मोती की खेती का व्यवसाय कैसे शुरू करें

मोती की खेती का व्यवसाय कैसे शुरू करें

Pearl Farming business plan – क्या कोई ऐसा बिजनेस करना चाहते हैं जिसमें 25 से 30,000 का खर्च आए और सरकार भी आपकी मदद करें बिजनेस को करने के लिए क्या आपके पास कोई जमीन है खाली पड़ी है और उसको आप  इस्तेमाल करना चाहते हैं किंतु आपके समझ में नहीं आ रहा कि उसका इस्तेमाल कैसे किया जाए  क्या आप भी घर बैठे पैसे कमाने की सोच रहे हैं और कम इन्वेस्ट में ज्यादा दोगुना फायदा मिले यदि आप इसकी तलाश में है तो आप सही जगह है आपके लिए हम इस ही आईडिया खोजकर लाये है।

Pearl पर्ल का नाम सुनकर आपको नया लग रहा होगा। किंतु यह बता दे  पीपल मोतियों को कहा जाता है जो मोती सीप से निकाली जाती है। pearl business plan बिजनेस  से लोग लाखों रुपए कमा रहे हैं। इस बिजनेस को करने के लिए थोड़ी मेहनत तो जरूर करनी पड़ती है। लेकिन इनकम भी मोटी होती है यदि आप पर्ल फार्मिंग का बिजनेस करना चाहते हैं। तो आपको इसके लिए कुछ जरूरी स्टेप फॉलो करने पड़ेंगे यदि आपको इस बिजनेस के बारे में कुछ नहीं पता है।

तो आपको हमारे आर्टिकल पढ़ना चाहिए यदि आपको कम इन्वेस्टमेंट में अच्छा पैसा मोटी रकम कमानी है तो यह आर्टिकल आपके लिए है आपको इस आर्टिकल में pearl बिजनेस से जुड़े हर जानकारी देने जा रहे हैं जिसे पढ़कर आप अपना खुद का स्वरोजगार पैदा कर सकते हैं और लाखों का बिजनेस शुरू कर सकते हैं जानने के लिए बने रहे हमारे साथ आर्टिकल में चलिए शुरू करते हैं.

 क्या है पर्ल फार्मिंग

what is pearl Farming business – फार्म फार्मिंग को हिंदी में सीप से मोती निकालना या सीप में मोती का बिजनेस करना चाहते हैं। pearl फार्मिंग करके लोग लाखों रुपए कमा रहे हैं। पर्ल का मतलब होता है मोती मोती को तो आप जानते ही होंगे मोती आभूषणों में अंगूठियों में और किसी भी ऐसे कीमती सामान में लगाया जाता है जिसकी कीमत लाखों में होती है मोतियों का उपयोग माला आभूषण तथा कीमती सामान में मोती जनित करके उसकी कीमत बढ़ाने के लिए किया जाता है बड़े लोगों के जो बड़े पैसे वाले होते हैं राजा महाराजा पहले के जो धनवान व्यक्ति होते हैं मोतियों की माला पहनना पसंद करते थे।

और मोतियों की फर्मिंग होती थी मोती आपने सुना होगा सीप के मोती यह वही शीप है जिनको तालाब में या किसी पानी वाली जगह में पाला जाता है और फिर बाद में इन्हीं से मोती निकाला जाता है।

क्यो करें पर्ल फार्मिंग बिजनेस

why we do pearl Farming business – पर्ल pearl फार्मिंग बिजनेस करने का एक सबसे अच्छा तर्क यह है कि यह बिजनेस कम पैसे में स्टार्ट किया जा सकता है यदि आपके पास बजट की कमी है और आप अच्छा पैसा कमाना चाहते हैं।तो इस बिजनेस को आपको करना चाहिए इस बिजनेस को करने के लिए सरकार भी आपको 50 परसेंट का लोन मुहैया कराएगी ।आप इस बिजनेस को 25000 से 30 हजार में भी स्टार्ट कर सकते हैं और महीने के कम से कम ₹50000 की इनकम कर सकते हैं। इससे बड़ी बात आपके लिए क्या हो सकती है कोई बिजनेस छोटे इन्वेस्टमेंट में आपको 2 गुना फायदा देता है ।साथ ही बिजनेस को करने के लिए सका सरकार का सपोर्ट मिल रहा है आप यदि खाली बैठे हैं आपको अच्छा पैसा कमाने का मौका मिल रहा है तो इससे बड़ी बात कुछ नहीं हो सकती।

क्या है बिजनेस मॉडल

what is business model – बिजनेस मॉडल की बात करें तो पर्ल पर्ल मोती का बिजनेस करने के लिए हमें ऐसी जगह की जरूरत पड़ती है जहां थोड़ा पानी की व्यवस्था हो। जैसे तालाब या कोई गहराई वाला खेत हो जिसमें पानी इकट्ठा कर के सीप को पाला जाता है। फार्मिंग किया जाता है और जब वापसी बड़े हो जाते थे इनको तालाब से निकालकर उनकी सर्जरी करके इनमें से मोती निकाला जाता है।

मोतियों के दाम आपको पता ही होंगे लाखों में हैं बाजार में मोतियों का उपयोग आभूषणों में गहने बनाने में बड़े कीमती सामानों की शोभा बनाने में किए जाते हैं यदि आप इस बिजनेस को करते हैं। तो आप  महीने के 50,000 या उससे भी अधिक कमा सकते हैं। इसमें लागत भी बहुत कम है केवल आपके पास बिजली पानी और जगह की जरूरत होती है यदि आप के पास यह सारे सामान हैं तो आपको पैसे कमाने से कोई नहीं रोक सकता।

कैसे शुरू करें पर्ल फार्मिंग बिजनेस

how to start pearl Farming business – पर्ल फार्मिंग बिजनेस शुरू करने के लिए आपको कुछ सामानों और कुछ महत्वपूर्ण चीजों पर ध्यान देना होगा पर्ल फार्मिंग बिजनेस में जरूरी चीजें हैं।

  • बिजली पानी जमीन और बजट यह चारों मुख्य चीज है
  • जो इस बिजनेस को स्टार्ट करने से पहले आपके पास होनी ही चाहिए जमीन आपके पास ऐसी होनी चाहिए जहां पर पानी भरा जा सके ऐसे कोई गहरा खेत तालाब यदि गहरी जमीन नहीं है तो उसे आपको गहरा करवाना पड़ेगा ।
  • ताकि वहां पानी को भरा जा सके और सीट को पाला जा सके फार्मिंग की जा सके इन सब चीजों पर आपको ध्यान देना होता है शुरू में बाकी आपके पास बजट 25 से ₹30000 होना चाहिए।
  • बाकी 50 परसेंट बजट का आपको सरकार से लोन के रूप में मिल जाएगा पानी और बिजली की सुलभता भी जरूरी है क्योंकि बिना पानी के आप शिप नहीं पाल सकते इसलिए इन सब चीजों की जरूरत आपको पड़ेगी बिजनेस शुरू करने से पहले।

मोती की खेती का ट्रेनिंग सेंटर

और यदि आपको इस बिजनेस को करने का अनुभव नहीं है। तो आप ट्रेनिंग भी ले सकते हैं ट्रेनिंग संस्थान में जाकर आपको वहां फार्मिंग से रिलेटेड सारी जानकारी दी जाएगी। और आप को सिखाया जाएगा कि यह बिजनेस प्रोसेस कैसे और आसानी से कैसे किया जा सकता है। यह सब जानकारी आपको ट्रेनिंग सेंटर में बताई जाएंगी.

कहा है बिज़नेस की ज्यादा फॉर्मिंग

Pearl Farming का बिजनेस महाराष्ट्र मुम्बई ,दक्षिण भारत,  बिहार, मध्य प्रदेश दरभंगा होशियार गंज जैसे शहरों में प्रदेशों में मोती की अच्छी खेती होती है यहां के मूर्ति देश में सबसे अच्छे माने जाते हैं।

मोती की खेती कैसे होती है

आप सब जानते हैं सिर्फ एक जीव होता है जिसमें मोती पाए जाते हैं सीप से मोती निकला निकलता है ।फार्मिंग करने के लिए तालाब में 10 से 15 दिनों के लिए सिडको  तालाब में डाला जाता है। बस 15 दिन के बाद सीप मोती तैयार करने लगता है। अपने हिसाब का इन्वायरमेंट तालाब में बना लेती है जिससे कि वह आसानी से उस तालाब में रह पाए केवल आपको तालाब में शिव को डालना होता है

बाकी का प्रोसेस सीप खुद कर लेती  है कर लेता है जब फार्मिंग का समय पूरा हो जाता है यानी कि 15 से 20 दिन के बाद तो सेब को निकाल कर उसकी सर्जरी करके एक पार्टीकल डाला जाता है। जिसको सांचा बोलते हैं उसमें से सीप के अंदर से मूर्ति को निकाल लिया जाता है और कोटिंग करके इसे मार्केट में बिकने के लिए भेज दिया जाता है।

कितना होगा निवेश

how much will invest – किस जैसा कि आप जानते हैं किसी बिजनेस को करने से पहले उसमें निवेश करना पड़ता है। यह बिजनेस भी निवेश मांगता है क्योंकि बिजनेस का एक रूल होता है पैसे पहले पैसा लगाओ फिर पैसा पाओ इस बिजनेस में आपको ज्यादा बजट की जरूरत नहीं पड़ेगी 25 से 30,000 का बजट आपके पास होना चाहिए। साथ ही और जो सामान बताए गए हैं ।

उनको ध्यान में आप को रखना चाहिए 50 परसेंट का सब्सिडी सरकार आपको देगी यह हम बताएं चुके हैं आपको बाकी मेहनत आना देखभाल और सारी चीजें आपको ही करनी पड़ेगी क्योंकि बिजनेस आपका है।

पर्ल फार्मिंग से कितना होगा मुनाफा

How much profit will be made from pearl farming  – मार्केट में सीप के मोतियों के दाम लाखों में यदि आप ठीक ढंग से बिजनेस को करते हैं। और मोतियां बनाने में कामयाब हो जाते हैं ।तो आपको महीने के 50 से ₹60000 कमाने को मिल सकते हैं। कितने ही लोगों ने इस बिजनेस में छोटे से शुरुआत करके आज लाखों रुपए के बिजनेसमैन बनकर इस क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं।

ज्यादातर लोग बिहार दरभंगा मुंबई महाराष्ट्र बिहार मध्य प्रदेश दक्षिण भारत के शहर और प्रदेशों में इसके फार्मिंग का बिजनेस किया जाता है यहां के मोतियों को वर्ल्ड का सबसे बेस्ट मोती में से एक माना जाता है ।भारत में मोतियों का शीप फार्मिंग करने का बिजनेस बहुत सालों से चलता है। और यह काफी मुनाफे वाला भी होता है इसलिए लोग इसे करना पसंद करते है। यदि आपको या बिजनेस करना है तो इसकी सारी जानकारी आपको पहले ट्रेनिंग सेंटर से ट्रेनिंग ले लेनी है उसके बाद आप ही बिजनेस को बड़े आराम से धैर्य पूर्वक करें और अच्छे पैसे कमाए।

बिजनेस को करने के लिए और आपको या बिजनेस करना चाहिए बाकी यदि आपको याद कर पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें हमें भी बताएं। कि यह बिजनेस कैसे किया जाता है और सरकार भी उनकी कैसे मदद करेगी। यदि आपकी कोई परेशानी या सवाल है इस आर्टिकल से संबंधित उसे अपने कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं यदि आपकी कोई परेशानी या सवाल है इस आर्टिकल से संबंधित उसे अपने कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

राजस्थान में मोती की खेती मोती की खेती कैसे होती है मोती की खेती का प्रशिक्षण केंद्र Rajasthan मोती की खेती हरियाणा मोती की खेती का ट्रेनिंग सेंटर मोती की खेती का प्रशिक्षण केंद्र भुवनेश्वर मोती की खेती का प्रशिक्षण केंद्र MP

3 Comments
  1. ANIKET KUMAR a says

    Start karna chahte he

  2. ANIKET KUMAR a says

    Sampark number chahiye

  3. ANIKET KUMAR a says

    Start karna chahte hai

Leave A Reply

Your email address will not be published.