अर्शकल्प वटी टैबलेट लेने के फायदे

अर्शकल्प वटी टैबलेट लेने के फायदे

अब बात करते हैं इसके प्राइस के बारे में इसका प्राइस ₹65 है जिसमें आपको 80 टैबलेट देखने को मिलती है इसे आप किसी भी पतंजलि स्टोर से आसानी से खरीद सकते हैं या फिर आप इसे ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते है

फायदे

अब बात करते है इसके फायदों के बारे में
नंबर -1अर्शकल्प वटी के फायदे जानने से पहले सबसे पहले हमें ये बात जानना बहुत जरूरी है की इसके अंदर आखिर ऐसी कौन-सी जड़ी बूटियां डाली गई है जो पाइल्स यानी बवासीर जैसे रोगों में इतनी फायदेमंद है।
दूसरा इसके अंदर डाला गया है रसोद शुद्ध और रसोद शुद्ध के अंदर ऐसे औषधि गुण पाए जाते हैं जो घाव को भरने में और सूजन को कम करने में काफी मददगार होते हैं और दूसरा इसमें डाला गया है छोटी हर्ड और हर्ड के बारे में आप भले ही जानते हो या ना जानते हो हरड़ का आयुर्वेद में काफी ज्यादा महत्व है हर्ड हमारे पाचन क्रिया को मजबूत करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है
ये हमारे पाचन क्रिया को बेहतर करके हमें पेट संबंधित अनेक रोग जैसे गैस, एसिडिटी, पेट फूलना और कब्ज यानी कॉन्स्टिपेशन जैसे रोगों से छुटकारा दिलाने का काम करती है
इसके बाद इसमें डाला गया है। बकायन और बकायन बवासीर जैसे रोगों में कब्ज को दूर करने में, त्वचा रोगों में, सूजन को कम करने में, मुहँ के छालों में,पेट दर्दमें , पेट के कीड़ों में काफी ज्यादा फायदेमंद माना जाता है और इसके अलावा बकायन के आपको और भी कई और गुना फायदे देखने को मिलते हैं
इसके अलावा भी इसमें और भी जड़ी बूटियां डाली गई है जैसे-रीठा,कपूर देसी,निमोली आदि सबसे ज्यादा इसमें रसोद शुद्ध है जो 150 एमजी की मात्रा में डाला गया है। क्योंकि पाइल्स में घाव हो जाते हैं मलद्वार पे तो घाव को भरने के लिए रसोद जरूरी हैI इसलिए रसोद की मात्रा इसमें ज्यादा है
यानी ओवरऑल बात करूं इसमें जितने भी इनग्रेडिएंस डाले गए हैं वो पेट संबंधित समस्याओं को ठीक करने में और पाइल्स दोनों को ठीक करते है यानी आपके पेट को तो ठीक करते ही हैं और घावों को भी भरते हैं इतनी महत्वपूर्ण जड़ी बूटियों को मिलाकर बनाया गया है अर्शकल्प वटी
मैं तो आपको यही कहना चाहूंगा अगर किसी व्यक्ति को बहुत ज्यादा पाइल्स बड़ी हुई है और उन्हें ब्रीडिंग पाइल्स समस्या है तो उन्हें इस मेडिसन का यूज़ करके भरपूर लाभ लेना चाहिए लेकिन एक बात मैं आपको कहना चाहूंगा इस मेडिसन के आपको फायदे तो मिलेंगे पाइल्स,बवासीर जैसे रोग में लेकिन तब जब आप कुछ बातों का ध्यान रखेंगे जैसे आपको ज्यादा इस्पाइसी चीजों का सेवन बंद करना होगा। यानी आपको ज्यादा मिर्च मसाले वाली चीजों का सेवन बंद करना होगा। अपने खाने पीने का विशेष ध्यान देना होगा जैसे- हरी सब्जियां, अनाज, दालें,यानी जितने भी हेल्दी फूड प्रोडक्ट है उन्हीं का आप सेवन करें सुबह-शाम एक्सरसाइज कीजिए जिससे आप इस मेडिसन का पूरा लाभ उठा पाएंगे और एक और बात कहना चाहूंगा जितना हो सके सादा भोजन का ही सेवन करें ।

इसे कैसे लेना है

इसे आपको दिन में दो बार इस्तेमाल करना है एक बार सुबह खाली पेट आपको लेना है और शाम को डिनर के 1 घंटे पहले आपको इसे लेना है।
आप इसे नॉर्मल पानी से या फिर बटर्मिल्क से यानी छास से ले सकते हैं और अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं लास्ट में इतना तो मैं आप से जरुर कहना चाहूँगा जो भी मैंने आपको बातें बताई है इस मेडिसन के दौरान आपको क्या क्या परहेज करना है तो आप उन बातों को फॉलो करते है तो आपको इसके बढ़िया रिजल्ट देखने को मिलेंगे यह थी अर्शकल्प वटी के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

अर्शकल्प वटी टैबलेट लेने के फायदे वेद ऋषि का अर्शकल्प के फायदे अर्शकल्प वटी के फायदे और नुकसान अर्शकल्प वटी के फायदे price वेद ऋषि का अर्शकल्प के बारे में जानकारी अर्शकल्प वटी के नुकसान वेद ऋषि का अर्शकल्प कैप्सूल price अर्शकल्प बवासीर की दवा अर्शकल्प वटी लेने का तरीका

Leave a Comment