सचिन तेंदुलकर के बारे में 30 रोचक तथ्य

सचिन तेंदुलकर के बारे में 30 रोचक तथ्य

दुनिया में बहुत से तरह के अलग-अलग खेल खेले जाते हैं उन खेलों के अंदर अलग-अलग तरह के अलग-अलग देशों के अलग-अलग खिलाड़ी होते हैं और सभी देशों के अलग अलग राष्ट्रीय खेल होते हैं और उन खेलों के अंदर बहुत ज्यादा खिलाड़ी खेलते हैं और सबसे ज्यादा जिस देश में खेल लोकप्रिय होता है उस खेल को वह देश अपना राष्ट्रीय खेल मानता है ऐसे दुनिया में बहुत से देश है जो कि अपने अपने देश के अंदर अपने किसी राष्ट्रीय खेल के अंदर बहुत अच्छे खिलाड़ी रखता है इसी तरह से दुनिया में एक ऐसा खेल भी है जो कि चाहे किसी भी देश का राष्ट्रीय खेल ना हो लेकिन सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला खेल है और यह दुनिया के और देशों में तो नहीं ज्यादा प्रसिद्ध लेकिन भारत पाकिस्तान श्रीलंका बांग्लादेश ऑस्ट्रेलिया न्यूजीलैंड साउथ अफ्रीका इंग्लैंड वेस्टइंडीज और इसके अलावा और भी बहुत से देशों के अंदर है खेल का नाम है दोस्तों क्रिकेट क्रिकेट लोकप्रिय खेल है

आज के समय में इन देशों के अंदर बहुत ज्यादा क्रिकेट का लोगों के ऊपर चढ़ा हुआ है और उनके अंदर बहुत ही बड़े-बड़े महान महान खिलाड़ी पैदा हुए हैं और उन्होंने दुनिया भर के रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं खिलाड़ी क्रिकेट को ऊंचाइयों तक ले जाने के अंदर बहुत बड़ा योगदान दे रहे हैं और पहले खेल कर भी दिया है और अब रिटायरमेंट होने के बाद खिलाड़ी क्रिकेट को और नई बुलंदियों तक ले जाने में अपनी जी जान लगा रहे हैं दुनिया में ऐसे बहुत ही बड़े-बड़े खिलाड़ी पैदा हुए होंगे लेकिन क्रिकेट के अंदर सबसे बड़ा खिलाड़ी क्रिकेट का भगवान कहा जाता है उस खिलाड़ी का नाम है सचिन तेंदुलकर सचिन तेंदुलकर भारत का एक बहुत ही अच्छा और सबसे बढ़िया तो है ही लेकिन इसके साथ ही है अपनी बल्लेबाजी के लिए पूरी दुनिया भर में प्रसिद्ध हुआ है

और सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है सचिन तेंदुलकर कैरियर बहुत ही छोटी उम्र में शुरू किया था और वह लगभग 40 साल तक की उम्र तक क्रिकेट खेलते रहे उन्होंने अपने नाम की है और बहुत ही अच्छे थे क्रिकेट का जब भी आता है तो सचिन तेंदुलकर का नाम उस चीज में जरूर आपको मिलेगा क्योंकि सचिन तेंदुलकर ने बहुत ज्यादा क्रिकेट खेला है उन्होंने लगभग 23 साल

क्रिकेट का भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर भारत के सबसे अच्छे बल्लेबाज खिलाड़ी है.सचिन तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल 1973 में हुआ था और इन्हें भारत रत्न से भी सम्मानित किया जा चुका है और यह अकेले ऐसे खिलाड़ी है जिन्हें राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार दिया जा चुका है और 2008 में इन्हें पदम विभूषण से भी पुरस्कृत किया गया था.

सचिन ने अपनी बल्लेबाजी के दम पर दुनिया भर के गेंदबाजों को डरा कर रखा उन्होंने अपनी बल्लेबाजी के दम पर भारत को बहुत से मैच जिताए हैं और वह सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले दुनिया के एकमात्र खिलाड़ी भी है और सचिन तेंदुलकर बहुत अच्छे देशों के खिलाड़ियों को भी के द्वारा भी सम्मान पाया है सचिन ने बहुत तरह के अलग अलग रिकॉर्ड बनाए हैं शायद ऐसा दुनिया में कोई भी खिलाड़ी या बल्लेबाज होगा जोकि सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ सकेगा क्योंकि यह सिर्फ क्रिकेट के भगवान हैं तो आज हम आपको इस पोस्ट में कुछ ऐसी भी बातें सचिन तेंदुलकर के बारे में बताएंगे जिन्होंने अपना सारा समय क्रिकेट के मैदान पर बिताया है

और इसीलिए उन्हें क्रिकेट का भगवान कहा जाता है अगर कोई क्रिकेट को अच्छी तरह से जानता है तो सिर्फ सचिन तेंदुलकर की क्रिकेट को अच्छी तरह से जानते हैं आज हम आपको कुछ ऐसे रोचक तथ्य बताएंगे जो शायद आप नहीं जानते होंगे और आपको यह जानकर बहुत पसंद आएगा कि सचिन तेंदुलकर एक बहुत ही अच्छे खिलाड़ी हैं वैसे तो सचिन तेंदुलकर ने अभी क्रिकेट को अलविदा कह दिया है उन्होंने क्रिकेट से संन्यास ले लिया है लेकिन फिर भी एक बहुत ही अच्छे खिलाड़ी थे नीचे हमारी पोस्ट में अंतर से संबंधित कुछ जानकारी दी गई है.

सचिन तेंदुलकर के बारे में 30 रोचक तथ्य

1. सचिन तेंदुलकर 14 साल की उम्र में मुंबई की रणजी टीम में शामिल हुए. इतनी कम उम्र में मुंबई की Ranji Team में शामिल होने वाले वे पहले खिलाड़ी थे.
2. Sachin ने Pakistan के ख़िलाफ़ अपने पहले टेस्ट मैच में सुनील गावस्कर से उपहार में मिले पैड्स को पहन कर खेला था.
3. 1996 के विश्वकप में सचिन के बल्ले पर किसी भी कंपनी का लोगो नहीं था. विश्वकप के तुरंत बाद टायर बनने वाली कंपनी MRF ने उनसे करार कर लिया था.
4. सचिन तेंदुलकर ने रणजी, दलीप और ईरानी ट्राफ़ी के अपने पहले ही मैचों में शतक जमाए. ऐसा करने वाले वे भारत के एकमात्र बल्लेबाज़ हैं. उनका यह रिकॉर्ड आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है.
5. सचिन तेंदुलकर सौरव गांगुली को ‘बाबू मोशाय’ कहते हैं और गांगुली उन्हें ‘छोटा बाबू’ कह कर पुकारते हैं.
6.सचिन के पिता रमेश तेंडुलकर ने सचिन को करियर की शुरुआत में ही शराब और सिगरेट के विज्ञापनों से दूर रहने की सलाह दी थी और सचिन ने भी अपने पिता से ऐसा न करने वादा किया था।
7. अब सचिन के रिटायरमेंट के बाद उनके बच्चे England के लिए भी खेल सकते हैं। क्योकीं उनकी नानी अन्नाबेल इंग्लैंड की हैं।
8. भारत सरकार की तरफ़ से सचिन तेंदुलकर को पद्म विभूषण, राजीव गांधी अवॉर्ड (खेल), महाराष्ट्र भूषण अवॉर्ड, पद्मश्री, अर्जुन अवॉर्ड और भारत रत्न से सम्मानित किया गया है
9. मुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में 1988 में खेले एक दिवसीय अभ्यास मैच में सचिन तेंदुलकर ने पाकिस्तान के लिए फ़ील्डिंग की थी.
10. सचिन तेंडुलकर Left Hander हैं। जी हां, यह सच है। वैसे तो सचिन सीधे हाथ से बल्लेबाजी करते हैं। बॉलिंग में भी उनका सीधा हाथ काम करता है, लेकिन Autograph देने के लिए वे बायें हाथ का इस्तेमाल करते हैं।

11. Dennis Lillee और सचिन तेंदुलकर के रिश्ते पर काफ़ी बात हुई है. M.R.F के फाउंडर लिली ने ही सचिन को गेंदबाजी छोड़ बल्लेबाजी पर ध्यान देने की सलाह दी थी. लिली ने जिन खिलाड़ियों को तेज़ गेंदबाज़ बनने से मना किया उनमें Sourav Ganguly भी शामिल थे.
12. 1995 में सचिन तेंदुलकर नकली मूंछ-दाढ़ी और चश्मा लगाकर फ़िल्म ‘रोजा’ देखने गए थे, लेकिन उनका चश्मा गिरते ही सिनेमा हॉल में मौजदू लोगों ने उन्हें पहचान लिया.
13. दिलचस्‍प तथ्‍य यह है कि सचिन जब कभी भी टीम के साथ बस में होते हैं तो वे हमेशा पहली पंक्ति में बायीं तरफ की खिड़की वाली सीट पर बैठते हैं।
14.सचिन तेंदुलकर 14 साल की उम्र में मुंबई की रणजी टीम में शामिल हुए. इतनी कम उम्र में मुंबई की Ranji Team में शामिल होने वाले वे पहले खिलाड़ी थे.
15. Sachin ने Pakistan के ख़िलाफ़ अपने पहले टेस्ट मैच में सुनील गावस्कर से उपहार में मिले पैड्स को पहन कर खेला था.
16. 1996 के विश्वकप में सचिन के बल्ले पर किसी भी कंपनी का लोगो नहीं था. विश्वकप के तुरंत बाद टायर बनने वाली कंपनी MRF ने उनसे करार कर लिया था.
17. सचिन तेंदुलकर ने रणजी, दलीप और ईरानी ट्राफ़ी के अपने पहले ही मैचों में शतक जमाए. ऐसा करने वाले वे भारत के एकमात्र बल्लेबाज़ हैं. उनका यह रिकॉर्ड आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है.
18. सचिन ने अपने ज्यादातर बड़े स्कोर गोकुलाष्टमी, होली, रक्षा बंधन और दीपावली जैसे भारतीय त्योहारों पर ही बनाए हैं।
19. सचिन ने अपने टेस्ट करियर में कभी तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी नहीं की। बतौर सेकंड ओपनर वे कुल 1 बार उतरे।
20. सचिन के नाम एक खास रिकॉर्ड दर्ज है। वे जिस भी Ranji Match में खेले हैं, उनकी टीम हर बार विजयी रही है।

21.एकमात्र रणजी मैच जिसमें सचिन हारी हुई मुंबई टीम का हिस्सा थे वह Haryana के खिलाफ था।
22. एक बार सचिन छत पर खेल रहे थे तभी ऊपर से एक हैलीकाॅपटर गुजरा ओर उनकी उंगली कट गई।
23. यह बेहद कम लोग ही जानते हैं कि सचिन तेंदुलकर अपने पिता रमेश तेंदुलकर की दूसरी पत्‍नी के पुत्र है। रमेश तेंदुलकर की पहली पत्‍नी से तीन संताने हुई, अजीत, नितिन और सविता तीनों सचिन से बड़े है।
24. सचिन के पिता रमेश तेंदुलकर प्रसिद्ध संगीतकार सचिन Dev Burman के बहुत बड़े फ़ैन थे. उन्होंने अपने बेटे का नाम भी उन्हीं के नाम पर रखा.
25. स्कूल टाइम में सचिन अपने दोस्तों के साथ वड़ा पाव खाने का कॉम्पीटीशन रखते थे। विनोद कांबली को वे कई बार इस रेस में हरा चुके हैं।
26. स्कूली जीवन में उनके अच्छे दोस्त अतुल रानाडे ने उनके घुंघराले बालों के कारण उन्हें लड़की समझ लिया था।
27. बचपन में यदि सचिन नेट्स में पूरा सत्र बिना आउट हुए खेल लेते, तो उनके कोच ‘रमाकांत अचरेकर’ उन्हें एक सिक्का देते थे. सचिन के पास ऐसे 13 सिक्के हैं.
28. सचिन जब भी बल्लेबाजी के लिये उतरे, मैदान पर कदम रखने से पहले वह सदैव सूर्य देवता को नमन करते।
29. सचिन अपनी Ferrari के इतने दीवाने हैं कि वे अपनी पत्नी Anjali को भी इसे चलाने नहीं देते.
30. सचिन तेंदुलकर का बैट लगभग 1.5 किलोग्राम का होता था. इतना भारी बल्ला सिर्फ़ दक्षिण अफ्रीका के लांस क्लूजनर इस्तेमाल करते थे.

तो आज आज हमने आपको इस पोस्ट के अंदर सचिन तेंदुलकर के बारे में कुछ रोचक और महत्वपूर्ण जानकारी बताइए मैं आशा करता हूं कि आप को यह जानकारी बहुत पसंद आएगी क्योंकि सचिन तेंदुलकर दुनिया के सबसे महान खिलाड़ियों में से एक हैं उन से बड़ा क्रिकेट के इतिहास में आज तक कोई खिलाड़ी पैदा नहीं हुआ है और सचिन तेंदुलकर का नाम आजकल कोई नहीं जानता कौन नहीं जानता दुनिया का बच्चा-बच्चा सचिन तेंदुलकर का नाम जानता है और उनका सभी का सपना होता है कि वे भी एक सचिन तेंदुलकर के जैसे अच्छे और बड़े खिलाड़ी बने तो आज हमारे द्वारा बताई गई इस पोस्ट के बारे में जानकर आपको बहुत खुशी हुई होगी और यदि हमारे द्वारा बताई गई सचिन तेंदुलकर के बारे में रोचक जानकारी और रोचक तथ्य आपको आपको यह पोस्ट पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें और यदि आपको इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके हमें बताएं

2 Comments
  1. Vivek says

    Ramakant achrekar aur sachin ki kahani

  2. Yoga says

    Sachin Ramesh Tendulkar is a former cricketer and captain of the Indian team. The world famous cricketer had set many records in his career.

Leave A Reply

Your email address will not be published.