जाती है तब आप कुछ आयुर्वेदिक औषधियों दवाइयों व आयुर्वैदिक सप्लीमेंट के जरिए अपनी समस्या को नियंत्रण में कर सकते हैं और आपको ऐसी बहुत सारी जड़ी बूटियों व औषधियों मिल जाएंगी जो कि आपकी इस समस्या के लिए रामबाण साबित हो सकती हैं लेकिन इन सभी चीजों का इस्तेमाल करने से पहले आपको किसी यौन रोग विशेषज्ञ से जरूर मिलना चाहिए

शीघ्रपतन क्या है इसके कारण लक्षण बचाव व उपचार शीघ्र स्खलन का आयुर्वेदिक इलाज शीघ्र स्खलन के आयुर्वेदिक दवा बैद्यनाथ शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि शीघ्र स्खलन की होम्योपैथिक दवा जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय दवा जल्दी मुक्ति समस्या के लिए आयुर्वेदिक दवा शीघ्र स्खलन का इलाज योग गोली स्खलन के समय को बढ़ाने के लिए

Leave a Comment