दालचीनी के फायदे Cinnamon Benefits and Uses in Hindi

दालचीनी के फायदे Cinnamon Benefits and Uses in Hindi

आज की पोस्ट में बात करते है दालचीनी चूर्ण के बारे में तो आप इसे Cinnamon Powder भी बोल सकते है । ये पतंजलि का प्रोडक्ट है ।

अब बात करते हैं इसके प्राइस के बारे में तो इसका प्राइस ₹52 है जो आपको 100 ग्राम की प्लास्टिक की पैकिंग में मिलती है इसे आप किसी भी पतंजलि स्टोर से खरीद सकते हैं या फिर घर बैठे ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं ।

फायदे

अब बात करते हैं इसके फायदों के बारे में :- मैं आपको नंबर वॉइस इसके फायदे बताऊगा

पाचन तंत्र के लिए

अगर आपका पाचन तंत्र सही नहीं है जिस कारण आपको आपचत , एसिडिटी,पेट में जलन, पेट दर्द ,सीने में जलन ,कब्ज और गैस की समस्याएं होती है तो आप नियमित रूप से दालचीनी का उपयोग कर सकते हैं इससे आपके पाचन तंत्र संबंधी समस्याएं धीरे-धीरे सही होने लगती है और आप काफी स्वस्थ रहते हैं ।

जोड़ों का दर्द के लिए

,हड्डियों में दर्द ,घुटनों में दर्द ,कंधों में दर्द , दमा, अस्थमा ,थोड़ा सा ही चलने पर सास काफी फूलने लगती है तो इन सभी समस्याओं में दालचीनी का आपको जबरदस्त फायदा देखने को मिलता है ।

शुगर कम करने के लिए

जिन लोगों का शुगर हमेशा बढ़ा हुआ हो जिस कारण उनके शरीर में एक कमजोरी सी रहती है ,शरीर थका – थका सा रहता है ,वे काफी परेशान से रहते हैं अगर वे लोग दालचीनी का उपयोग करे तो उनका शुगर लेवल धीरे- धीरे कंट्रोल में होने लगता है और वे काफी स्वस्थ रहते हैं उनको इसका इस्तेमाल करना चाहिए ।

कोलेस्ट्रॉल कण्ट्रोल करने के लिए

दालचीनी का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कंट्रोल में रहती है जिसके कारण हार्ट अटैक आने का खतरा कई गुना तक कम हो जाता है।

याददाश्त शक्ति बढाने के लिए

जिन लोगों की याददाश्त शक्ति काफी कमजोर रहती है वे बार- बार कोई भी चीज भूल जाते हैं खास तौर पर मैं उन स्टूडेंट के लिए कहना चाहूंगा कि जो लोग पढ़ते तो बहुत है लेकिन फिर भी उनको इतना याद नहीं हो पाता यानी जो भी वे याद करते हैं उन्हें वो याद नहीं रह पाता यानी उन्हें भूलने की प्रॉब्लम सी रहती है तो इस तरह की समस्याओं में उनके लिए दालचीनी का प्रयोग काफी फायदेमंद रहता है क्योंकि ये आपकी याददाश्त शक्ति को बढ़ाने का काम करती है।

सूजन कम करने के लिए

दालचीनी एंटी इन्फ्लेमेटिक गुणों से भरपूर होती है अगर आपकी बॉडी में कहीं पर सूजन की समस्या हुई है यानी अगर आपके घुटने सूज गए हैं या फिर आपको अर्थराइटिस हो गया है या फिर आपको सर्वाइकल के कारण गर्दन में सूजन आ गई है या फिर आपको चोट लगी थी तो उस वजह से सूजन आ गई है ।

इसके अलावा कमर या घुटनों के अंदर दर्द की वजह से सूजन आ गई है तो इस टाइप की प्रॉब्लम में दालचीनी का काफी बढ़िया फायदा देखने को मिलता है ये सूजन को दूर करके दर्द से आपको काफी आराम पहुंचाता है और आप काफी स्वस्थ रहते हैं ।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के लिए

जिन लोगों की इम्युनिटी पावर यानी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी वीक है मौसम बदलने की वजह से या फिर वैसे ही बार बार बीमार से हो जाते हैं सर्दी, खांसी, जुखाम, बुखार ,बार बार छींक आना ये छोटे-मोटे रोग होते ही रहते हैं कोई ना कोई प्रॉब्लम उन्हें होती ही रहती है क्योंकि उनके शरीर की इम्युनिटी पावर काफी कम है इसलिए वे बार बार बीमार पड़ जाते हैं तो दालचीनी के सेवन से ये आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है जिससे कि आपके शरीर को अनेक छोटे बड़े रोगों से बचाओ होता है और आप काफी स्वस्थ रहते हैं ।

बैक्टीरिया के संक्रमण के लिए

दालचीनी में एंटीबायोटिक एंटीवायरल ,एंटीमाइक्रोबियल्स तत्व पाए जाते हैं जो शरीर पर मौजूद बैक्टीरिया के संक्रमण को खत्म करते हैं और इसके साथ ही दालचीनी में एंटीफंगल तत्व भी पाए जाते हैं ये तत्व फंगल इंफेक्शन को कम करने में काफी मदद करते है और इसके साथ ही दालचीनी में कैल्शियम ,मैग्नीशियम ,और आयरन जैसे और भी कई गुणकारी तत्व पाए जाते हैं जो हड्डियों को मजबूत और जोड़ों के दर्द या गठिया के दर्द में काफी आराम देते हैं ।

मानसिक रोगों के लिए

दालचीनी आपके शारीरिक रोगों को दूर तो करती है इसके साथ ही साथ मानसिक रोगों को भी दूर करने का काम करती है डिप्रेशन, चिंता, जो लोग कुछ न कुछ सोचते रहते हैं ,कुछ ना कुछ दिमाग में चलता ही रहता है वे चिंता में रहते हैं टेंशन में रहते है.

जिस कारण उनको अनिद्रा यानी नींद ना आने की समस्या रहती है तो दालचीनी में ऐसे औषधिक गुण पाए जाते हैं जो तनाव को दूर कर दिमाग को कार्यशील बनाते हैं यानी दालचीनी के इस्तेमाल से दिमाग को पूरी तरह स्वस्थ रखा जा सकता है और जब आपका दिमाग स्वस्थ रहेगा तो आपको नींद भी काफी अच्छी आएगी ।

मूत्र संबंधी समस्याओं के लिए

मूत्र संबंधी समस्याएं जैसे इंफेक्शन, बार बार पेशाब आना ,पेशाब में जलन ,या इसके अलावा अगर आप कुछ भी खाते हैं तो आपको तुरंत टॉयलेट जाने की समस्या सी रहती है आपका पेट डिस्टप रहता है तो इन सब में दालचीनी का आपको काफी बढ़िया फायदा देखने को मिलता है .

आपको इसका इस्तेमाल करना चाहिए इसके साथ ही दालचीनी कैंसर जैसे रोगों को रोकने में भी एक कारगर औषधि है क्योंकि इसके अंदर पाए जाने वाले औषधिक गुण कैंसर के कोशिकाओं के विकास को और कैंसर कोशिकाओं को फैलने से भी रोकते हैं जिससे आपका शरीर स्वस्थ रहता है । तो देखा आपने दालचीनी के कितने सारे फायदे देखने को मिलते हैं। इसके और भी बहुत सारे फायदे हैं अगर बताने लगे तो पोस्ट काफी लंबी हो जाएगी।

इसे कैसे लेना है

अब बात करते कि इसे कैसे लेना है तो आप इसे किसी के भी साथ इस्तेमाल कर सकते चाहे सब्जी के साथ हो ,,चाहे चाय के साथ,या पानी के साथ हो आदि लेकिन मैं तो आप ये ही सलाह देना चाहूंगा क्या आप इसको रात में सोने से पहले दूध के साथ इस्तेमाल करें.

दूध को पहले गर्म कर ले एक गिलास दूध में लगभग आधा चमक दालचीनी मिला ले और इसको अच्छे से मिक्स करने के बाद रात को सोने से लगभग 10 से 15 मिनट पहले या फिर आधा घंटा पहले ले सकते हैं ।

कौन कौन ले सकता है

इसे मेल या फीमेल कोई भी ले सकता है बच्चे भी ले सकते हैं लेकिन फिर भी बच्चों को देने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें क्योंकि ये बच्चों की उम्र पर डिपेंड करता है इसके अलावा जो महिलाएं प्रेग्नेंट है वे भी इसे ना लें क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान कोई अन्य मेडिसन लेना सही नहीं होता या ज्यादा जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह अवश्य ले.

इसके साथ ही जिन लोगों का बीपी लो रहता है या फिर शुगर लो रहता है या फिर जिन लोगों की कोई अन्य बीमारी की मेडिसन चल रही है तो वे भी इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।ये थी दालचीनी के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी ।

प्रेगनेंसी में दालचीनी के फायदे शुगर में दालचीनी के फायदे दालचीनी के फायदे और नुकसान गर्म पानी में दालचीनी पीने के फायदे दालचीनी की चाय कैसे बनाये दालचीनी के नुकसान दालचीनी के फायदे बालों के लिए दालचीनी और लौंग के फायदे

Leave a Comment