IPhone Vs Android Phone दोनों के बीच अंतर

iPhone Vs Android Phone दोनों के बीच अंतर

आज यदि आप कोई स्मार्टफोन खरीदना चाहते है और मार्किट में चले जाये तो आपको बहुत बड़ी समस्या का सामना करना पड़ेगा क्योकि आज मार्किट में एक तो स्मार्टफोन की कंपनी बहुत ज्यादा है और दूसरा सभी एक से चढ़ कर एक स्मार्टफोन लॉन्च करती है तो यदि स्मार्टफोन खरीदने भी चला जाये तो बहुत सी चीजे देखनी पड़ती है तो यदि आप अच्छे बजट के फोन खरीद रहे है तो आप दो तीन अच्छी कंपनी के उसी बजट के स्मार्टफोन  के फीचर मिलाये और जो सबसे सस्ते में अच्छे फीचर दे रही उसी कंपनी का स्मार्टफोन खरीदे यदि iPhone या Android Phone दोनों में से एक खरीदना चाहते है और आप सोच रहे है की कौन सा खरीदे तो आज हम iPhone और  Android Phone के बारे में बतायेंगे आप सब कुछ अच्छे पढ़े उसके बाद सोच कर ही स्मार्टफोन खरीदे |

iPhone में Android Phone से क्या क्या खास बात है

Data Security

सबसे पहले बात करते है उस चीज की जिसके लिए iPhone की बराबरी कोई नही कर सकता है हा दोस्तों यदि आप कोई बहुत महत्वपूर्ण काम अपने स्मार्टफोन से करते है और आप चाहते है की आपका डाटा कंही नही जाये तो आप iPhone खरीदे इसकी सिक्यूरिटी ऐसी है जिसको जल्दी से कोई नही तोड़ सकता है जैसे दुसरे स्मार्टफोन को हैक कर लिया जाता है और उनका डाटा निकाल लिया जाता है लेकिन iPhone में ऐसा नही कर सकते है |

Optimization

IPhone इतनी बड़ी कंपनी है की वह अपने स्मार्टफोन में छोटी से लेकर बड़ी कोई भी कमी नही छोड़ती और बात Optimization की करे तो आपको बता दे की Apple खुद iPhone का हार्डवेयर डिज़ाइन करती है जिस से कंपनी को पता होता है की फोन में क्या क्या कोम्पोनेट्स है और क्या क्या फीचर है और जो स्मार्टफोन के अन्दर सॉफ्टवेर काम करता है वह भी कंपनी के द्वारा बनाया गया है जिस से कंपनी स्मार्टफोन की हर एक चीज हिसाब से काम कर सके और सॉफ्टवेर और हार्डवेयर एक साथ सही से काम कर सके इसलिए हर चीज एक दम सही और पेर्फक्ट तैयार की जाती है

अब आपको पता है की iPhone के बहुत कम मोडल मार्किट में है क्योकि Apple ने iPhone के बहुत कम मोडल मार्किट में लॉन्च किया है जिस से वह इन पर अच्छे से काम कर सके और बात एंड्राइड की करे तो एंड्राइड इस से बहुत अलग है आपको पता है की एंड्राइड गूगल का है गूगल ने एंड्राइड बना तो दिया लेकिन  गूगल ने एंड्राइड  iPhone के iOS की तरह किसी एक डिवाइस के लिए नही बनाया यह अलह अलग स्मार्टफोन कंपनी के कितने सारे मोडल्स है सभी के अलग अलग फीचर हैं तो एंड्राइड का हर एक मॉडल में उतना अच्छे से नही चलता है|

App Quality And Availability

iPhone स्टोर में आपको एंड्राइड जितनी अप्प नही मिलेगी लेकिन iPhone की अप्लिकेशन की क्वालिटी एंड्राइड की अप्प से क्वालिटी ज्यादा अच्छी होती हैं. और आपको बता दे की ऐसे बहुत सारी अप्प होती हैं जो एंड्राइड के मुकाबले iPhone में ज्यादा फीचर देते हैं अब बात एंड्राइड के Play store की करे तो आपको एंड्राइड के प्ले स्टोर में बहुत सारी अप्प मिल जाएगी लेकिन iPhone जितनी क्वालिटी नही मिलती है |

 Software Updates

सॉफ्टवेयर अपडेट की बात करे तो iPhone या एंड्राइड  में टाइम टाइम पे आती रहती है और दोनों कंपनी हर साल नये नये सॉफ्टवेयर लॉन्च करती रहती है लेकिन iPhone के मॉडल कम है तो यह जल्दी अपडेट देते है और अपडेट पर अच्छे फीचर देते है और एंड्राइड के मॉडल बहुत ज्यादा है तो यह अपडेट ,में टाइम लगा देते है और ज्यादा फीचर भी नही दे पाते है और जब iPhone में अपडेट आती है तो सभी फोन में एक साथ अपडेट दी जाती है वह नया हो चाहे पुराना हो सभी के अन्दर एक साथ अपडेट मिलती है लेकिन यदि बात एंड्राइड की करे तो इसके कुछ मॉडल में ही जल्दी अपडेट मिलती है और कुछ मॉडल में तो अपडेट आने में बहुत टाइम लगा देता है पता भी नही होता है की कब अपडेट आयेगी तो iPhone अपडेट के मामले में बहुत अच्छा है |

Price

iPhone की कीमतें बहुत अधिक है जबकि एंड्राइड प्लेटफार्मों के साथ स्मार्टफोन बहुत सस्ती हैं लेकिन यदि अच्छी और सबसे अलग चीज चाहिए तो पैसे लगाने पड़ेंगे

Android Phone में  iPhone से क्या क्या खास बात है

Customization

Customization के मामले में एंड्राइड बहुत अच्छा है क्योकि एंड्राइड  के अन्दर कुछ बदलाव हम अपने हिसाब से कर सकते है जैसेः की उसका look software wise बदल सकते हैं और अपने हिसाब से थीम बदल सकते है , वॉलपेपर बदल सकते हैं, Icons को एक जगह से लेकर दूसरी जगह पर रख सकते हैं, launcher बदल सकते हैं, लॉक स्क्रीन बदल सकते हैं लेकिन ये सब चीजे हम  iPhone में नही कर सकते है इनमे से कुछ चीजे कर सकते है जैसे Icons को एक जगह से लेकर दूसरी जगह पर रख सकते हैं  Icons को एक जगह से लेकर दूसरी जगह पर रख सकते हैं लेकिन iPhone को एंड्राइड   की तरह customize बिलकुल भी नहीं कर सकते.

Multi-window

इसका मतलब एक साथ दो काम करना आप एंड्राइड फोन के अन्दर एक साथ एक से ज्यादा कामकर सकते है एंड्राइड के अन्दर Multi Window का आप्शन मिलता है लेकिन बात  iPhone की करे तो ऐसा बिलकुल नही कर सकती है  iPhone के अन्दर एक साथ एक ही काम कर सकते है

 Designs

यदि आप मार्किट में कोई भी एंड्राइड फोन लेने चले जाये तो आपको बहुत से अलग अलग डिज़ाइन मिल जायेंगे आप अपनी पसंद का कोई भी डिज़ाइन ले सकते है लेकिन आप iPhone लेते है तो आपको लगभग एक जैसे डिज़ाइन मिलेंगे आप जैसा चाहते है वैसा डिज़ाइन न मिले तो यदि आपको कोई अलग सा डिज़ाइन चाहिए तो आप एंड्राइड ही खरीदे |

File Sharing

फाइल शेयरिंग की बात करे तो आपको एंड्राइड फाइल शेयरिंग का आप्शन देता है आप एंड्राइड फोन से कोई भी डाटा ले सकते है और भेज भी सकते है और यदि आप थर्ड पार्टी अप्प जैसे शेयरहिट,या ऐसी कोई भी फाइल ट्रान्सफर अप्प की हेल्प से फाइल ट्रान्सफर कर सकते है लेकिन आप ऐसा  iPhone में नही कर सकते है फोन के अन्दर एक अप्प से दुसरे अप्प के साथ भी आसानी से file share कर सकते हैं. तो जो sharing के options मिलते हैं किसी भी तरीके से वो एक एंड्राइड  फोन में बहुत बेहतर है  किसी भी  iPhone  को बराबर रखे तो |

हमने इस पोस्ट में स्मार्टफोन और हिंदी में एंड्रॉयड फोन के बीच का अंतर iphone और android के बीच का अंतर आईफोन क्या होता है स्मार्टफोन और एंड्रॉयड फोन के बीच का अंतर आईफोन क्या है आईफोन महंगा क्यों होता है कौन सा मोबाइल खरीदे iphone vs android 2018 ios vs android comparison iphone vs android 2017 android vs ios pros and cons android vs iphone market share iphone vs android meme iphone vs android argumentative essay iphone vs samsung which is better  के बारे में बताया है और यदि कुछ पूछना है तो निचे कमेंट करे|

Leave A Reply

Your email address will not be published.