आईये कुछ नया जाने

तलाक क्या होता है और इससे कैसे बचा जा सकता है

तलाक क्या होता है और इससे कैसे बचा जा सकता है और इसके क्या कारण होते हैं

आज हम आपको इस पोस्ट में एक बहुत ही बढ़िया और महत्वपूर्ण जानकारी बताएंगे यह जानकारी आपके लिए जानना बहुत ही जरूरी है. क्योंकि इस जानकारी में जो हम बातें बताएंगे वह आपके आसपास होने वाली हर दिन की घटनाएं हैं. आज हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे कि तलाक क्या होता है. और तलाक होने के क्या क्या कारण होते हैं. और तलाक से बचने के लिए क्या करना चाहिए. आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में शादी के बंधन को सबसे पवित्र बंधन माना जाता है.

लेकिन फिर भी पति पत्नी में लड़ाई झगड़े के कारण या किसी दूसरी बात के कारण कई बार ऐसी नौबत आ जाती है. कि दोनों तलाक लेने के लिए मजबूर हो जाते हैं. या तलाक ले भी लेते हैं. तो ऐसे में उन लोगों को बहुत दुख होता है. या वह कई बार इस दुख के कारण अपनी जान भी दे देते हैं. आज हम आपको बताएंगे कि इस तरह की घटनाएं यदि आपके आसपास होती है. या आपके साथ होती है तो आप किस तरह से बच सकते हैं उससे बचने के उपाय बताएंगे तो देखिए

तलाक क्या होता है और इससे कैसे बचा जा सकता है

What is a divorce and how can it be avoided In Hindi : अगर देखा जाए तो आज के सारे तलाक एक परंपरा सी बन गई है. क्योंकि शादी चाहे किसी भी तरह से की गई हो चाहे लड़का लड़की आपस में प्यार करते हो उन्होंने लव मैरिज की हो या उन्होंने घरवालों की मर्जी से शादी की हो लेकिन कई बार ऐसी आपसी अनबन या आपसी झगड़े के कारण तलाक होना आज के समय में आम बात बन गई है. और हर दिन ऐसे केस कोर्ट में आते रहते हैं तो तलाक होने के बाद दोनों के परिवार वालों को भी बहुत दिक्कत होती है. और अगर शादी के बाद बच्चे हो गए और फिर तलाक है. तो उनके बच्चों को तो बहुत ज्यादा दिक्कत होती है. इसलिए तलाक से बचने के लिए कई बार आप किसी तीसरे आदमी को अपने बीच में ले कर बातें करते हैं. ताकि आप तलाक से बच सकें.

तलाक होने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं. और शुरू-शुरू में आपको अपनी शुरुआत में आपको अपने रिश्ते में बहुत परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है.. लेकिन इसका मतलब यह नहीं होता आप तलाक लेने जैसा बड़ा कदम उठा ले अगर आपके बीच में कुछ अनबन चल रही है. या कुछ झगड़ा होता है. तो आपको एक दूसरे को समझने की कोशिश करनी चाहिए एक दूसरे को समय देना चाहिए. आराम से बैठकर बातें करनी चाहिए क्योंकि शादी कभी एक आदमी पर निर्भर नहीं करती. इसमें पति और पत्नी दोनों का बराबर महत्व होता है. और तलाक की सबसे ज्यादा दिक्कत लव मैरिज में आती है. और इसका सबसे बड़ा कारण यह है. कि आज के समय में  लोग एक दूसरे के ऊपर विश्वास नहीं करते हैं. और पहले शादी के रिश्ते को हमारे देश में बहुत पवित्र माना जाता है. और शादी करते समय लोग सात जन्मों तक साथ निभाने का वादा भी करते थे. लेकिन आज के समय में ऐसे सभी वादे झूठे साबित हो रहे हैं.

तलाक के क्या क्या कारण हो सकते हैं

What are the reasons for divorce In Hindi ? तलाक कहने से तो बहुत कारण हो सकते हैं और ज्यादातर तलाक के कारण पति पत्नी से ही जुड़े होते हैं. और हमारे देश में पिछले कुछ समय में बहुत ज्यादा तलाक के मामले सामने आए हैं और हर रोज कोर्ट में ऐसे मामलों पर सुनवाई भी की जाती है.और इन मामलों में देखा गया है. कि ज्यादातर मामले सिर्फ पति-पत्नी में आपकी अनबन या  झगड़े ही होते है.

1.पति या पत्नी को एक दूसरे का व्यवहार पसंद ना ना या एक दूसरे की सोच का ना मिलना दोनों में से किसी भी परिवार वाले के घर वालों के कारण झगड़ा होना.

2.दोनों में से किसी 1 को छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा आना और गुस्सा आने के कारण छोटी-छोटी बातों पर बहस होने लगती है जिसके कारण भी इस तरह की नौबत आ जाती है.

3.कभी-कभी पति या पत्नी दोनों को गुस्सा भी लगता है. इसलिए भी कई बार इस तरह की नौबत आ जाती है. कि दोनों एक दूसरे से तलाक लेने का मन बना लेते हैं.

4.कई बार लड़का या लड़की एक दूसरे की खूबसूरती के कारण एक दूसरे से शादी कर लेते हैं. और उनके दिल की बात से आपस में नहीं समझ पाते हैं. इसलिए बाद में झगड़ा होना शुरू हो जाता है और तलाक तक की भी नौबत आ जाती है.

5.कई बार पति पत्नी शादी से पहले सर प्यार किसी और से करते हैं. लेकिन घर वालों के डर से वे शादी कर लेते हैं. जिसके बाद वे आपस में पति-पत्नी लड़ने झगड़ने लगते हैं. और हर बात पर तलाक लेने के बहाने ढूंढते हैं.

6.कई बार पति पत्नी के बीच जमीन ज्यादा दिया पैसों को लेकर भी झगड़ा होता है जिसके बाद कई बार वे आपस में तलाक भी ले लेते हैं.

7.आज के समय में लोग अपनी शादीशुदा जिंदगी से बहुत जल्दी दुखी हो जाते हैं या बोर हो जाते हैं इसलिए दूसरी लड़की या लड़के के साथ रहना चाहते हैं और नए जीवनसाथी को ढूंढने लग जाते हैं.

8.कई बार पति पत्नी है को लगता है कि उसका पति या पत्नी किसी दूसरे के साथ बातें करती है या उसके साथ शारीरिक संबंध बनाती है इसके कारण भी उनके जिसमें तलाश है तक की नौबत आ जाती है लेकिन चाहिए सच हो या ना हो लेकिन सच क्या है यह कभी पता नहीं होता लेकिन शक करने से ही उनके बीच में दरार आ जाती है.

9. कई बार ऐसा होता है कि पति या पत्नी किसी दूसरे के साथ शारीरिक संबंध बनाते हुए पकड़े जाते हैं. उसके बाद उन दोनों का तलाक हो जाता है.

10.कई बार दहेज के कारण भी पत्नी को तलाक देने के लिए बार-बार बोला जाता है जिससे कि कई बार पत्नी तलाक देवी देती है.

तलाक के कारण होने वाले नुकसान

Disadvantages due to divorce In Hindi : जब आपका तलाक हो जाता तो उसके बाद लगभग आपको बहुत ज्यादा नुकसान होता है

1.मेरा पति पत्नी पहली शादी में मिलते हैं वैसा ही पति या पत्नी दूसरी शादी में मिले या ना मिले यह कोई जरूरी नहीं है कि वह आपको पहली पत्नी जितना समझती थी उस जितना समझ पाए क्या पता है यह उससे भी ज्यादा नफरत करने लगे.

2.अगर आप दूसरी शादी करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको कुछ ना कुछ तो करना पड़ता है लेकिन आपको पहली पत्नी जैसी पत्नी दूसरी बार नहीं मिल पाती है आप को दूसरी बार ऐसी पत्नी मिलती है जिसका पहले तलाक हो चुका होता है.

3. आप की पहली शादी सभी चीजों को देख कर की जाती है आपस में सभी परिवार के लोगों को जानते हैं उनके घर परिवार को देखते हैं इतना सब कुछ नहीं हो पाता है.

4.जब आपका तलाक होता है तो आस पड़ोस के लोगों में आपकी इज्जत भी थोड़ी कम हो जाती है. और यदि आप का तलाक हो रहा है और आपको बच्चे हैं तो उस समय आप के बच्चों की जिंदगी भी बिल्कुल खत्म होने के कगार पर आ जाती है. और यह आपका सबसे ज्यादा नुकसान होता है.

5.कई बार जब तलाक होता है तो आपको अपनी पत्नी को अपनी प्रॉपर्टी और पैसों में से आधी चीजें देनी पड़ती है. कई बार तलाक के बाद आपके बच्चों को आपकी पत्नी के पास में भेज दिया जाता है. और आप अपने बच्चों से बहुत प्यार करते हैं. और आप नहीं चाहते हैं कीजिए आप से दूर हो बिल्कुल मजबूरन उनको दूर कर दिया जाता है. तो यह भी आप को बहुत ज्यादा नुकसान होता है और इससे आपको बहुत ही दुख होता है.

तलाक के समाधान

Divorce solutions In Hindi : वैसे अगर आप चाहते हैं कि हमारे बीच ऐसी समस्या ना आए कि हमें तलाक लेना पड़े तो आप इस समस्या से आसानी से निपट भी सकते हैं लेकिन इसके लिए आपके अंदर थोड़ा धैर्य और आपको थोड़ा कंट्रोल में रहना होता है.

1.जो भी आप एक दूसरे के बीच में दिक्कत है. उसको आप दोनों आराम से बैठकर बातें करें और उस समस्या को सुलझाने की कोशिश करें जिससे कि आप दोनों में झगड़ा कम होगा

2.यदि आप की शादी हो चुकी है तो आप शादी के बाद अपने जीवनसाथी से प्यार से बातें करें और उसके ऊपर हमेशा विश्वास करें उसके ऊपर भरोसा रखें और यदि आप एक दूसरे पर विश्वास करते हैं. और दोनों खुश रहते हैं.तो कभी आप दोनों के बीच में झगड़ा नहीं होगा.

3. अगर आप चाहते हैं कि हमारे बीच किसी भी प्रकार का झगड़ा ना हो तो आप एक दूसरे की बातों से सहमत हो जाएं जो भी बात आपको गलत लगती है .वह आप अपने पार्टनर को बिल्कुल आराम से और प्यार से समझाने की कोशिश करें.

4.कभी किसी दूसरे के कहने पर आप अपने जीवनसाथी के साथ लड़ाई झगड़ा ना करें और कभी भी दूसरों की बात को सुनकर या देखकर अपने जीवनसाथी के बारे में गलत ना सोचे.

5.अगर आपका पति या पत्नी बाहर कहीं पर नौकरी करते हैं या काम करते हैं तो आप घर आते उसे अच्छे से बातें करें.किसी दूसरे की बोलने पर कभी भी अपनी पत्नी पर गलत शक ना करें या आप कभी भी ऐसा ना हो तो उसने आपको धोखा दे रही है यदि आपको कहीं ऐसा लगता है तो आप आराम से बैठकर बातें कर सकते हैं.

6.आप अपने पति या पत्नी को खुशी देने की कोशिश करें चाहे वह शारीरिक संबंध बनाने की होता है वह बातें करने की हो चाहे वह खाने-पीने की हो चाहे वह किसी भी तरह की खुशी हो जो आपके पति या पत्नी को सबसे ज्यादा पसंद हो आप उनको उसी चीज के बारे में बातें करें और उसी चीज को देने की कोशिश करें

7.कई बार सही तरीके से शारीरिक संबंध बनाने से भी आपके पार्टनर को गुस्सा आता है. या उसमें वह उस बात को लेकर बार-बार झगड़ा करने लगता है. तो आप उसे आराम से समझाएं.

8.ऐसा कहीं भी नहीं करें जिससे कि आपके साथी को परेशानी हो या उसे दुख हो आप अपने साथी की बातों से सहमत हो और शक कभी भी पैदा ना करें क्योंकि शक के कारण बहुत ज्यादा तलाक होते हैं.

9.आप अपनी जिम्मेदारी से कभी भी मुंह ना मोड़ें और आप अपनी गलती की सजा कभी भी अपने पार्टनर को या अपने साथी को देने की कोशिश ना करें बल्कि अगर आपकी गलती है तो आप उसे स्वीकार करें.

10.लेकिन हमारा मतलब यह नहीं कि यदि आप का पति आप को गाली देता है. आप को पीटता है आपको प्रताड़ित करता है या आपके साथ गलत करता है आपके बच्चों के साथ गलत करता है. तो आप इस बारे में अपने घर के सदस्यों से बात करें या अपने माता पिता को बताएं लेकिन बिना भी किसी वजह के अपने साथी से कभी भी लड़ाई झगड़ा ना करें और अपने गुस्से को नियंत्रण में करें और यदि आपका पार्टनर आपके ऊपर गुस्सा करता है तो आप उसे प्यार से बोले और आराम से बातें कर

तलाक से बचने के लिए उपाय

How to Avoid Divorce In Hindi : शादी के बाद पति पत्नी के बीच आपस में थोड़ी बहुत है लड़ाई झगड़ा होता रहता है और उस दौरान आपको तलाक जैसा कदम कभी भी नहीं उठाना चाहिए और यदि आप के बच्चे हैं तो यह आपके लिए और भी जरूरी हो जाता है कि आप अपने रिश्ते को बनाए रखेंअगर आप के बीच किसी भी तरह का झगड़ा होता है या आपके परिवार को आप पर विश्वास नहीं हो रहा है. या आप अपने गुस्से पर नियंत्रण नहीं कर पा रहे हैं. तो इसके लिए आपको सूचित जरूरी होता है कि अपने रिश्ते को बनाए रखने के लिए आप क्या करें तो नीचे हम आपको बता रहे हैं कि आप किस तरह से अपने रिश्ते को बचा कर रख सकते हैं.

1.अगर आपके बीच इसी तरह की थोड़ी बहुत लड़ाई है. झगड़ा होता है तो आप अपने घर के समझदार सदस्य को बीच में लेकर बातें करने की कोशिश करें और एक दूसरे को समझने यह समझाने की कोशिश करें.

2.और जिस वजह से आपके बीच में लड़ाई झगड़े हो रहे हैं. जिससे आपके रिश्ते को नुकसान पहुंच रहा है आपके बीच में दरार आ रही है उन चीजों को या उन कारणों को समझने और पहचानने की कोशिश करना बहुत ही जरूरी है.

3. आप अपने जीवनसाथी को ज्यादा से ज्यादा समय देने की कोशिश करें क्योंकि जो आदमी या पत्नी अपने साथी को ज्यादा से ज्यादा समय देती है और उससे अपने मन की सभी बातें बोलती है तो उनकी शादी हमेशा कामयाब रहती है.

4. आप अपनी कुछ ऐसी बातों को समझने की कोशिश करें कि शायद आप अपने पत्नी से दूर तो नहीं रह रहे हैं. या आप अपने पत्नी को नजरअंदाज कर रहे हैं. और किसी दूसरी चीज पर ज्यादा ध्यान देते हैं या अपने जॉब या अपने काम के ऊपर वही चीजें आपके रिश्ते की दरार का सबसे बड़ा कारण होती है. तो आप इन चीजों को समझने की कोशिश करें.

5.आप अपनी पत्नियां अपने पति की ऐसी बातों की ओर ज्यादा ध्यान दें जिससे कि उसको सबसे ज्यादा खुशी मिली है. चाहे वह आपके नजदीक रहना चाहता हो या आपको अच्छे कपड़े में देखना चाहता हो या आपकी हंसी देखना चाहता हो या  सी भी तरह से खुश रहना चाहता हो उसको खुश रखने की कोशिश करें और अपने प्यार में नया रिश्ता शुरू करें.

6.आप हर बात पर अपने साथी की गलती कभी ना निकाले अगर आपको लगता है कि उसकी गलती है तो आप उसे  प्यार से समझाएं और अपनी गलतियां खुद स्वीकार करें. आप अपने साथी की गुस्से में बोली हुई बातों के ऊपर ज्यादा ध्यान ना दें और ना ही उसको बार-बार उन बातों के बारे में बताएं गुस्से में की हुई बातों का बुरा कभी मत माने.

7.आप कभी भी ऐसे आदमी से मिलने की कोशिश ना करें और ना ही अपने घर पर लेकर आने की कोशिश करें जो कि आपके पार्टनर को बिल्कुल भी पसंद ना हो आप अपने पार्टनर के साथ घूमने या खाने पीने के लिए बाहर जरूर जाएं

तो आज हमने आपको इस पोस्ट में बहुत ही बढ़िया और महत्वपूर्ण जानकारी दी है यह जानकारी लगभग सभी शादीशुदा लोगों के काम आने वाली जानकारी है तो आप इस जानकारी को अच्छी तरह से पढ़ें आप अपने साथी को समझने की कोशिश करें और औलाद चाहिए समस्याओं से निपटने के लिए आप किसी समझदार आदमी की सलाह ले सकते हैं. या उससे बातें कर सकते हैं.यदि हमारे द्वारा बताई गई है. जानकारी आपको पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें और यदि आपका इसके बारे में कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

+