पेन किलर क्या है पेन किलर के नुकसान

पेन किलर क्या है पेन किलर के नुकसान

आज के समय में हर कोई स्वस्थ रहना चाहता है. लेकिन कई बार हमारे सामने ऐसी दिक्कत हो जाती है.कई बार हमारे सर में दर्द रहता है या कई बार हमारे हाथ पैर में दर्द होता है यानी हमारे शरीर के किसी न किसी भाग पर जब दर्द का अनुभव होता है तो हम पेन किलर या कोई दवाई ले लेते हैं जिससे हमें कुछ समय के लिए राहत मिलती है. लेकिन कई बार हमारे साथ ऐसा भी होता है. जब उस पेन किलर का असर खत्म हो जाता है. तो हमारा सर दर्द दिया हमारे शरीर के किस भाग में दर्द होता है. वह दोबारा होना शुरू हो जाता है और हम फिर दोबारा से पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं. जो पेन किलर हम इस्तेमाल करते हैं. इससे हमारा दिमाग और हमारा जीवन दोनों खत्म हो सकते हैं. यह हमारे दिमाग और हमारे जीवन दोनों के लिए खतरनाक है.कोई भी पेन किलर हमारे जीवन को कम करती है चाहे वह किसी भी तरह की हो इससे हमारा दिमाग और जीवन दोनों नष्ट हो जाते हैं.

और कुछ लोग तो आज के समय में इसे एक नशे के तौर पर ही इस्तेमाल करते हैं. और उनको पेन किलर लेने की आदत हो गई है. और वह कुछ समय के लिए पेन किलर लेते हैं और जब उसका असर खत्म हो जाता है. तो दोबारा से पेन किलर ले लेते हैं. और ऐसे लोगों के दिमाग पर पेन किलर बहुत ज्यादा डालती है तो आज हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे कि पेन किलर लेने से हमें क्या नुकसान है और पेन किलर लेने से हम किस तरह से बच सकते हैं.  इसके बारे में पूरी जानकारी हम आपको बताएंगे तो देखिए

पेन किलर दवाई

जब भी हमारे पेट सर या शरीर के किसी दूसरे भाग में दर्द होता है तो हम पेन किलर लेते हैं और जब हम पेन किलर दवाई लेते हैं तो हमें कुछ समय के लिए यह एहसास होता है कि हमारा दर्द पेन किलर दवाई ने ठीक कर दिया है. लेकिन ऐसा कभी नहीं होता है यह बिल्कुल गलत है क्योंकि जब हम पेन किलर दवाई लेते हैं. तो उन दवाओं से केवल निश्चित समय के लिए ही हमारा दर्द ठीक रहता है और ठीक नहीं होता है.  यह दवाइयां हमें उस दर्द का अनुभव नहीं होने देती. क्योंकि उनमें एक ऐसा नशा होता है. और जब इसका असर खत्म हो जाता है तो दोबारा फिर से यह दवाइयां हमें लेनी पड़ती है.

कई बार जब हमारा सर दर्द होता है. तो हम डिस्प्रिन लेते हैं. या फिर कहीं और जगह दर्द है.कोई और दर्द निवारक दवाई लेते तो हमारा दर्द ठीक हो जाता है और कई बार हमारे शरीर के किस भाग में इतना ज्यादा दर्द होता है. उसके लिए हम दो या तीन पेन किलर एक साथ ले लेते हैं. या हम हैवी डोज की पेन किलर ले लेते हैं ताकि हमें तुरंत आराम मिल सके. लेकिन यदि हम थोड़ी सी भी गलती कर देते हैं तो यह दर्द निवारक गोलियां या दवाइयां ही हमारे लिए हमारे दिमाग का और हमारा जीवन दोनों को खतरे में डाल सकती है.

पेन किलर के साइड इफेक्ट

पेन किलर के नुकसान : अब हम आपको बताते हैं कि यदि आप लगातार तीन कलर लेते हैं. तो आपको कौन-कौन से नुकसान होते हैं. आपको किस तरह कि दिक्कत हो सकती है. तो यदि आप इन सभी दिक्कत से बताना चाहते हैं. और अपने दिमाग और अपने जीवन को बचाना चाहते हैं. तो आप इन साइड इफेक्ट से बचने की कोशिश करें. और पेन किलर का जहां तक हो बहुत ही कम इस्तेमाल करें तो देखिए

1.यदि आप लगातार पेन किलर दवाइयों का इस्तेमाल करते रहते हैं तो आपके किडनी और लीवर के खत्म होने के ज्यादा चांस रहते हैं.
2. यदि आप ज्यादा पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं तो चुस्ती, कब्ज,ब्लड प्रेशर का कम होना.इन सभी दिक्कत का सामना आपको करना पड़ सकता है.
3.यदि कोई इंसान ज्यादा पेन किलर का इस्तेमाल करता है तो उसको पेट दर्द की समस्या बहुत ज्यादा रहती है.
4.पेन किलर दवाइयां मांसपेशियों में जकड़न डिप्रेशन और लीवर में दिक्कत पैदा कर सकती है.और यदि कोई इंसान सुबह खाली पेट पेन किलर गोली का इस्तेमाल करता है तो उसके लीवर और पेट में दिक्कत होने के 100 प्रतिशत चांस हो जाते हैं.
5.और यदि कोई गर्भवती महिला पेन किलर दवाइयां का ज्यादा इस्तेमाल करती हैं. तो उस दौरान गर्भपात होने की समस्या पैदा हो सकती है.
6.दवाइयों का इस्तेमाल यह इंसान में घबराहट एनीमिया अनिंद्रा थकान जैसी समस्या को बढ़ा देती है.
7.और बहुत सी पेन किलर दवाइयां ऐसी होती है जो किसी भी इंसान के अंदर दमा पैदा कर सकती है और अगर किसी को पहले से दमा की बीमारी है तो उसको बढ़ा देती है. और जिसके बारे में हमें पता भी नहीं चलता है.
8.और यदि कोई इंसान लगातार कई दिनों तक पेन किलर दवाइयों का इस्तेमाल करता है. तो खून पतला हो जाता है.जिसके कारण कई बार खून का थक्का जम जाता है.जिसके कारण कई बार खून का थक्का जम जाता है. और कई लोगों में खुजली जैसी समस्या भी हो जाती है.
9.और एक रिपोर्ट के अनुसार बताया गया है यदि हम लगातार पेन किलर गोली और दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं तो इंसान की लगभग 10 साल उम्र कम हो जाती है.

एक्सपर्ट की राय

यदि पेन किलर दवाइयों के बारे में एक्सपर्ट की राय ली जाए तो बहुत से एक्सपर्ट की अलग-अलग राय होगी लेकिन उनकी एक बात बिल्कुल जरूर मिलती हुई आपको दिखाई दे सकेगी की पेन किलर दवाइयां हमारे दिमाग और जीवन दोनों को खत्म कर सकती है.

पेन किलर दवाइयों के इस्तेमाल को लेकर  Doctor KC Sood का मानना है कि यदि किसी अंग में बहुत ज्यादा दर्द हो रहा है. तो आप OCT दवाओं का हल्का डोज ले सकते हैं. लेकिन इनके ऊपर निर्भर रहना बहुत ही ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है. और लंबे समय तक इन दवाओं का बिना सोचे समझे और बिना डॉक्टर की राय लिए हुए इन दवाओं का इस्तेमाल करने से हमारी किडनी फेल हो सकती है और पेन किलर के जो साइड इफेक्ट हमने आपको ऊपर बताए हैं उनसे बचने के लिए यह जानना भी जरूरी है कि यदि आप पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं तो उस समय आप ऐसे कौन सी गलतियां कर रहे हैं. जिससे आपको दिक्कत हो सकती है.

पेन किलर के साइड इफेक्ट से बचने के उपाय

1. आपको कभी भी खाली पेट पेन किलर दवाई का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए यदि आप खाली पेट पेन किलर दवाई का इस्तेमाल करते हैं तो आपके पेट में गैस या एसिडिटी बहुत ज्यादा बढ़ जाती है.जिससे हमारी तबीयत और ज्यादा खराब हो जाती है तो इसलिए पेन किलर दवाई लेने से पहले हमें कुछ डाइट जरूर खा लेना चाहिए.
2.आपको शराब नहीं पीनी चाहिए यदि आप शराब पीते हैं और पेन किलर दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं .तो इन दोनों के कंबीनेशन से आप को हार्ट अटैक भी आ सकता है इन दोनों का कंबीनेशन हमारे लिए बहुत ही खतरनाक होता है.क्योंकि अल्कोहल और पेन किलर दवाइयां दोनों ही एसिडिटी को बढ़ाते हैं तो आप समझ सकते हैं कि इसका कितना दुष्प्रभाव हमारे ऊपर आ सकता है.
3.आपको कभी भी पानी की कमी नहीं होने देनी चाहिए. आप दवाई लेते समय चाहे थोड़ा सा पानी पीते हो लेकिन आपको दवाई लेने के बाद पानी की कमी नहीं होने देना चाहिए. क्योंकि जब आप पेन किलर दवाइयां लेते हैं. तो उसका सीधा असर आपकी किडनी के ऊपर होता है तो इस स्थिति में ज्यादा पानी पीने से दवाइयों का टॉक्सिन जल्दी ही पानी के साथ बाहर निकल जाता है.जिससे दवाई का साइड इफेक्ट होने के चांस कम होते हैं
4.कभी भी पेन किलर को तोड़कर ना लें क्योंकि कई बार जब बच्चे साबुत गोली नहीं ले पाते हैं तो उनको छोड़कर चला दी जाती है ऐसे में गोली का पूरा असर एकदम शरीर में खुल जाता है और इस स्थिति में यह दवा और रोज की तरह काम करती है.
5.कभी भी पेन किलर को तोड़कर ना लें क्योंकि कई बार जब बच्चे  पूरी गोली नहीं ले पाते हैं तो उनको छोड़कर चला दी जाती है ऐसे में गोली का पूरा असर एकदम शरीर में खुल जाता है और इस स्थिति में यह दवा और रोज की तरह काम करती है.
6.हमें लंबे समय तक लगातार पेन किलर गोलियों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि कई बार बहुत से लोग सिर्फ थकान और नशे के तौर पर गोलियों का इस्तेमाल करते हैं. जिससे कि कुछ समय बाद भी इनके आदी हो जाते हैं. और लंबे समय तक इनका इस्तेमाल करने से किडनी लीवर में दिक्कत होने शुरू हो जाती है.
7.आपको कभी भी एक बार में एक से ज्यादा दर्द निवारक गोली नहीं लेनी चाहिए क्योंकि दर्द चाहे कितना भी ज्यादा हो लेकिन किसी भी गोली का असर 15 से 30 मिनट के बाद ही दिखाई देता है. तो इस स्थिति में अगर आप और पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं. तो इससे ब्लड प्रेशर किडनी फेल हार्ट अटैक जैसी दिक्कत आ सकती है. और  पेन किलर दवाओं की हल्की डोज आपके लिए राहतकारी हो सकती हैं.

पैन किलर लेने की वजह

1. वैसे तो पैन के लिए लेने की वजह हम सभी ही जानते हैं कि इसकी सबसे बड़ी वजह यह होती है. कि यह हमें दर्द से तुरंत राहत दिला देती है.
2.इन दवाइयों के कारण हमारा शरीर और हमारा दिमाग इन के ऊपर ही काम करने लगता है. क्योंकि अगर हम कुछ समय तक  इसको लगातार ले लेते हैं तो उसके बाद हमारा शरीर और हमारा दिमाग पेन किलर के बिना काम नहीं करता इसलिए हमें बार-बार लेने की आदत हो जाती है और पेन किलर का नशा शराब के नशे के जैसा होता है.
3.और कुछ लोग दूसरों को देखने के बाद भी पेन किलर का इस्तेमाल करना शुरू कर देते हैं क्योंकि कुछ लोग काम करते हैं तो उनको थकान महसूस होती है तो वह पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं लेकिन बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो उनको देखकर ही पेन किलर लेना शुरू कर देते हैं
4.और पेन किलर लेने का चौथा कारण यह होता है कि पेन किलर के दुष्प्रभाव के बारे में लोगों को जानकारी नहीं है दुष्प्रभाव के बारे में जानकारी ना होना.क्योंकि लोगों को कुछ पता ही नहीं है कि हम जिस पेन किलर का इस्तेमाल दर्द के लिए कर रहे हैं उसके कोई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं.

पेन किलर से संबंधित जानकारी

1.यदि आप डॉक्टर के पास जाते हैं तो आपको पेन किलर के बारे में पूरी जानकारी लेनी चाहिए और उसको लेने का तरीका और उसके पहले आदि के बारे में पूछना चाहिए.
2.जहां तक हो सके आप दर्द को सहते रहे क्योंकि अगर आप थोड़ी सी भी दर्द में पेन किलर का इस्तेमाल करते हैं तो बाद में अगर बाई चांस आपको पेन किलर ना मिले और आप को दर्द हुआ तो आप का दर्द आप खुद सह नहीं पाएंगे. इसलिए आपको जहां तक हो दर्द को सहने की कोशिश करनी चाहिए.
3.जिन लोगों ने हाथ हृदय ब्लड प्रेशर रक्तचाप जैसी बीमारियां है. उनको बिना डॉक्टर की सलाह से पेन किलर कभी नहीं लेनी चाहिए क्योंकि यह उनके लिए हानिकारक हो सकती है.
4.पेन किलर को हमेशा पानी के साथ लें और यदि किसी भी तरह की कोई दिक्कत होती है. तो तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए. और खाली पेट कभी भी पेन किलर का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

दर्द से बचने के साधारण तरीके

1.जहां तक हो हमें खुश रहने की आदत डालनी चाहिए और हमेशा खुश रहना चाहिए.
2. हमें 1 सप्ताह में एक बार फल का जूस पीना चाहिए.
3.आपको हर रोज सुबह मॉर्निंग वॉक करनी चाहिए या आपको योग व्यायाम आदि करना चाहिए इससे आपके जोड़ों से संबंधित सभी रोग दूर हो जाते हैं. और आपको मानसिक तनाव भी नहीं रहता और हमेशा आपको खाना भूख से थोड़ा कम खाना चाहिए

तो यदि आप इन सभी बातों का ध्यान रखते हैं तो आपको निश्चित ही पेन किलर लेने की जरूरत नहीं होगी और आप दर्द मुक्त रहेंगे

आज हमने आपको इस पोस्ट में पेन किलर आयल पेन किलर के नुकसान पेन किलर इंजेक्शन पेन किलर क्या है पेन किलर के साइड इफ़ेक्ट पेन किलर स्प्रे पेन किलर जेल से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी होता ही है जानकारी हम सभी के लिए जानना बहुत ही जरूरी थी तो यदि हमारे द्वारा बताइए यह जानकारी आपको पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें और यदि आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं

1 Comment

Leave a Comment