पेनकिलर लेने के साइड इफेक्ट्स

पेनकिलर लेने के साइड इफेक्ट्स

पेनकिलर यानि की दर्द दूर करने के लिए दवाइयां. बदलती जीवनशेली में पेनकिलर का इस्तेमाल बहुत ज्यादा होने लगा है. थोडा सा दर्द हो पेनकिलर ले लो लेकिन उसके साइड इफेक्ट्स के बारे में कभी सोचा है की वो आपके लिए कितना नुकसानदेह हो सकती है. आज हम इसी बात पर चर्चा करेंगे की ज्यादा मात्रा में लेने से पेनकिलर के क्या क्या साइड इफेक्ट्स है.

पेनकिलर लेने का सबसे बड़ा कारण यह है की ये तुरंत दर्द से राहत दिलाता है. और धीरे धीरे इनकी लत पड जाती है जेसे किसी को शराब पिने की आदत पद जाती है. कुछ कारण यह भी की उनको इनके साइड इफेक्ट्स के बारे में पता नही होता ज्यादातर गाँव में. तो सबसे ज्यादा जरुरी है की पेनकिलर से पहले आप उनके साइड इफेक्ट्स जान ले.

अगर आप ज्यादा मात्रा में पेनकिलर ले रहे है तो यह आपके लिए बहुत खतरनाक है. छोटी छोटी बीमारियों के लिए दवाइयों पर आश्रित ना होइए.

पेनकिलर लेने के साइड इफेक्ट्स

ᴥ  हर रोज पेनकिलर खाने से लीवर ख़राब होने का खतरा रहता है.

ᴥ  ज्यादा मात्रा में पेनकिलर लेने से सुस्ती, कब्ज, ब्लड प्रेशर कम होना और मुंख सूखना आदि समस्या भी हो सकती है.

ᴥ  पेनकिलर का ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल करने से हमारे शरीर में घबराहट, अनिंद्रा, और बेचैनी को बढ़ा देती हैं।

ᴥ  सुबह खाली पेट पेनकिलर लेने से पेट और किडनी ख़राब होने की सम्भावना जायदा रहती है.

ᴥ  ज्यादा मात्रा में पेनकिलर लेने से आप कम उम्र में भी बूढ़े लगने लगते हो.

ᴥ  कुछ पेनकिलर अस्थमा के रोग को भी बढ़ावा देती है.

पेनकिलर कब ले सकते है

  • अगर आप पेनकिलर लेना चाहते है तो खाना खाने के ३० मिनट बाद ले.
  • जितना हो सके कम से कम पेनकिलर लेने की कोशिश करे.
  • अगर दर्द बार बार हो रहा हो तो डॉक्टर से बात जरुर करे.
  • पेनकिलर दवा हमेशा पानी के साथ ही सेवन करनी चाहिए.

यह भी देखे:-

आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी होगी . अगर आपको कोई सवाल या कोई हेल्थ से रिलेटेड कोई प्रॉब्लम है तो आप हमारी साइट या हमारे फेसबुक पेज  पर कमेंट करके पूछ सकते है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

+