आंखें लाल होने के कारण लक्षण बचाव व उपचार

आंखें लाल होने के कारण लक्षण बचाव व उपचार

हमारे शरीर में बहुत सारे ऐसे होते रोग हैं जो कि शरीर के अंदर होते हैं और कुछ ऐसे रोग हैं जो कि शरीर के बाहरी अंगों पर होते हैं लेकिन हमारे शरीर के कुछ ऐसे विशेष भाग होते हैं जो कि रोग ग्रस्त होने पर हमें बहुत ज्यादा तकलीफ देते हैं और आंख भी हमारे शरीर का एक अभिन्न अंग है इसके बिना हम कुछ भी नहीं देख पाते जब भी हमारी आंख में बिल्कुल सूक्ष्म मिट्टी का कण चला जाता है तब भी हमारी आंखों को बहुत परेशानी होती है लेकिन कई बार हमारी आंखों में कुछ ऐसे रोग हो जाते हैं जिनसे हमें दिखाई देना बंद हो जाता है और कई बार हमारी आंखों में इतनी ज्यादा परेशानी होती है कि हम उसको सहन भी नहीं कर पाते तो आज के इस ब्लॉग में हम आंखों के रोग के बारे में जानेंगे इस ब्लॉग में हम आंख से जुड़े हुए रोगों के उत्पन्न होने के कारण लक्षण बचाव व उपचार आदि के बारे में बात करेगे

आंख के रोग

जैसा कि आप सभी जानते हैं हमारी आंख कई अलग-अलग भागों से मिलकर बनी होती है इन सभी भागों का अलग-अलग काम होता है लेकिन अगर इन में से किसी एक भाग में भी दिक्कत आ जाए तब हमारी आंखें काम करना बंद कर देती है और हमारी आंखों में तेज दर्द होने लगता है कई बार आपने देखा होगा कि बहुत सारे लोगों की आंखें अचानक लाल हो जाती है क्योंकि हमारी आंख के कॉर्निया को छोड़कर बाकी पूरे हिस्से पर एक पतली परत होती है और जब उस परत में किसी भी तरह के बैक्टीरियल फंगल या वायरस से एलर्जी या इंफेक्शन हो जाता है तब इससे हमारी पूरी आंख लाल हो जाती है

और बहुत तेजी से दर्द करती है कई बार हमारी आंखों में धूल मिट्टी या अन्य वस्तु चली जाती है तब भी हमारी आंखें लाल होने लगती है लेकिन अगर किसी इंसान की आंखें अपने आप लाल रहती है तब इन में इंफेक्शन या किसी बड़ी बीमारी का हाथ हो सकता है और इसके अलावा अब आप ने हाल ही में सुना हुआ कि बहुत सारे फंगस हमारी आंखों को अपना शिकार बना रहे हैं जिनमें ब्लैक फंगस वाइट फंगस और यल्लो फंगस जैसी फंगस शामिल हैं यह सभी फंगस हमारी आंखों को बिल्कुल खत्म कर देते हैं और कुछ समय बाद हमारी आंखें काम करना बंद कर देती है

आंखों के लाल होने के कारण

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कई बार हमारी आंखें किसी वस्तु या किसी धूल मिट्टी के कण के अंदर चले जाने से लाल हो जाती है जो कि कुछ समय बाद अपने आप ठीक हो जाती है लेकिन अगर आपकी आंखों में फंगस या इंफेक्शन है तब आपकी आंखें अपने आप ठीक नहीं होती और तेजी से दर्द करने लगती है इसके साथ और हमारी दोनों आंखों में दिखाई देना कम हो जाता है इसके अलावा आंखों का जोर से रगड़ना, तेज रोशनी में ज्यादा लंबे समय तक काम करना,

रात के समय में ज्यादा मोबाइल लैपटॉप में टीवी आदि देखना, लंबे समय तक नींद न लेना, आंखों के ऊपर गहरी चोट लगना, आंखों की मांसपेशियां कमजोर होना, आंखों में किसी मच्छर मक्खी का गिर जाना, हमारी आंखों में काला मोतिया, सफेद मोतिया ब्लैक, येलो, फंगस जैसी बीमारियां होना, धुएं व धूल वाले क्षेत्र में काम करना आदि इस समस्या के मुख्य कारण होते हैं

आंख लाल होने के लक्षण

अगर किसी की आंख में धूल मिट्टी या कोई वस्तु गिर जाती है तब उसका लाल होना संभव है लेकिन अगर आपकी आंख में कोई इंफेक्शन या कोई बीमारी दस्त दे रही है तब उससे पहले आपको कुछ लक्षण दिखाई देते हैं जैसे आपकी आंखों में दर्द होना, आपकी आंखों में गीड आना, आपकी आंखों में पानी आना, आपकी आंखों की मांसपेशियां दर्द करना, आपका सिर दर्द करना,

आपको देखने में दिक्कत होना, आपकी आंखों में जलन होना, आपको बार-बार नींद आना, बार-बार आंखों को रगड़ने का मन करना, आप को हल्का बुखार आना, आंखें नाक के दोनों साइड से दर्द करना, आँखे चिपकना आदि इस समस्या के लक्षण होते हैं इसके अलावा भी आपको इस समस्या में और बहुत सारे लक्षण दिखाई दे सकते हैं

बचाव

  • आंख में किसी वस्तु के चले जाने पर रगड़ना नहीं चाहिए
  • आपको बाहर जाते समय चश्मा पहनना चाहिए
  • आपको बाइक स्कूटर आदि चलाते समय हेलमेट या चश्मे का उपयोग करना चाहिए
  • आपको तेज रोशनी के संपर्क में नहीं आना चाहिए
  • आपको अपनी आंखों को धूल मिट्टी आदि से बचा कर रखना चाहिए
  • आपको लंबे समय तक मोबाइल में कंप्यूटर आदि इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
  • आपको कम रोशनी में पढ़ना नहीं चाहिए
  • आपको अपनी आंखों में किसी इंफेक्शन या फंगल के लक्षण दिखाई देते हैं डॉक्टर के पास जाना चाहिए
  • आपको अपनी आंखों को धुएं व भाप आदि से दूर रखना चाहिए
  • अगर आप किसी केमिकल की फैक्ट्री में काम करते हैं तब आपको अपनी आंखों को बचा कर रखना चाहिए
  • अगर आप किसी ऑफिस या ड्राइविंग आदि का काम करते हैं तब आपको अपनी आंखों को बीच-बीच में आराम देते रहना चाहिए

क्या करें

  • आपको हर रोज सुबह अपनी आंखों को ठंडे पानी से धोना चाहिए
  • आपको अपनी आंखों में दवाइयां डालनी चाहिए
  • आपको समय-समय पर अपनी आंखों का टेस्ट करवाना चाहिए
  • आपको किसी भी तरह की बीमारी के लक्षण दिखाई देते ही तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए
  • आपको अपनी आंखों को आराम देना चाहिए
  • आपको अपनी नींद को पूरा करना चाहिए
  • आपकी आंख में कुछ गिर जाने पर सूती कपड़े से ही निकालना चाहिए
  • आपको अपनी आंखों को गर्म कपड़े से सेंकना चाहिए
  • आपको एलर्जी वाली दवाइयों का सेवन नहीं करना चाहिए
  • आपको शराब बीड़ी सिगरेट तंबाकू आदि का सेवन नहीं करना चाहिए

लेकिन फिर भी अगर आपकी आंखें बार-बार लाल होती है तब आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए और अपने आंखों के टेस्ट करवाने चाहिए और डॉक्टर के द्वारा दी गई दवाइयों को नियमित रूप से इस्तेमाल करना चाहिए या आप कुछ आयुर्वेदिक औषधियों व दवाइयों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको पहले डॉक्टर से सलाह लेना बहुत जरूरी है

आँख लाल होने पर घरेलू उपचार आँख लाल होने का कारण एक आंख लाल होने का कारण corona आंखों में खुजली होना घरेलू उपचार आंख में इन्फेक्शन की दवा आंखों में दर्द होना घरेलू उपाय आंखों में खुजली और लाल होना बच्चों की आंखों का लाल होना

Leave a Comment