राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान NIOS बोर्ड क्या है

राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान NIOS बोर्ड क्या है

आज हम आपको इस पोस्ट में बहुत ही बढ़िया और बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी बताएंगे यह जानकारी हम सभी के लिए जानना बहुत ही जरूरी है. आज इस पोस्ट में हम आपको NIOS बोर्ड क्या है. यह कैसे काम करता है. और इसकी कितनी वैल्यू है और इसको कब बनाया गया था और इस का क्या मकसद होता है इन सभी सवालों का जवाब देंगे जैसा कि हम सभी जानते हैं क्योंकि यह तो उनके घर में किसी तरह की कोई दिक्कत होती है. या उनके पास पैसों की कमी होती है .या वह किसी ऐसे स्थान पर रहते हैं.

जहां पर नजदीक कोई कॉलेज या स्कूल नहीं होती है. तो ऐसे स्टूडेंट घर पर बैठकर ही तैयारी करते हैं .और बाद में एग्जाम देते हैं और ऐसा आप वैसे भी बहुत से लोगों ने किया होगा या आपने इसके बारे में जरूर सुना होगा. लेकिन यदि आपको इसके बारे में जानकारी नहीं है तो हम आपको इस पोस्ट में इन सभी चीजों के बारे में एक-एक करके अच्छे से बताएंगे तो आप हमारी इस जानकारी को पूरा और अंत तक जरूर पढ़ें.

NIOS बोर्ड क्या है

सबसे पहले हम आपको बताएंगे की एनआईओएस बोर्ड क्या है  NIOS बोर्ड का पूरा नाम नेशनल इंस्टिट्यूट ओपन स्कूल होता है NIOS बोर्ड पहली बार 1989 में बनाया गया था इस बोर्ड को बनाने का मकसद यही था कि इस बोर्ड की मदद से आप बिना किसी स्कूल या कॉलेज जाए अपनी एजुकेशन डिग्री प्राप्त कर सकते हैं.

क्योंकि बहुत से बच्चे ऐसे होते हैं जो अपने घर में किसी परेशानी के कारण या कम पैसों के कारण या अपने घर से स्कूल या कॉलेज के दूर होने के कारण पढ़ नहीं पाते थे उन बच्चों की परेशानी को ध्यान में रखते हुए इस बोर्ड का गठन किया गया था. ताकि अगर कोई स्टूडेंट किसी दूसरे बोर्ड से अपने एग्जाम नहीं दे सकता है या उसको किसी भी तरह की परेशानी है तो फिर बच्चे  NIOS बोर्ड से एग्जाम दे सकते हैं और अपनी एजुकेशन डिग्री प्राप्त कर सकते हैं और इस बोर्ड से उन बच्चों को ज्यादा फायदा मिला है जो गरीब थे जिनके पास पढ़ाई के लिए पैसे नहीं थे या उनके नजदीक स्कूल नहीं था ऐसे बच्चों को इस बोर्ड का बहुत ज्यादा फायदा मिला है.

NIOS बोर्ड से कौन पढ़ सकता है

एनआईओएस बोर्ड एक राष्ट्र मुक्त संस्था है इससे कोई भी इंसान एग्जाम दे सकता है इसके लिए किसी भी तरह की कोई रोक-टोक नहीं है  इससे आप किसी भी तरह की एजुकेशन के एग्जाम दे सकते हैं. इस बोर्ड के एग्जाम साल में दो बार होते हैं पहले अप्रैल-मई और दूसरे एग्जाम नवंबर दिसंबर में आप NIOS बोर्ड से एग्जाम दे सकते हैं और आप एजुकेशन और आप किसी भी तरह की एजुकेशन डिग्री प्राप्त कर सकते हैं इसके लिए आपको कोई रुकावट नहीं है और यह सभी के लिए एक समान होती है.

NIOS बोर्ड मान्य है या नहीं

यदि आप ओपन बोर्ड से अपनी एजुकेशन डिग्री प्राप्त करते हैं तो आपको किसी भी तरह की टेंशन लेने की जरूरत नहीं है क्योंकि बहुत से लोग ऐसा सोचते हैं कि अगर हम ओपन बोर्ड से डिग्री प्राप्त कर लेते हैं तो आगे जाकर वह डिग्री हमारी मान्य नहीं होगी. लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है यदि आप एक ओपन बोर्ड से डिग्री प्राप्त करते हैं तो आपकी डिग्री सभी जगह पर मान्य होगी लेकिन आप को एक बात का ध्यान रखना होगा आपका बोर्ड सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होना चाहिए यदि आपका बोर्ड सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है तो आपको आगे जाकर किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं होगी क्योंकि  हमारे देश में हर साल लाखों बच्चे ओपन बोर्ड से डिग्री प्राप्त करते हैं.

ओपन बोर्ड से 10वीं या 12वीं क्लास पास करने के बाद आप किसी भी तरह की टेक्स्ट या एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं. आपको किसी भी तरह की कोई दिक्कत तो नहीं होगी और इसके साथ यदि आप 10वीं या 12वीं पास कर लेते हैं तो आप किसी भी तरह का कोर्स कर सकते हैं आपकी डिग्री हर जगह पर मान्य होगी जैसे रेगुलर बोर्ड की डिग्री मान्य होती है.

NIOS बोर्ड में कौन-कौन एडमिशन ले सकते हैं

यदि कोई स्टूडेंट नौवीं कक्षा में फेल हो जाता है या 11 वीं कक्षा में फेल हो जाता है तो वह स्टूडेंट NIOS बोर्ड में दसवीं क्लास या 12 क्लास में एडमिशन ले सकता है NIOS बोर्ड दुनिया का एकमात्र ऐसा बोर्ड है जो कि दूसरे सभी बोर्ड के बराबर समान हक रखता है लेकिन हमारे देश में सभी राज्यों के अपने अलग-अलग ओपन बोर्ड होते हैं और उनके अलग-अलग नियम होते हैं.अगर आप दसवीं क्लास ओपन बोर्ड से करना चाहते हैं. तो आप अपने राज्य के ऊपर बोर्ड से फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं उसके लिए आपको किसी भी तरह की दिक्कत नहीं होगी और अपनी एजुकेशन डिग्री प्राप्त कर सकते हैं और वह डिग्री आपकी हर जगह पर मान्य होगी लेकिन आपको किसी मान्यता प्राप्त ओपन बोर्ड से ही डिग्री प्राप्त करनी होगी.

NIOS और CBSE बोर्ड कौन सा अच्छा है

यदि आप स्कूल में जाकर के पढ़ाई करना चाहते हैं तो इसके लिए आप CBSE बोर्ड को चुन सकते हैं लेकिन यदि आप घर पर रहकर पढ़ाई करना चाहते हैं या आप किसी वजह से स्कूल में जा नहीं पा रहे हैं तो आप NIOS बोर्ड को चुन सकते हैं.बहुत से बच्चे ऐसा सोचते हैं कि अगर मैं NIOS बोर्ड से पढ़ाई करूंगा तो आगे जाकर मुझे बहुत प्रॉब्लम होगी. तो हम आपको बता देते हैं कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है यह बिल्कुल गलत है क्योंकि NIOS बोर्ड सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त बोर्ड है. जिस तरह से सरकार ने CBSE बोर्ड या दूसरे रेगुलर बोर्ड को मान्यता दी है उसी तरह से सरकार ने ओपन बोर्ड को भी मान्यता दी है और हमारे देश में ऐसी कोई भी इंस्टिट्यूट या यूनिवर्सिटी या कॉलेज नहीं है. जो NIOS बोर्ड को लेने से मना कर दे यानी कि यदि आप NIOS बोर्ड से दसवीं क्लास पास कर लेते हैं तो उसके बाद आप देश के किसी भी कॉलेज स्कूल या यूनिवर्सिटी में दाखिला ले सकते हैं. और आप NIOS बोर्ड से 10वीं या 12वीं क्लास पास करके किसी भी तरह का कोर्स कर सकते हैं.

हमारे देश में बस कुछ ही गिनी-चुनी यूनिवर्सिटी है जोकि NIOS बोर्ड को एक्सेप्ट नहीं करती लेकिन यदि आप उनके अंदर दाखिला लेना चाहते हैं तो उसके लिए पहले आपको एक इंटरेस्ट एग्जाम देना होगा. उसके बाद आप उनके अंदर एडमिशन ले सकते हैं.

तो आज हमने आपको इस पोस्ट मेंnios क्या है nios क्या करता है एनआईओएस बोर्ड राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान नोएडा एनआईओएस प्रवेश 2017-18 राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान patna, bihar एनआईओएस परिणाम 2017  महत्वपूर्ण जानकारी बताइए आज हम आपको इस पोस्ट में NIOS बोर्ड क्या है, और इस में दाखिला कैसे लिया जा सकता है इस तरह की कुछ महत्वपूर्ण बातें बताइए तो यदि आपको यह जानकारी पसंद आए तो लाइक और शेयर जरूर करें और यदि आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.