भारत में सबसे पहला कंप्यूटर कौन लाया

भारत में सबसे पहला कंप्यूटर कौन लाया

कंप्यूटर का अविष्कार तो बहुत पहले हुआ आज से बहुत समय पहले कंप्यूटर चल पड़े थे लेकिन कुछ ही देशो में इनका प्रचलन था जो टेक्नोलॉजी  में आगे थे लेकिन कुछ देश तो ऐसे थे जिनको कंप्यूटर के बारे में पता भी नही था लेकिन इसकी बढती जरुरतो को देख के यह धीरे धीरे यह पुरे विश्व में इस्तेमाल होने लगा लेकिन इसको कुछ ही देश ही बनाते थे वहा से इसको लाया जाता था |लेकिन पिछले कुछ समय से कंप्यूटर हमारी रोजमर्रा की जिंदगी का एक हिस्सा बनके रह गया है इस लिए आज लगभग सभी देशो में इसका बहुत ज्यादा इस्तेमाल होने लगा है

और आज सायद ही कोई देश बचा है जहा कंप्यूटर का कम इस्तेमाल किया वरना तो इनका इस्तेमाल आज कोई समान खरीदने से लेकर डाटा स्टोरेज तक होता है. आप इसमें अपना किसी टाइप का भी डाटा स्टोर कर सकते है. इन्टरनेट से अलग अलग जानकारी हासिल कर सकते है. बड़ी बड़ी प्रॉब्लम मिनट में हल कर सकता है और कंप्यूटर का इस्तेमाल लगभग हर जगह होने लेगा है क्योंकि आज लोगों के पास समय की कमी है और थोड़े समय में ज्यादा काम करने की कोशिश करते हैं इसलिए कंप्यूटर का इस्तेमाल दिनभर बढ़ता ही जा रहा है.

कंप्यूटर स्कैनर अविष्कार किसने किया 

भारत में सबसे पहला कंप्यूटर कौन लाया

भारत में सबसे पहले कंप्यूटर सन , 1952 में Dr.Dwijish Dutta द्वारा कोलकाता में भारतीय विज्ञान संस्थान के अन्दर लाया गया था जो एक एनालोंग कंप्यूटर था और | उसके बाद बेंगलूर में भारतीय विज्ञान संस्थान में एक एनालोग कंप्यूटर लगाया गया था

लेकिन भारत में वास्तव में कंप्यूटर युग की शुरुआत तो हुई सन 1956 में,हुई  जब कोलकाता भारतीय विज्ञान संस्थान के अन्दर डिजिटल कंप्यूटर HEC – 2M लगाया था यह  भारत का पहला इलेक्ट्रोनिक कंप्यूटर था इस इस कंप्यूटर का आने के बाद भारत जापान के बाद एशिया का दूसरा ऐसा देश बन गया था जिसने कंप्यूटर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया  था

फिर सन 1958 में “URL” नामक का एक  कंप्यूटर भारतीय सांख्यिकी संस्थान कोलकाता में लगाया गया जो आकार में HEC – 2 M से भी बड़ा था इस कंप्यूटर को रूस से खरीदा गया था और सन, 1964 में इन दोनों कंप्यूटर का इस्तेमाल बंद कर दिया

क्योकि उस समय  IBM ने अपना  पहला कंप्यूटर IBM 1401 भारतीय सांख्यिकी संस्थान कोलकाता में लगाया |जो IBM 1400 सीरीज का पहला कंप्यूटर था जो एक डाटा प्रोसेसिंग सिस्टम कंप्यूटर था  जिसे  IBM  ने  सन, 1959 में बनाया था

अभी तक जितने भी कंप्यूटर बने थे सभी दूसरे देशों से खरीदा गया था भारत में एक भी नही बना था लेकिन सन ,1966  में  भारत की दो संस्थाओं भारतीय सांख्यिकी संस्थान तथा जादवपुर यूनिवर्सिटी द्वारा मिलकर भारत के अन्दर पहला कंप्यूटर बनाया इसका नाम ISIJU रखा गया और HEC – 2M तथा ISIJU में एक अंतर था URAL HEC – 2M तथा URAL दोनों ही वैक्यूम ट्यूब युक्त कंप्यूटर थे जबकि ISIJU एक ट्रांजिस्टर युक्त कंप्यूटर था

और इसके बाद तो भारत में ही कंप्यूटर बने लेगे और भारत का पहला सुपर कंप्यूटर ‘Ultimate 8000”  था जिसे भारत में बनाया गया था और आज तो बहुत लेटेस्ट कंप्यूटर भारत के अन्दर बनाये जाते है बहुत सी  अच्छी अच्छी कंपनी भारत के अन्दर कंप्यूटर बनती है

Computer का आविष्कार किसने किया

Computer के बारे में रोचक जानकारी

1.  दैनिक प्रयोग (Daily Use) में आने वाला कॉम्प्यूटर माउस (Computer Mouse) सबसे पहले लकडी (Wood) का बनाया गया था।
2. प्रतिमाह लगभग 5000 कॉम्प्यूटर वायरस (Virus) बनाये जाते हैं।
3. अब तक लगभग 17 अरब डिवाइस (Devices) में इन्‍टरनेट (Internet) प्रयोग किया चुका है।
4. विश्‍व की पहली हार्डडिस्‍क (Hard Disk) में केवल 5 MB डाटा स्‍टोर किया जा सकता था।
5. कम्‍प्‍यूटर स्‍क्रीन (Computer Screen) में दिखने वाले सभी द्रश्य (Visual) केवल तीन रंगों (लाल, हरा, नीला) से मिलकर बने होते हैं।
6. दुनिया के पहले (The world’s first) कॉम्प्यूटर मॉनिटर (Computer Monitor) का प्रयोग सर्वप्रथम 1980 में किया गया था।
7. दुनिया का पहले कॉम्प्यूटर कीबोर्ड (Keyboard) का अविष्‍कार (Invention) 1968 में किया गया था।
8. CD, DVD और Pen Drive से पहले बाहरी डाटा आदान प्रदान करने हेतु फ़्लॉपी डिस्क (floppy disk) का प्रयोग किया जाता था।
9.  प्रथम फ़्लॉपी डिस्क (floppy disk) का अविष्‍कार (Invention) 1970 में हुआ था, जिसकी स्‍टोरज क्षमता (Store Capacity) केवल 75.79 KB थी।
10. दुनिया में सर्वाधिक प्रयोग किया जाना वाला USB हार्डवेयर पेन ड्राइव वर्ष 1999 में अस्तित्‍व में आया था। लेकिन बाजार में इसे वर्ष 2000 में उतारा गया था, उस समय इसकी स्‍टोरेज क्षमता केवल 8 MB थी।
11 . आप अपने कंप्यूटर पर कोई फाइल बनाकर उसे ” con ” नाम से सेव नहीं कर सकते क्योंकि ये कीवर्ड कंप्यूटर में संरक्षित होता है।
12 . सबसे पहले बनायी गयी Ram (रैंडम एक्सेस मेमोरी) की स्टोर करने की क्षमता केवल 46 kb ही थी।
13 . इंटरनेट पर उपलब्ध सारी जानकारी का 80% इंग्लिश भाषा में है।
14 . जब CD , DVD और pen drive नहीं था तब डेटा को एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में भेजने के लिए फ्लॉपी डिस्क का इस्तेमाल किया जाता था।
15 . एक बार 15 साल के बच्चे ने सबसे बड़ी स्पेस संस्था NASA की वेबसाइट को हैक कर लिया था जिसके कारण 21 दिन तक NASA का काम बंद हो गया था।
16 . 1956 में IBM ने एक हार्ड डिस्क बनाई जिसका नाम 305 RAMAC था। इसका वजन तो टन में था मगर ये केवल 5Mb तक ही डेटा स्टोर कर सकता था।
17 . कम्प्यूटर बहुत fast होता है ये करीबन 38 हजार ट्रिलियन ऑपरेशन (गणना) एक सेकंड में कर सकता है।
18 . हम जो कीबोर्ड इस्तेमाल करते है वो QWERTY कीबोर्ड होता है इसका नाम इसलिए ऐसा है क्योंकि कीबोर्ड की पहली पंक्ति के शुरू के 6 अल्फाबेट QWERTY होता है।
19. DOS (डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम) कंप्यूटर के हार्डवेयर को सॉफ्टवेयर से इंटरफ़ेस करने में सहायता करता है।
20 . आज के युग के फ्रेम डिजीटल कम्प्यूटर की क्षमता 10-20 MIPS है।

 यह भी देखे 

इस पोस्ट में आपको सबसे पहला कंप्यूटर का नाम क्या था विश्व का प्रथम कंप्यूटर भारत का पहला सुपर कंप्यूटर का नाम क्या था दुनिया का पहला कंप्यूटर भारत में कंप्यूटर कब आया सबसे पहले कंप्यूटर का नाम क्या था भारत के प्रथम सुपर कंप्यूटर का नाम भारत का पहला कंप्यूटर का नाम के बारे में बताया गया है अगर इसके अलावा आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके जरूर पूछें. और इस पोस्ट को शेयर जरूर करें ताकि दूसरे भी इस जानकारी को जान सकें.

3 Comments
  1. Ashok says

    सर मेरा आधार कार्ड से जो मोबाइल नम्बर लिंक था वो मैंने बहुत पहले उपयोग करना बंद कर दिया था और मुझे मोबाइल नम्बर याद भी नहीं है अब मुझे आधार कार्ड अपडेट करना था तो क्या करना होगा मेरी मदद कीजिए धन्यवाद

    1. Neeru sharma says

      Aap paas ke atal seva kendra apne aadhar card ko le jakar apna mobile number change karwa skte hai.

  2. Manoj Kumar yadav says

    Bharat me pahla computer kis country se laya gaya tha

Leave A Reply

Your email address will not be published.