थायराइड के लिए डाइट प्लान

थायराइड के लिए डाइट प्लान

आजकल बीमारियां उमर देख कर नहीं आ रही है बच्चे बूढ़े नौजवान सभी बीमारियों से अछूते नहीं किसी को भी कभी भी किसी भी उम्र में कोई भी बीमारी हो सकती है आजकल के समय में थायराइड की समस्या आम होती जा रही है। 30 साल की उम्र के बाद किसी को भी थायराइड होने लगता है पहले यह समस्या कभी कभी सुनने में मिलती थी। लेकिन आज ऐसा मत किया हर घर में किसी ना किसी एक सदस्य को होती ही है। थायराइड की वजह से लोग काफी परेशानी का भी सामना करते यह ऐसी समस्या है जो लोगों को सामान्य जीवन जीने के लिए बड़ी कठिनाइयां पैदा करती है।

लेकिन इसे ठीक करना भी इंसान के ही बस में है यदि हमें सही डाइट खान पियन तरीका पता हो तो हम आसानी से थायराइड की समस्या को ठीक भी कर सकते हैं आज इस आर्टिकल में वह आपको बताएगे कि आप कहते थायराइड को अपने खान पियन कंट्रोल के साथ ठीक भी कर पाएंगे जानने के लिए बने रहे हमारे साथ चलिए शुरू करते हैं….

 क्या है थायराइड के लिए डाइट प्लान

थायराइड एक ऐसी समस्या है जो अब आम समस्याओं में गिनी जाती है। या बीमारी किसी को भी उसकी उम्र देखे बिना हो रही है थायराइड में हमारा शरीर इंबैलेंस हो जाता है कभी मोटापा नहीं लगता है। कभी एकदम से शरीर पतला होने लगता है थायराइड एक प्रकार की गले की एक ग्रंथि है। जो गले के सामने होती है इस हड्डी का काम होता है शरीर में  होने वाले हार्मोन को पैदा करना।

यह दो प्रकार की होती है जब यह ग्रंथि ज्यादा हार्मोन पैदा करने लगती है तो इसे हाइपर थायराइदडिज़्म बोला जाता है और जब यह हड्डी कम हारमोंस पैदा  करती है तो इसे हाइपो थायराइडिज़्म बोला जाता है  खास करके महिला में यह समस्या ज्यादा देखी जाती है।

क्योंकि उनका काम है ऐसा होता है कि वह ज्यादा फिजिकल एक्टिविटी टहलने वाले वाला काम नहीं करती है एक जगह बैठकर ज्यादा काम करती है थायराइड में टहलना बहुत जरूरी होता है। इसमें लोग दवाइयां तो खूब खाते हैं लेकिन साथ में डाइट प्लान करना भूल जाते दवाइयां जितना जरूरी है थायराइड को कंट्रोल करने के लिए उससे ज्यादा इसमें का डाइट प्लान जरूरी है परमानेंट आराम पाने के लिए है कि लोग दवाइयां ही खाते हैं डाइट प्लान पर ध्यान देगी यही वजह है कि समस्या जल्दी नहीं जाती।

क्यों जरूरी है थायराइड के लिए डाइट प्लान

  • थायराइड हमेशा कुछ जरूरी पोषक तत्वों की कमी से ही होता है।
  • थायराइड एक ग्रंथि होती है जो पोषक तत्वों की कमी से इंबैलेंस हो जाती हैं।
  • और अपना दुष्प्रभाव शुरू कर देती है ज्यादा हारमोंस बनाने लगती है।
  • ऐसे व्यक्ति को सामान जीवन जीने में दिक्कत आती है सही डाइट प्लान और सही पोषक तत्वों की कमी से ही इसे बैलेंस में रखा जा सकता है।
  • यही कारण है कि थायराइड में डाइट प्लान का बहुत महत्वपूर्ण योगदान होता है।
  • जो लोग केवल दवाई खा कर खुद को ठीक करना चाहते हैं उनको थायराइड कभी ठीक नहीं होता।

साथ में डाइट प्लान बेहद जरूरी होता है यदि थायराइड कंट्रोल करना है तो जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करना जरूरी है।

थायराइड के लिए जरूरी डाइट प्लान

थायराइड की समस्या हो जाने पर खाने-पीने का विशेष ध्यान पर ध्यान देना होता है ताकि समस्या बढ़ ना जाए इसीलिए समझदार लोग दवा से ज्यादा खाने पीने की चीजों पर विशेष ध्यान देते हैं थायराइड को ठीक करने के लिए डाइट प्लान में

पहला प्लान है कैल्शियम की पूर्ति करने करना

शरीर में थायराइड असंतुलित होने का सबसे बड़ा कारण होता है कैल्शियम की कमी हो ना इसलिए सबसे पहले हमें कैल्शियम की पूर्ति करनी चाहिए शरीर में जितनी जल्दी करके की पूर्ति होगी उतनी जल्दी थायराइड कंट्रोल होगा ।

और जल्द ही ठीक होने में सहायता मिलेगी थायराइड होने की वजह से हड्डियों में कमजोरी आने लगती है। इसके लिए कैल्सियम की पूर्ति करना बेहद जरूरी होता है कैल्शियम का स्रोत दूध दही छाछ पनीर हरी पत्तेदार सब्जियों में दाल में साबुत अनाज में भरपूर मात्रा में होता है आप अपनी डाइट प्लान में इनको शामिल करना चाहिए।

 दूसरा उपाय विटामिन डी की कमी को पूरा करे।

हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाने से पूरा शरीर कमजोर एक तरफ आगे बढ़ने लगता है ।कई तरह की बीमारियां अंदर आने लगती विटामिन डी सबसे जरूरी होता है शरीर में विटामिन डी को जल्दी पूरा करने के लिए सबसे अच्छा स्रोत है। धूप सुबह की धूप में यदि आप 1 घंटे रोज धूप में बैठने का नियम बना लेंगे तो आपको विटामिन डी की कमी कभी भी नहीं होगी ।और आप भी थायराइड की समस्या भी धीरे-धीरे खत्म हो जाएगी।

तीसरा उपाय धनिया का सेवन

थायराइड को ठीक करने कंट्रोल करने के लिए धनिया बहुत कारगर साबित होता है धनिए का सेवन आप हरी धनिया की चटनी भी सुबह खा सकते हैं प्रतिदिन हरी धनिया ना उपलब्ध होने पर आप साबुत धनिया को शाम को पानी में भिगोकर रख दें ।

और सुबह उसे पानी के साथ निकल जाए या प्रयोग करने से आपका थायराइड कंट्रोल रहेगा और आपकी समस्या धीरे-धीरे ठीक होने लगेगी।

 चौथा उपाय संतुलित आहार

जी हां आप को संतुलित आहार के रूप में भोजन लेना चाहिए जिसमें आपको हरि वेजिटेबल्स और फल को शामिल करना चाहिए सुबह का नाश्ता यदि आप फल और हरी सब्जियों से शुरू करेंगे तो आप की विभिन्न प्रकार की बीमारियां वैसे भी जड़ से खत्म हो जाएंगी ।आप चुकंदर का गाजर का जूस पी सकते हैं अपने नाश्ते में इनको ऐड कर सकते हैं पेट साफ रखना बेहद जरूरी होता है। इसके लिए आपको पर्याप्त मात्रा में फाइबर लेना बेहद आवश्यक होता है।। फाइबर खाने से आपके पेट में कभी भी रुकावट नहीं आएगी पेट सफा रहेगा तो आपको बीमारी भी जल्दी ठीक हो जाएगी।

थायराइड के लिए डाइट प्लान थायराइड के लक्षण थायराइड की दवा के नुकसान महिलाओं में थायराइड के साइड इफेक्ट थायराइड का रामबाण इलाज थायराइड में दही खाना चाहिए कि नहीं थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें थायराइड में चावल खाना चाहिए कि नहीं थायराइड में गर्म पानी पीना चाहिए या नहीं

Leave a Comment