डैंड्रफ क्या है रूसी को जड़ से खत्म करने के उपाय

डैंड्रफ क्या है रूसी को जड़ से खत्म करने के उपाय

What is Dandruff in Hindi – जिस तरह से हमारे शरीर के दूसरे अंगों में अलग-अलग प्रकार की कई बीमारियां होती है उसी तरह हमारे सिर के बालों में भी कई प्रकार की बीमारियां होती है जिससे हमारे शरीर के जिससे हमारे सिर के बाल या तो सफेद होने लगते हैं या गिरने लगते हैं या हमारे सिर के बाल बिल्कुल कमजोर हो जाते हैं जो कि कंघी करने पर टूट कर गिरने लगते हैं और उसी बीमारी में से एक बीमारी रुसी भी है वैसे तो आपके सिर के बाल अलग-अलग प्रकार की कई वजहों से गिरना झड़ना या टूटना शुरू हो सकते हैं लेकिन ज्यादातर लोगों के सर में रूसी की समस्या देखी जाती है सुनने में तो रुसी एक आम समस्या लगती है लेकिन अगर यह आपके सिर में ज्यादा लंबे समय तक रह जाती है तब आपके सिर के लगभग ज्यादातर बालों को गिरा देती है या आपके बालों का रंग भी सफेद कर देती है.

आजकल यह समस्या लगभग हर एक दूसरे इंसान में देखने को मिल जाती है रूसी से छुटकारा पाने के लिए लगभग सभी लोग कई प्रकार के अलग-अलग शैंपू, साबुन जैसी कई चीजों का इस्तेमाल करते हैं लेकिन फिर भी रूसी से छुटकारा नहीं मिल पाता तो आज के इस ब्लॉग में हम बात करेंगे कि रूसी किन किन कारणों से उत्पन्न होती है इस से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है और रूसी से बचने के लिए किन-किन चीजों का उपयोग करना चाहिए.

रुसी कैसे फैलती है

Causes Of Dandruff in hindi – वैसे तो सिर में रूसी फैलने की कई कारण हो सकते हैं लेकिन रूसी एक छुआछूत यानी संक्रमण बीमारी है जो कि किसी व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति से ही मिलती है और यह ज्यादातर एक दूसरे इंसान के तोलिये को इस्तेमाल करने से या शैंपू साबुन आदि को इस्तेमाल करने से या आपस में पास बैठने से फैलती है

जब किसी व्यक्ति के सिर में रूसी होती है तो उस इंसान के सिर में जोर-जोर से खुजली शुरू हो जाती हैऔर बार-बार कंघी करने का मन करता है वह कंघी करने पर सिर से छोटे-छोटे सफेद रंग के बुरादे की जैसे कण दिखाई देते हैं वैसे रूसी दो प्रकार की होती है जिसे सुखी रूसी और तेलिया रूसी के नाम से जाना जाता है रूखे बालों में रुसी होना सूखी रूसी कहलाती है सिर को खुजलाने से बालों पर नजर आने लगती है और नाखूनों में लग जाती है। बालों में बुरी तरह से चिपकी रहने वाली रूसी को तैलीय रूसी कहते हैं यह रुसी हमारी त्वचा के ऊपर पपड़ी बनकर चिपकी रहती है

रुसी किस कारण पैदा होती है

वैसे तो सिर में रूसी होने के कई कारण हो सकते हैं लेकिन रूसी ज्यादातर हमारे रक्त संचार में दिक्कत आने के कारण, त्वचा की तेल ग्रंथियों का अधिक क्रियाशील होने के कारण, हमारे सिर में ज्यादा तेल का इस्तेमाल करने के कारण, बालों की ज्यादा देखभाल न करने के कारण, नहाते समय सिर में शैंपू साबुन आदि के कण रह जाने के कारण, ज्यादातर रासायनिक शैंपू साबुन या कलर आदि का इस्तेमाल करने के कारण, ज्यादा असंतुलित भोजन खाने के कारण या फिर किसी रूसी वाले व्यक्ति के कंघे, तोलिए, ब्रश, तकिए या टोपी आदि का इस्तेमाल करने के कारण या ज्यादा समय तक नहीं नहाने के कारण और बालों में संक्रमण होने के कारण सिर में रूसी पैदा हो सकती है

रुसी रोग के लक्षण

जब किसी व्यक्ति के शरीर में रुचि उत्पन्न हो जाती है तब उस स्थिति में कई प्रकार के अलग-अलग लक्षण देखने को मिलते हैं जब सिर में कंघी करते हैं या हाथ से खुजली करते हैं तब आपको बालों में छोटे छोटे बुरादे के जैसे सफेद काण दिखाई देंगे या फिर आपके बाल टूटना या झड़ना शुरू हो जाएंगे, बालों में पपड़ी जमना शुरू हो जाएगी जिससे आपके बालों के नीचे तक हवा नहीं पहुंच पाती है और आपके बाल कमजोर होकर गिरना व टूटना शुरू हो जाते हैं आपको सिर में बहुत ज्यादा खुजली करने का मन करेगा तो यह कुछ ऐसे लक्षण है जो कि आपको शरीर में रुचि उत्पन्न हो जाने से आपके सिर में देखने को मिलते हैं

रूसी होने पर क्या क्या खाएं

अगर किसी इंसान के सिर में रूसी पैदा हो जाती है तब उस इंसान को खान-पान का भी ध्यान रखना पड़ता है क्योंकि कई बार रूसी की समस्या असंतुलित भोजन का सेवन करने के कारण भी हो जाती है

  • आपको सुपाच्य, संतुलित और पौष्टिक भोजन करना चाहिए
  • आपको ककड़ी, गाजर ,आंवले आदि का रस सुबह-शाम पीना चाहिए
  • आपको ज्यादातर हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए जैसे चौलाई, ककड़ी, पत्ता गोभी, गाजर, प्याज, मेथी, चकुंदर आदि
  • आपको दूध दही घी व मीठे फल आदि का सेवन ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए
  • आपको ज्यादा से ज्यादा प्रोटीन युक्त चीजें खानी चाहिए जैसे चना सोयाबीन राजमा और मूंग आदि

क्या नहीं खाना चाहिए

  • आपको ज्यादा असंतुलित भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए
  • आपको ज्यादा तली भुनी हुई या मिर्च मसालेदार चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए
  • अधिक तैलीय भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए
  • आपको ज्यादा अचार, अमचूर, खटाई आदि नहीं खानी चाहिए

रूसी होने पर क्या-क्या करना चाहिए

अगर किसी के शरीर में रुचि उत्पन्न हो जाती है तब उसको इंसान को क्या क्या करना चाहिए और क्या क्या नहीं करना चाहिए

  • आपको अपने बालों की नियमित रूप से सफाई करनी चाहिए
  • एक कप दही में आधा कप बेसन मिलाकर बालों में मसल मसल कर लगाना चाहिए और फिर 2 घंटे के बाद सिर को धो लेना चाहिए
  • आपको आंवला अरहर की दाल और रीठा आदि को मिलाकर सिर में लगाना चाहिए
  • नहाने के 1 घंटे बाद हर रोज नींबू के रस को अपने सिर में लगाना चाहिए
  • नारियल के तेलुगू अपने बालों में नियमित रूप से लगाना चाहिए

क्या क्या नहीं करना चाहिए

  • आपको ज्यादा अलग-अलग प्रकार के तेल का अपने बालों में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
  • आपको अपना कंघा, हेयर ब्रश, तौलिया, तकिया दूसरे को इस्तेमाल करने को न दें।
  • अगर आपके बालों में रूसी है तब आपको जल्दी से जल्दी इसके निवारण के लिए कदम उठाने चाहिए
  • आपको ज्यादा रसायनिक हेयर कलर, डाई, शैंपू आदि का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
  • अगर किसी व्यक्ति के सिर में रूसी है तो उससे दूर रहना चाहिए और उसकी चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

रूसी की दवा आयुर्वेदिक

डैंड्रफ दूर करने के लिए वैसे तो कोई विशेष दवाई नहीं होती है इसके लिए आपको सिर्फ अपने सिर का ध्यान रखना होगा और समय-समय पर तेल से मालिश करनी होगी. मार्केट में मिलने वाले तेल में काफी कैमिकल मिलाए जाते हैं इसीलिए वह आपके बालों में और दिक्कत कर सकते हैं इसीलिए हमेशा शुद्ध तेल का उपयोग करें नीचे आपको कुछ तेलों के नाम बताए गए हैं जिनकी मालिश करने से आपका डैंड्रफ जड़ से खत्म हो सकता है.

  • नीम तेल लगाने से रूसी दूर होती है
  • टीट्री तेल लगाने से रूसी दूर होती है
  • तिल कातेल लगाने से रूसी दूर होती है
  • नारियल का तेल लगाने से रूसी दूर होती है
  • हल्के गर्म तेल लगाने से रूसी दूर होती है

डैंड्रफ की दवा रूसी के नुकसान रूसी को जड़ से खत्म करने के उपाय सर्दियों घर उपचार में रूसी से छुटकारा पाने के लिए कैसे डैंड्रफ का रामबाण इलाज रूसी की दवा आयुर्वेदिक डैंड्रफ शैम्पू डैंड्रफ होने का कारण क्या है

Leave A Reply

Your email address will not be published.