32 Bit और 64 Bit Processor क्या है

32 Bit और 64 Bit Processor क्या है

कंप्यूटर और मोबाइल में दोनों में प्रोसेसर का इस्तेमाल होता है। तो आज हम आपको बताएंगे की 32 बिट और 64 बिट प्रोसेसर क्या है।   इसके अलावा जब भी आप विंडो डालते हैं तो आपने कई बार नोटिस किया होगा की विंडो में 32, 64 और 86 बिट के विंडो आती है तो हम सोचते है कि 32 बिट की विंडो लगाए जो की अच्छी होती है। लेकिन आज मैं आपको यहां बताऊंगा की 32 और 64 बिट प्रोसेसर क्या है। उनमें कौन सी विंडो लगाने चाहिए, कौन सा ऑपरेटिंग सिस्टम आप को इंस्टॉल करना चाहिए। इसके पूरे डिटेल के बारे में आज आपको इस आर्टिकल में बताऊंगा।

प्रोसेसर में bit उसके साइज और डेटा टाइप को हैंडल करने और उसके रजिस्ट्रेशन को बिलॉन्ग करता है। जैसे मान लीजिए आप का प्रोसेसर 32 बिट का है तो उसमें एक समय पर 32 बिट के डाटा को ट्रांसफर करने की क्षमता है। इसका मतलब है कि प्रोसेसर में 32 बिट operating system के साथ वर्किंग करने के लिए सही है। 32 बिट 2³² कंप्यूटर वैल्यू के मेमोरी एड्रेस के साथ स्टोर करने के लिए उपयुक्त है।

32 बिट के प्रोसेसर में 32 बिट का ऑपरेटिंग सिस्टम होना बहुत जरूरी है जिससे कि वह सही तरीके से काम कर सके। Microsoft Windows 95 के बाद सभी ऑपरेटिंग सिस्टम 32 बिट अवेलेबल है और Android के लगभग सभी फोनों में ऑपरेटिंग सिस्टम 32 बिट सपोर्ट करता है लेकिन अभी रिसेंटली जो फोन आ रहे हैं उनमें 64 बिट प्रोसेसर भी आने लगे हैं।

64 बिट के प्रोसेसर का मतलब है कि आप उसमें 64 बिट के डाटा ट्रांसफर कर सकते हैं। जिसके डाटा transfer, data-path widths, integer size और मेमोरी एड्रैस widths 64 बिट की होगी। 64 बिट प्रॉसेसर में आप 264 कंप्यूटर के मेमोरी एड्रेस स्टोर कर सकते हैं। माइक्रोसॉफ्ट विंडो XP के बाद लगभग सभी में 64 बिट operating system अवेलेबल है। मोबाइल में Android के kitkat वर्शन के बाद मोबाइल मे भी 64 वर्शन का इस्तेमाल होने लगा है।

32-bit vs 64-bit processor

32 बिट और 64 बिट प्रोसेसर में सबसे बड़ा डिफरेंस तो उनकी calculation का है। 32 BIT का प्रोसेसर में 32 बिट के 2 integer के ऊपर कैलकुलेशन करता है और 64  bit का प्रोसेसर में 64 बिट के 2 integer के ऊपर कैलकुलेशन करता है। इसी वजह से 64 bit प्रॉसेसर की स्पीड 32 bit के प्रॉसेसर से ज्यादा होती है।

32 बिट और 64 बिट प्रोसेसर का सबसे बड़ा डिफरेंस यह भी है कि इसमें ज्यादा मेमोरी एड्रेसिंग सपोर्ट करता है इसका मतलब है कि आप इसमे ज्यादा बड़ी RAM लगा सकते हैं। 32 Bit प्रॉसेसर मे 4GB तक की RAM सपोर्ट करती है और 64 BIT प्रॉसेसर मे 4GB से ज्यादा RAM भी सपोर्ट करता है। यह graphics Designing और विडियो एडिटिंग के लिए बहुत जरूरी होती है अगर आपका system 32 bit प्रॉसेसर का होता है तो आपका सिस्टम विडियो एडिटिंग के दौरान स्लो प्रोसैस करेगा। अगर आप नया कोई कम्प्युटर लेना चाहते है तो आप बिट का जरूर ध्यान रखे क्योकि इसी से आप अपने computer की RAM बढ़ा सकते है।

दोनों प्रकार के प्रॉसेसर मे एक और different है अगर आप 32 bit के प्रॉसेसर का इस्तेमाल कर रहे है तो आप सिर्फ 32 बिट के ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल कर सकते है अगर आप 64 बिट का ऑपरेटिंग सिस्टम install करते है तो यह सही ढंग से काम नही कर पाएगा। यही सब 64 बिट के प्रॉसेसर मे होता है इसके लिए भी आपको 64 बिट के ऑपरेटिंग सिस्टम install करना होगा और अगर आप 32 बिट के प्रॉसेसर का इस्तेमाल करते है तो आपका कम्प्युटर स्लो प्रोसैस करेगा। जो की आप कभी नही चाहोगे।

अगर आप ग्राफिक डिज़ाइन या फिर वीडियो एडिटिंग करते हैं या आप का प्लान अपने कम्प्युटर को upgrade करने का है जिसमे आप अपने कंप्यूटर की RAM बढ़ा सके तो आप 64 bit के प्रोसेसर का इस्तेमाल कीजिए। आज के टाइम में लगभग 64 बिट के प्रोसेसर इस्तेमाल किए जा रहे हैं। और अगर आप मोबाइल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो Lollipop और Marshmallow वर्जन अपडेट करने के लिए आपका मोबाइल 64 bit प्रॉसेसर का होना चाहिए।अगर आपका मोबाइल 32 bit प्रॉसेसर पर काम करता है तो आप Lollipop या Marshmallow वर्जन में अपना मोबाइल अपडेट नहीं कर पाएंगे।

मैं उम्मीद करता हूं आपको 32 बिट और 64 बिट प्रॉसेसर के बारे मे पूरी जानकारी मिल गयी होगी। इसीलिए आप जब भी कोई मोबाइल और कम्प्युटर खरीदे तो यह जरूर ध्यान रखे की उसमे किस प्रॉसेसर का इस्तेमाल किया जा रहा है। और अगर आपको इसके बारे में अगर आपको कुछ और पूछना है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स मे लिख सकते है या फिर आप हमारे Facebook पेज पर मैसेज कर सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

1 Comment
  1. Ravi Mohan says

    64 बिट के प्रोसेसर में हम कंप्यूटर की रैम कितने GB तक बढ़ा सकते हैं?

Leave A Reply

Your email address will not be published.