कंप्यूटर की पूरी जानकारी कंप्यूटर क्या है कैसे काम करता है

कंप्यूटर की पूरी जानकारी कंप्यूटर क्या है कैसे काम करता है

कंप्यूटर आज हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन गया है आज हर जगह आपको कंप्यूटर देखने को मिलता है. कंप्यूटर का इतना ज्यादा इस्तेमाल होने के कई कारण है कंप्यूटर द्वारा आप कोई भी कार्य है बहुत ही जल्दी कर सकते हैं. इसीलिए आज कंप्यूटर का इस्तेमाल इतना ज्यादा हो गया है. इसीलिए आज कंप्यूटर में शिक्षा क्षेत्र, बैंकिंग क्षेत्र, व्यापार में, हॉस्पिटल, इत्यादि में देखने को मिलता है. लेकिन हर किसी को नहीं पता होता कि आखिर कंप्यूटर क्या है और कैसे काम करता है और इसके कौन कौन से हिस्से हैं जिनका इस्तेमाल काम करने के लिए किया जाता है.

इससे पहले हमने आपको एक पोस्ट में बताया था कि कंप्यूटर की कौन-कौन सी इनपुट और आउटपुट डिवाइस होती है जिसकी मदद से हम कंप्यूटर में कोई भी डाटा भेज सकते हैं या वापस ले सकते हैं तो अगर आप भी जानना चाहते हैं कि इसकी कौन-कौन सी इनपुट और आउटपुट डिवाइस है और वह कैसे काम करती है तो हमारी यह पोस्ट जरूर देखें.

कंप्यूटर क्या है

कंप्यूटर को सिर्फ एक लाइन में बताया जाए तो यह एक ऑटोमेटिक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो कि किसी भी कार्य को बहुत ही जल्दी और कम समय में कर सकती है. कंप्यूटर का इस्तेमाल शुरू में सिर्फ गणना करने के लिए बनाया गया था लेकिन इसमें जैसे-जैसे बदलाव किए गए इसमें अलग-अलग डिवाइस को जोड़ा गया तो इसका काम और भी बेहतर और और भी ज्यादा बड़ा बन गया. कंप्यूटर को हिंदी में संगणक कहते हैं.

एक पूरे कंप्यूटर को चलाने के लिए दो चीजों की आवश्यकता होती है. Hardware और Software लेकिन बहुत से लोगों को नहीं पता कि आखिर इन दोनों में क्या अंतर है. इन दोनों में बहुत ज्यादा अंतर है यह दोनों एक दूसरे के ऊपर निर्भर होते हैं अगर कंप्यूटर का हार्डवेयर खराब हो जाए तो सॉफ्टवेयर किसी काम का नहीं होता और अगर सॉफ्टवेयर खराब हो जाए तो हार्डवेयर किसी काम का नहीं होता.

कंप्यूटर हार्डवेयर क्या है

Computer के भौतिक भागों को हार्डवेयर कहा जाता है. यह भौतिक भाग इलेक्ट्रॉनिक, इलेक्ट्रिकल, मैग्नेटिक, मैकेनिकल अथवा ऑप्टिकल कुछ भी हो सकते हैं ऐसे कुछ भाग हैं माइक्रोप्रोसेसर, इंटीग्रेटेड सर्किट, हार्ड डिस्क, ऑप्टिकल डिस्क, कलर मॉनिटर, Keyboard ,प्रिंटर एवं प्लॉटर आदि. अगर आसान भाषा में कहीं तो कंप्यूटर का हार्डवेयर उस डिवाइस को कहा जाएगा जिसे हम देख सकते हैं छू सकते हैं जैसे कि कीबोर्ड , माउस , डिस्प्ले , प्रिंटर , स्कैनर ,CPU इत्यादि तो इन सभी डिवाइस को हम छू सकते हैं और देख सकते हैं. और यही डिवाइस हार्डवेयर में इनपुट और आउटपुट का काम करते हैं.

जैसे कि अगर आपको कंप्यूटर में कोई फोटो डालनी है तो इसके लिए आप webcam का इस्तेमाल करेंगे या डाटा केबल के द्वारा अपने कैमरा या मोबाइल से कंप्यूटर में डालेंगे तो यहां पर वेबकैम एक इनपुट डिवाइस का काम करता है.

कंप्यूटर की Input Output डिवाइस कौन सी है

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर क्या होता है

इनपुट डिवाइस द्वारा डाटा एवं निर्देशों को Computer में एंटर किया जाता है. आमतौर पर इस्तेमाल होने वाली इनपुट डिवाइस Keyboard है. कुछ अन्य इनपुट डिवाइसिस भी विकसित की गई है. जिनमें टाइपिंग की आवश्यकता नहीं होती है. ये है: माउस, जोस्टिक, ट्रैकबॉल, लाइट पेन, ग्राफिक टैबलेट, टच स्क्रीन आदि है. अगर आसान भाषा में कहीं तो कंप्यूटर सॉफ्टवेयर पर हम काम करते हैं जैसे कि Google Chrome ,Audio Player , Video Player , Game इत्यादि सभी कंप्यूटर सॉफ्टवेयर होते हैं जिन्हें हम सिर्फ चला सकते हैं लेकिन छू नहीं सकते इसी प्रकार कंप्यूटर का ऑपरेटिंग सिस्टम विंडो भी एक प्रकार का सॉफ्टवेयर ही है.

RAM और ROM क्या है इनकी जरूरत क्यों होती है

इसके अलावा कंप्यूटर में और भी काफी चीजों का इस्तेमाल किया जाता है जिनके बारे में आपको सुनने को मिला होगा लेकिन इनके बारे में आपको शायद नहीं पता होगा जैसे कि

RAM और ROM . RAM और ROM के बारे में हमने पहले भी आपको बताया है जिसमें आप इनके बारे में पूरी जानकारी और इनमे क्या अंतर है के बारे में जान सकते हैं. यहां पर भी हम आपको इनके बारे में कुछ बेसिक जानकारी बता देते हैं.

 

RAM क्या होती है

RAM का पूरा नाम Random Access Memory है। यह किसी भी कंप्यूटर या डिवाइस के लिए सबसे जरूरी हिस्सा होता है। RAM का इस्तेमाल Data Store करने के लिए किया जाता है लेकिन यह तभी तक Store रहता है जब तक पावर ऑन रखते हैं। जब पावर ऑफ हो जाती है तो इसमें स्टोर डाटा खत्म हो जाता है।

ROM क्या होती है

ROM भी RAM की तरह बहुत ही जरूरी हिस्सा है। ROM कंप्यूटर सिस्टम का प्राइमरी स्टोरेज डिवाइस है। यह CHIP के आकार की होती है जो भी कंप्यूटर के मदरबोर्ड से जुड़ी हुई होती है। जैसा कि नाम से ही पता लगता है यह कंप्यूटर के डाटा को सेट करने के लिए काम में ली जाती है। इस में आप कुछ लिख नहीं सकते हैं या कोई डाटा स्टोर नहीं कर सकते हैं। कम्प्युटर के शुरू होने के बाद डाटा को Regenerate करती है। यह RAM मेमोरी की तरह अपना डाटा कंप्यूटर बंद होने के बाद नहीं खत्म करती है। है और इसमें पूरा Data इंफॉर्मेशन स्टोर रहता है।

इस पोस्ट में आपको कंप्यूटर की जानकारी चाहिए कंप्यूटर की बेसिक जानकारी कंप्यूटर की जानकारी हिंदी में pdf कंप्यूटर की जानकारी इंग्लिश में कंप्यूटर के बारे में जानकारी हिंदी में कंप्यूटर की सामान्य जानकारी कम्प्यूटर कोर्स कंप्यूटर के बारे में हिंदी मेंसे संबंधित जानकारी दी गई है अगर आपको यह जानकारी फायदेमंद लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और अगर इसके बारे में आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके जरूर बताएं .

8 Comments
  1. alfajkhan says

    banthihwa chauraha

  2. computerwali says

    Acchi Jankari Hai I Impress your blog Thank You For Sharing

  3. Avtar Singh says

    bahut achca janakri hai thanks this topic

  4. DEEpal kumar says

    Sir.
    Mujhe grib bacho ko computer aa deni
    Centre ke liye konsa best computer hoga

    1. hindigyanbook says

      Ye aap Computer Banane wale se ya CPU assemble wale se Puche .

  5. Upmanyu Yaduwanshi says

    Nice Information about computer

  6. Upmanyu Yaduwanshi says

    Sir AP ek information de sakte hai Binary me computer samjhta hai to phir inhone kis tarah se software or Anya chize develop ki yadi binary samjhta hai to phir binary q nhi dikhta. sir Please reply

  7. SHEKHAR says

    Bohot hi achhhi jaankaari hai padh ke achha laga

Leave A Reply

Your email address will not be published.