कंप्यूटर Firewall क्या होता है इसके क्या फायदे है

कंप्यूटर Firewall क्या होता है इसके क्या फायदे है

Firewall हमारे कंप्यूटर की सुरक्षा के लिए होती है जो हमारे कंप्यूटर में वायरस को आने से या हमारे कंप्यूटर से वायरस जाने से रोकती है . अगर हम इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे है तो कई वेबसाइट हमारे कंप्यूटर में वायरस डालने की कोसिस करती है , जिस हमारी कंप्यूटर की Firewall रोक लेती है और हमारे कंप्यूटर को सुरक्षित रखती है . Firewall एक किस्म का Antivirus ही होता है .जो हमारी विंडो में Installed होता है.

define firewall in hindi?  types of firewall in hindi? अगर आप अपने कंप्यूटर में एक बढ़िया कंपनी का एंटीवायरस इंस्टॉल करते हैं तो आप अपने कंप्यूटर को ज्यादा सुरक्षित बना सकते हैं वैसे तो आप free का एंटीवायरस भी इंस्टॉल कर सकते हैं लेकिन फ्री के एंटीवायरस में आपको वह सभी सुरक्षा के फीचर नहीं मिलेंगे जो आपके कंप्यूटर को चाहिए होते हैं तो कुछ पैसे लगाकर और एक बढ़िया प्रीमियम कंपनी का अच्छा एंटीवायरस अपने कंप्यूटर में इंस्टॉल कर लीजिए.नीचे आपको एंटीवायरस के या Firewall के क्या-क्या फायदे हैं यह आपको बताया गया है.

 Firewall के क्या क्या फायदे है

जैसा की मैंने बताया Firewall एक एंटीवायरस होता है जो आपके कंप्यूटर को सुरक्षित रखता है , लेकिन ये जरूर नहीं कि ये सिर्फ आपके कंप्यूटर को इंटरनेट से सुरक्षित रखेगा.

  1. अगर आपका कंप्यूटर किसी दूसरे कंप्यूटर से नेटवर्किंग के द्वारा जुड़ा हुआ है और एप्प फाइल शेयर कर रहे है तो उस टाइम भी Firewall आपके कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर से आने वाले वायरस से बचाएगा
  2. Firewall सिर्फ आपके कंप्यूटर को दूसरे से नहीं बचता बल्कि अगर आपके कंप्यूटर में वायरस है तो वो उसे भी दुसरे कंप्यूटर में जाने से रोकता है .
  3. अगर आप अपने कंप्यूटर को सुक्षित रखना चाहते है तो उसमें बढ़िया एंटीवायरस इंस्टाल करके रखे
  4. कंपनी का एंटीवायरस इनस्टॉल करके रखे अगर आप इंटरनेट ज्यादा इस्तेमाल करते है तो कोशिस करे ही प्रीमियम एंटीवायरस का इस्तेमाल करे जो आपको ज्यादा fearure देता है और आपके कंप्यूटर को safe रखता है

Firewall कितने प्रकार के होते है – Types of Firewall in Hindi?

सामान्यतः दो प्रकार के होते हैं हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर. लेकिन इसके अलावा कुछ और स्टैंडर्ड में भी Firewall के प्रकार बताए जाते हैं जैसे की Packet filters, Stateful inspection, Proxys. लेकिन यहां पर हम सिर्फ 3 बड़े Firewall के बारे में ही बात करेंगे. जिसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है.

Hardware Firewall

आजकल इंटरनेट router में पहले से ही लगे हुए आते है जिस से आपके इन्टरनेट से आने वाले वायरस से सुरक्षा और भी बढ़ जाती है. बड़ी बड़ी कंपनियों में सभी कंप्यूटर एक ही नेटवर्क से जुड़े होते हैं तो इस तरह अगर किसी एक कंप्यूटर में वायरस आ जाता है तो वह उन सभी कंप्यूटर में आ जाएगा जो उस नेटवर्क के साथ में जुड़ गया है तो इसी वायरस से बचने के लिए उस नेटवर्क के मॉडल के ऊपर ही एक फ़ायरवॉल लगा दिया जाता है जिससे कि उस नेटवर्क पर ही किसी तरह के वायरस का असर नहीं होता है और उस नेटवर्क को ज्यादा सुरक्षित बनाया जाता है .

Sofware Firewall

हम एंटीवायरस को कहते है जो हमारे कंप्यूटर में पहले से इनस्टॉल होता है या हम उसे खरीद कर भी इनस्टॉल कर सकते है . एक साधारण फायरवाल हमारे विंडो के साथ में पहले ही आता है लेकिन हमारी विंडो को और ज्यादा सुरक्षित करने के लिए और इंटरनेट से भी वायरस ना आ जाए इसलिए हमें दूसरे सॉफ्टवेयर का भी इस्तेमाल करना पड़ता है इंटरनेट पर आपको ऐसे बहुत सारे सॉफ्टवेयर फ्री में मिल जाएंगे जोकि आपके कंप्यूटर को वायरस आने से ही बचाएंगे जैसे कि  : –  Avast, McAfee,
Norton, QuickHeal इत्यादि .

Proxy firewall in hindi

प्रॉक्सी Firewall दूसरी Firewall के मुकाबले बहुत ज्यादा सुरक्षित होती है .लेकिन स्पीड और काम करने के मामले में यह फायरवाल थोड़ा सा धीरे काम करता है. और यह सभी नेटवर्क प्रोटोकॉल के साथ में compatible भी नहीं होता है. प्रोटोकॉल को फायरवाल से पास होने के लिए हर एक प्रोटोकॉल और नेटवर्क के लिए एक नया proxy agent बनाना पड़ता है. Internal protected network की टोपोलॉजी को प्रॉक्सी फायरवाल की मदद से छुपा लिया जाता है.क्योंकि proxy services दुनिया के बाहरी IP एड्रेस को कंप्यूटर से सीधा कम्युनिकेट नहीं कर सकते. जिससे हमारा कंप्यूटर एक्सटर्नल नेटवर्क से आने वाले डाटा से प्रभावित नहीं होता और ज्यादा सुरक्षित रहता है.

Firewall क्यों जरुरी है

फ़ायरवॉल एक सुरक्षा कवच की तरह काम करता है जैसे की हमारे घरों में दीवार होती है उसी तरह हमारे कंप्यूटर में फायरवाल या एंटीवायरस एक दीवार का काम करता है. अगर हमारे घर के चारों तरफ आग लग जाती है तो दीवारों के कारण वह आग हमारे घर के अंदर नहीं आ सकती. इसी तरह अगर हमारे कंप्यूटर में बाहर से कोई हानिकारक फाइल या वायरस आने की कोशिश करें तो फायर या एंटीवायरस उसे रोक लेता है. तो इसका सीधा सा मतलब है कि हमारे कंप्यूटर को ज्यादा सुरक्षित रखने के लिए हमें फ़ायरवॉल या एंटीवायरस की जरूरत पड़ती है.

तो इस पोस्ट में आपको  define firewall in hindi ,  types of firewall in hindi,  what is firewall pdf in hindi, firewall security in hindi, type of firewall in hindi, proxy firewall in hindi मैं बताया गया है इसके अलावा अगर आपका कोई भी सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट करके जरुर पूछे.

1 Comment
  1. Chandra Pariyar says

    Simple what is firewall and how it works?

Leave A Reply

Your email address will not be published.