महिलाओं में स्वप्नदोष होने के कारण, लक्षण, बचाव व उपचार

महिलाओं में स्वप्नदोष होने के कारण लक्षण बचाव व उपचार

इससे पिछले ब्लॉग में हमने आपको पुरुषों में उत्पन्न होने वाली यौन समस्या स्वपनदोष के बारे में बताया था जो कि एक बहुत ही खतरनाक समस्या है इससे पुरुष शारीरिक व मानसिक रूप से कमजोर हो जाते हैं लेकिन इस ब्लॉग में हम बात करेंगे महिलाओं में स्वपनदोष होने के बारे में जी हां दोस्तों ऐसा नहीं है कि सिर्फ पुरुषों में ही स्वपनदोष होता है.

बल्कि महिलाओं में भी यह समस्या उत्पन्न होती है. और इससे महिलाओं को बहुत परेशानी होती है तो इस ब्लॉग में हम महिलाओं में स्वपनदोष होने के कारण लक्षण बचाव व उपचार के बारे में बात करेंगे.

महिलाओं में स्वपनदोष

जिस तरह से पुरुषों में स्वपनदोष होता है उसी तरह से महिलाओं में भी स्वपनदोष होता है लेकिन महिलाओं में स्वपनदोष के संकेत ज्यादा नहीं मिल पाते जबकि पुरुषों का स्वपनदोष होने पर पता चल जाता है लेकिन महिलाओं का स्वपनदोष होने पर उनका योनि में वीर्य के बारे में पता लगाना मुश्किल हो पाता हो जाता है लेकिन एक रिपोर्ट के मुताबिक ऐसा पाया गया है कि महिलाओं में पुरुषों से ज्यादा अधिक स्वपनदोष होता है लेकिन उनको पहचानना कठिन होता है क्योंकि जब कोई लड़की 13 वर्ष की आयु से आगे बढ़ती है तब उसके हारमोंस में बदलाव शुरू हो जाते हैं और इसी के साथ उसकी यौन उत्तेजना बढ़ने लगती है और कई बार लड़कियां कुछ ऐसी गलती कर देती है

जिनसे उनको स्वपनदोष की समस्या होने लगती है यह समस्या मुख्य रूप से 13 से 21 वर्ष की आयु के बीच होती है लेकिन अगर कोई लड़की अपने यौन इच्छाओं को दबाए रखती है और वह संभोग का सुख प्राप्त नहीं कर पाती तब 21 वर्ष की आयु के बाद भी यह समस्या देखी जा सकती है लेकिन किसी भी महिला को महीने में दो से चार बार स्वपनदोष होना आम है क्योंकि कई बार हमारे शरीर में वीर्य की मात्रा बढ़ जाती है जिससे हमें यह समस्या होती है लेकिन अगर किसी महिला में हर सप्ताह तीन से चार बार या हर रोज स्वपनदोष की समस्या है तब यह उसके लिए खतरनाक साबित हो सकती है

कारण

अगर महिलाओं में स्वपनदोष होने के कारणों के बारे में बात की जाए तो महिलाओं में भी इस समस्या के उत्पन्न होने के पीछे ज्यादातर पुरुषों वाले की कारणों का हाथ होता है जैसे महिलाओं का ज्यादा उत्तेजक खाद्य पदार्थों का सेवन करना, महिलाओं पर ज्यादा एलोपैथिक दवाओं आदि का सेवन करना, महिलाओं में योन रोग उत्पन्न होना, महिला का ज्यादा उत्तेजक पेय पदार्थों का सेवन करना, महिलाओं का ज्यादा संभोग इससे जुड़ी हुई बातों में दिलचस्पी रखना, महिला का अपनी यौन इच्छाओं को दबाना, महिलाओं का योनि मैथुन करना, महिलाओं का संभोग वीडियो, फिल्म, डांस रोमांटिक, वीडियो, बुक, स्टोरी आदि पढ़ना, महिलाओं का लंबे समय तक अकेले रहना, महिलाओं को संभोग सुख प्राप्त न होना, महिला का नशीली वस्तुओं की लत लगना ज्यादा सेक्स सप्लीमेंट का सेवन करना, महिला का ज्यादा मानसिक तनाव चिंता क्रोध गुस्सा रखना, महिला के शरीर का वजन बढ़ना व मोटापा आना, महिला का अपने जननांगों की साफ सफाई ना रखना, महिला के शरीर की मांसपेशियां कमजोर होना,महिलाओं को संभोग के सपने आना, व निंद्रा अवस्था में स्वपनदोष होना, आदि इस समस्या के मुख्य कारण होते हैं इसके अलावा महिलाओं इस समस्या के उत्पन्न होने के पीछे पुरुषों से ज्यादा कारण होते हैं

लक्षण

अगर महिलाओं में इस समस्या के उत्पन्न होने की लक्षणों के बारे में बात की जाए तो जब भी किसी महिला में यह समस्या उत्पन्न होती है तब इसके कई लक्षण दिखाई देते हैं लेकिन इनमें से ज्यादातर लक्षण पुरुषों वाले ही होते हैं जैसे रात को सोते समय पसीना आना, जननांग के पास होते उतेजना उत्पन्न होना, संभोग के सपने आना, निंद्रा अवस्था में सपन दोष होने पर योनि में चिपचिपा पदार्थ निकलना, महिलाओं के कपड़ों पर चिपचिपा पदार्थ के धब्बे दिखाई देना, महिलाओं को बेचैनी, आलस, थकावट महसूस होना, महिलाओं के शरीर में सुस्ती व कमजोरी होना, महिलाओं का संभोग के प्रति ज्यादा अग्रसर होना, पेशाब करने में कठिनाई आना,

पेशाब करते समय योनि से रसदार स्त्राव निकलना, ज्यादा संभोग से जुड़ी बातों के प्रति दिलचस्पी लेना, ज्यादा संभोग वीडियो डांस स्टोरी बुक आदि पढ़ना, महिलाओं में घुटने के दर्द, चक्कर आना, कमजोरी व सुस्ती उत्पन्न होना, महिलाओं में शुक्राणु की कमी होना, बाद में बच्चा पैदा करने में असमर्थ होना। महिलाओं के मासिक धर्म में गड़बड़ी होना, व महिलाओं के शरीर में अन्य यौन रोग उत्पन्न होना इसके अलावा भी समस्या के उत्पन्न होने पर महिलाओं में कई और अलग-अलग लक्षण देखने को मिलते हैं

बचाव

अगर किसी लड़की या महिला में स्वप्नदोष की समस्या उत्पन्न हो जाती है तो उनको कुछ ऐसी बातों में ध्यान रखना बहुत जरूरी है जो कि उनके लिए फायदेमंद हो सकती है और उनको इस समस्या से बचा सकती है

  • आपको ज्यादा उत्तेजित खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए
  • आपको तले भुने हुए मिर्च मसालेदार भोजन से परहेज करना चाहिए
  • आपको ज्यादा सेक्स सप्लीमेंट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
  • आपको नशीली वस्तुओं का सेवन करने से परहेज करना चाहिए
  • आपको लंबे समय तक एलोपैथिक दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए
  • आपको ज्यादा योनि मैथुन नहीं करना चाहिए
  • आपको ज्यादा संभोग की बातों में लिप्त नहीं रहना चाहिए
  • आपको रोमांटिक वीडियो फोटो नहीं देखनी चाहिए
  • आपको हर रोज सुबह सुबह हल्के-फुल्के व्यायाम करनी चाहिए
  • आपको ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों व फलों आदि का सेवन करना चाहिए
  • आपको हो सके तो संभोग का सुख जरूर प्राप्त करना चाहिए
  • आपको अपने जौनांगो की साफ सफाई करनी चाहिए

उपचार

अगर किसी महिला को स्वपनदोष की समस्या उत्पन्न हो जाती है तब वह अपनी कुछ घरेलू चीजों का आयुर्वेदिक औषधि आदि का इस्तेमाल करके अपनी इस समस्या छुटकारा पा सकती है जैसे

  • आपको ज्यादा से ज्यादा आंवला व आंवले के जूस का सेवन करना चाहिए यह आपके स्वपनदोष की समस्या को बहुत हद तक कम करने में मदद करता है
  • आपको ज्यादा से ज्यादा प्याज और लहसुन का सेवन करना चाहिए
  • आपको हर रोज बादाम केला और अदरक को दूध के साथ मिलाकर सेवन करना चाहिए यह आपके लिए बहुत फायदेमंद होता है
  • आपको हर रोज दही वह लस्सी आदि का सेवन करना चाहिए यह भी आपके लिए बहुत फायदेमंद होता है और आपके शरीर को ठंडक प्रदान करता है
  • आपको हर रोज आपको लौकी के जूस का सेवन करना चाहिए
  • आपको हर रोज अजवाइन और मेथी के रस का सेवन करना चाहिए यह भी आपके स्वपनदोष को कम करने में मदद करता है

लेकिन फिर भी अगर किसी महिला या लड़की को स्वपनदोष से संबंधित समस्या उत्पन्न हो जाती है तब उसको किसी अच्छे योन रोग विशेषज्ञ से मिलना चाहिए या आप कुछ आयुर्वेदिक औषधियों व दवाइयों का इस्तेमाल करके भी अपनी समस्या को कम कर सकती हैं जिनके बारे में हमने आपको नीचे बताया है इन सभी को आप डॉक्टर की देखरेख में ही इस्तेमाल करें

महिलाओं में स्वप्नदोष होने के कारण लक्षण बचाव व उपचार स्वप्नदोष की रामबाण दवा स्वप्नदोष से मुक्ति के लिए मंत्र नाईट फॉल की दवा आयुर्वेदिक नाईट फॉल की दवा क्या है स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा स्वप्नदोष कितनी बार होना चाहिए स्वप्नदोष के लिए योग नाईट फॉल के फायदे

Leave a Comment