जीएसटी (GST) क्या है इसके क्या क्या फायदे होंगे

जीएसटी (GST) क्या है इसके क्या क्या फायदे होंगे

अब कुछ से केंद्रीय सरकार द्वारा एक ही बात का ज्यादा जिक्र किया जा की GST बिल लेके आएंगे आपको भी पता होगा सायद यह क्या क्योकि न्यूज़ में बहुत बाते होती है इसके बारे में लेकिन यदि आपको नही पता तो आज हम आपको बताते है की आखिरकार यह होता क्या  है जीएसटी का पूरा नाम गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) है जीएसटी बिल एक ऐसा बिल है जिसके लागू होने पर वस्तुओं और सेवाओं पर एक समान टैक्स लगाया जाएगा जहां जीएसटी (GST) लागू नहीं है वह वस्तु और सेवाओं पर अलग-अलग टैक्स लगाए जाते हैं यानि कि अब जो वस्तुओं और सेवाओं पर अलग-अलग टैक्स लगता है जैसे वेट टैक्स एक्साइज और सर्विस टैक्स उन सभी की जगह एक ही टैक्स लगाया जाएगा.

अब तो क्षेत्र के हिसाब से वस्तुओं पर और सेवाओं पर टैक्स लगाया जाता है जैसे राज्य के हिसाब से पंजाब में अलग राजस्थान में अलग और दिल्ली में अलग लेकिन जीएसटी (GST) बिल पास होने पर सभी जगह पर एक ही टैक्स लगाया जाएगा सभी वस्तु और सर्विस पर और  सरकार अगर इस बिल को 2016 से लागू कर देती तो हर सामान और हर सेवा पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा और अब जीएसटी (GST) 1 जुलाई से पूरे देश में लागू किया जाना है.

जीएसटी (GST) लगने के बाद कई सेवाओं और वस्तुओं पर लगने वाले टैक्स समाप्त हो जाएंगे  क्योकि  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को वस्तु एवं सेवा कर ((GST)) विधेयक के पारित होने की उम्मीद जताई है क्योकि इस बिल के लिए लोकसभा में आठ घंटे की लंबी परिचर्चा के बाद  जीएसटी (GST) बिल को मंजूरी दी गई.

जीएसटी (GST) बिल कोई एक नही होगा इसके तीन पार्ट होंगे जैसे ;केंद्रीय जीएसटी, राज्य जीएसटी और इंटीग्रेटेड जीएसटी और इनको अलग अलग सरकारे लागू करेगी राज्य जीएसटी (GST) बिल को राज्य सरकार लागू करेगी और केंद्रीय ,इंटीग्रेटेड जीएसटी (GST) बिल को केंद्र सरकार लागू करेगी और ऐसे पुरे  देश में लागू होगा और समान रूप  से काम करेगा.

और  जीएसटी (GST) सभी तरह की सेवाओं और वस्तुओं/उत्पादों पर लागू होगा केवल शराब को छोडकर और जीएसटी (GST) भी एक  वैट जैसा ही टैक्स है, लेकिन जीएसटी (GST) लागू होने से कई और तरह के टैक्स नहीं लगेंगे और जीएसटी (GST) बिल लागू होने से अभी लगने वाले वैट  टैक्स खत्म हो जाएंगे।

आज विश्व के लगभग 160 देशों में जीएसटी (GST)  बिल लगू है और सबसे पहले सन ,1954 में जीएसटी लागू कर फ्रांस ऐसा करने वाला दुनिया का पहला देश बना और भारत में इसका विचार अटल बिहारी वाजपेयी सरकार द्वारा साल 2000 में लाया गया और ज्यादातर देशों में केंद्र और राज्यों का एक जीएसटी  सिस्टम लागू है लेकिन भारत में अलग अलग है.

जिन वस्तुओं पर 0% जीएसटी लागु है.

  • खुला खाद आनाज
  • ताजा सब्जिया
  • बिना मार्का आटा
  • बिना मार्का मैदा
  • गुड़
  • दूध
  • बिना मार्का बेशन
  • अन्डे
  • दही
  • खुला पनीर
  • लस्सी
  • बिना मार्का का प्राक्रतिक शहद
  • खुजर का गुड़
  • नमक
  • काजल
  • फूल भरी झाड़ू
  • बच्चों की ड्राइंग और रंग की किताबें
  • शिक्षा सेवाएं
  • स्वास्थ्य सेवाएं

जिन वस्तुओं पर 5% जीएसटी लागु है.

  • चीनी
  • चायपत्ती
  • कॉफी के भुने दाने
  • खाद्य तेल
  • स्किम्ड दूध पाउडर
  • शिशुओं के लिए दूध का आहार
  • पैक्ड पनीर
  • काजू
  • किशमिश
  • पीडीअस  केरोसिन
  • घरेलू एलपीजी
  • जूते चप्पल(500 तक )
  • कपड़े (1000 तक )
  • अगरबत्ती
  • कॉयर मैट

जिन वस्तुओं पर 12% जीएसटी लागु है.

  • मक्खन
  • घी
  • बादाम
  • फ्रूट जूस
  • पैक नारियल पानी
  • सब्जी फल नट्स एवं पौधों निर्मित खाद्य पदार्थ जिसमें अचार, मुरब्बा, चटनी, जैम और जेली शामिल है
  • छाता
  • मोबाइल

जिन वस्तुओं पर  18% जीएसटी लागु है.

  • केश तेल
  • टूथपेस्ट
  • साबुन
  • पास्ता
  • कॉर्न फ्लेक्स
  • सूप
  • आइसक्रीम
  • कंप्यूटर
  • प्रिंटर

 GST बिल लागू  होने से क्या क्या फायदे होंगे

1 . सभी राज्यों में सामान का एक दाम और एक टैक्स

जीएसटी (GST) बिल लागू  होने से पूरे देश में किसी भी सामान को खरीदने के लिए एक ही टैक्स चुकाना होगा यानी पूरे देश में किसी भी सामान की कीमत एक ही रहेगी यानि की पहले जैसे अलग अलग जगह अलग अलग कीमत होती थी टैक्स के  कारण (GST) बिल लागू  होने से वो नही होगा और इस से सबसे बड़ा फायदा आम आदमी को होगा क्योंकि आम आदमी को किसी भी सामान को खरीदने के लिए अलग-अलग टैक्स का भुगतान नहीं करना पड़ेगा सभी वस्तुओं और सर्विस पर एक ही टैक्स लगेगा

2 .  सरकार को फायदे होंगे

जीएसटी(GST) बिल लागू होने से टैक्स स्ट्रक्चर आसान होगा  और  आसानी से टैक्स भुगतान होगा और इसके दायरे से बहुत सामान और सेवाएं आयेंगी लगभग सभी और एक अनुमान के मुताबिक जीएसटी(GST) बिल लागू होने से  एक्सपोर्ट, रोजगार और आर्थिक विकास में जो बढ़ोतरी होगी, उससे देश को सालाना अरबों रुपये की आमदनी होगी |

3 .GST बिल लागू होने से बिजनेस आसान होगा

जीएसटी लागू होना चाहिए लागू होने से कंपनी और व्यापारियों को बहुत ज्यादा फायदा होगा और बिजनेस करना बिल्कुल आसान हो जाएगा क्योंकि कंपनियों को समान एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में कोई दिक्कत नही होगी और गुड्स और सविर्सेज के दाम कम होने से उनकी खपत बढ़ेगी इससे कंपनियों का प्रॉफिट बढ़ेगा और  कंपनियों पर टैक्स का औसत बोझ कम होगा और कंपनियों को बहुत सी चीजों पर टैक्स नहीं देने पड़ेंगे |

4 . GST बिल लागू होने से  टैक्स वसूली में विवाद कम होंगे

GST बिल लागू होने से  तो कई बार टैक्स देने से छुटकारा मिल जाएगा इससे कर की वसूली करते समय कर विभाग के अधिकारियों द्वारा कर में हेराफेरी की संभावना भी कम हो जाएगी और जीएसटी लागू होने से बहुत से टैक्स कम हो जाएगी उनके जगह एक टैक्स वसूल किया जाएगा और टैक्स वसूली डिपार्टमेंट को टैक्स वसूल करने में आसानी होगी और कोई विवादपूर्ण झगड़े नहीं होंगे |

5 .  सामान की कीमत कम होगी

GST बिल लागू होने से वस्तुओं और सर्विसेज की  प्रोडक्शन कॉस्ट में कमी हो जाएगी जिससे की समान की कीमतों में गिरावट आएगी और आम आदमी को कम दाम पर बढ़िया  वस्तुएं और सेवाएं मिलेगी

6 . ग्रोथ रेट में भी बढ़ोतरी होगी

कहां जा रहा है जीएसटी बिल लागू होने से देश की ग्रोथ रेट में  एक से डेढ़ फीसदी बढ़ोतरी होगी

जीएसटी (GST) बिल लागू  होने से क्या क्या नुकसान  होंगे

जीएसटी (GST) लागू होने पर आईटी कंपनियों को भी नुकसान होगा. जीएसटी के बाद वर्कफोर्स से लेकर प्रोडक्शन की लागत तक सब बढ़ जाएगा फिर कंपनियों को वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी करनी पड़ेगी और बिक्री कम हो जाएगी |

आज वर्तमान में आप सेवाओं पर 14.5 प्रतिशत टैक्स देते हैंजीएसटी (GST) लागू होने प यह 18 प्रतिशत हो जाएगा यानी  इस तरह से देखा जाए तो होटल खाना, हवाई टिकट, बीमा प्रीमियम आदि कई सेवाएं महंगी हो जाएंगी.आपको अधिक भुगतान करना पड़ेगा

जीएसटी (GST) के लागू होने से लोन प्रोसेसिंग फीस, डेबिट / क्रेडिट कार्ड फीस, इंश्योरेंस प्रीमियम आदि जैसे वित्तीय सेवाओं की लागत में बढ़त होगी क्योकि अब  बैंकिंग और फाइनेंशियल  टैक्स दर 14% है  और यह सिर्फ  ट्रांजैक्शन पर लगती है उसके इंट्रेस्ट पर नहीं लगती है और जीएसटी (GST) के लागू होने से  18-20% तक बढ़ने की संभावना है |

और तंबाकू  सिगरेट के दाम बढ़ेंगे क्योकि पर मौजूदा एक्साइज ड्यूटी के मुकाबले जीएसटी की दर ज्यादा होगी और मोबाइल फोन  बिल  होंगे   और  टेक्सटाइल और ब्रैंडेड जूलरी भी महंगी क्योकि 14% सर्विस टैक्स जीएसटी के बाद बढ़ जाएगा

GST बिल लागू होने से क्या क्या चीजे होंगी महंगी

  • जीएसटी (GST) लागू होने पर  ज्वैलरी और रेडीमेड गारमेंट खरीदना महंगा हो जाएगा और जो ज्वैलरी पर अभी 3 फीसदी ड्यूटी लगती है, वो जीएसटी के बाद 18 फीसदी हो जाएगा।
  • जीएसटी (GST) लागू होने पर डिब्बाबंद फूड प्रोडक्ट 12 फीसदी तक महंगे होंगे और जो चाय-कॉफी जैसे  प्रोडक्ट्स पर अभी ड्यूटी नहीं लगती लेकिन जीएसटी के बाद इनके और महंगा होने की संभावना है
  • जीएसटी (GST) लागू होने पर मोबाइल बिल, क्रेडिट कार्ड का बिल या फिर ऐसी अन्य सेवाएं जीएसटी के बाद महंगी हो जाएंगी अभी सर्विसेस पर 15 फीसदी टैक्स  लेकिन जीएसटी (GST) लागू होने पर ये 18 फीसदी हो सकता है
  • सरकार ने जीएसटी (GST) से तम्बाकू प्रॉडक्ट्स को बाहर रखा गया हैऔर इसका मतलब यह है कि सरकार जब चाहे तब इनके ऊपर लगने वाले टैक्स को कभी भी बढ़ा सकती है इससे सरकार के पास बीड़ी, सिगरेट, गुटखा, खैनी और अन्य टॉबैको प्रॉडक्ट्स के प्राइस को बढ़ाने का अधिकार रहेगा, जिससे यह सभी प्रॉडक्ट्स और महंगे हो जाएंगे |
  • जीएसटी (GST) लागू होने पर होटल  में जाकर के खाना-पीना जीएसटी के बाद महंगा हो जाएगा, क्योंकि अभी वैट (हर राज्यों के अलग-अलग) और 6 फीसदी सर्विस टैक्स लगता है लेकिन  जीएसटीलागू होने पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा, जो कि सर्विस टैक्स और वैट के मुकाबले ज्यादा हो जाएगा। इससे खाने के बिल में बढ़ोतरी होने का अनुमान है

GST बिल लागू होने से क्या क्या चीजे होंगी सस्ती

  • जीएसटी (GST) लागू होने पर मल्टीप्लेक्स में जाकर के मूवी देखना सस्ता हो जाएगा क्योकि जीएसटी के लागू होने के बाद जो अब  30 फीसदी तक एंटरटेनमेंट टैक्स  लगता है जीएसटी के बाद 18 फीसदी रह जाएगा  ऐसे में एंटरटेनमेंट टैक्स में 12 फीसदी तक की बचत  होगी |
  • जीएसटी (GST) लागू होने पर  घर खरीदने  सस्ते हो जायेगे क्योकि  घर खरीदने पर फिलहाल वैट और सर्विस टैक्स दोनों लगता है। इसका रेट हर राज्य में अलग-अलग है। नेशनल लेवल पर इसका ऐवरेज निकाला जाए तो यह 22-23 फीसदी तक जीएसटी के लागू होने के बाद ये रेट 18 फीसदी हो जायेगा जिस से घर खरीदने  सस्ते हो जायेगे |
  • जीएसटी (GST) लागू होने पर एयरकंडीशनर, माइक्रोवेव ओवन, फ्रिज, वॉशिंग मशीन सस्ती  जायेंगे क्योकि जो अभी 12.5 फीसदी एक्साइज और 1 4.5 फीसदी वैट लगता है। जीएसटी के बाद केवल 18 फीसदी  टैक्स लगेगा और एक्साइज ड्यूटी और वैट नही लगेगा जिस से इनकी कीमत कम हो जाएगी |

कुछ चीजो को जीएसटी (GST) से बहार रखा गया है तो उनका अभी तक कोई पता नही है सस्ती होगी या महंगी और इस से यह पता चलता है की कुछ फायदा होगा और कुछ नुकसान भी होगा लेकिन कहा जा रहा है की इसका फायदा ज्यादा होगा |

1 Comment
  1. ritik says

    IIT kya h

Leave A Reply

Your email address will not be published.