इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) क्या है इसके लिए आवेदन कैसे करे

इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) क्या है इसके लिए आवेदन कैसे करे

कोई भी स्टूडेंट जो टीचर लगाना चाहता है उसके लिए एक अच्छी खबर है क्योकि अब आप 12th के बाद सीधा टीचर के लिए कोर्स कर सकते है क्योकि आपको बता दे बैचलर ऑफ एजुकेशन यानी बीएड कोर्स में फिर से बदलाव  किया गया है अब मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय ने कहा है की बैचलर ऑफ एजुकेशन यानी बीएड कोर्स जो पहले दो साल का चल रहा है उसको अब  आईटीईपी के नाम पर चार में बदल दिया गया है ऐसा करने से कुछ स्टूडेंट फायदा हुआ है लेकिन कुछ स्टूडेंट नाराज भी है लेकिन मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय ने कहा है की ऐसा कदम एजुकेशन सिस्टम में टीचिंग स्तर को सुधारने के लिए उठाया गया है

और साथ ही कहा गया है की यह कदम इस लिए उठाया गया है की भविष्य के स्कूल के टीचर्स ब्लू व्हेल चैलेंज, मनोवैज्ञानिक साइबर गेम्स और अन्य किसी प्रकार के धमकाने वाले गेम्स से छात्रों को किसी प्रकार की कोई समस्या न आये और   कहा   गया की इस साल के बैच में कोई बदलाव नही किया जायेगा यह अगले साल स्टार्ट किया जायेगा अबकी बार जिसने एडमिशन्स लिया हुआ है वह तो दो साल का ही कोर्स ही करेंगे |

इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) क्या है

राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने बीएड कोर्स की जगह दो नए कोर्स लांच किए हैं। इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) कोर्स चार साल का होगा 8 सेमेस्टर में होगा. जिसमें फील्ड बेस्ट एक्सपीरिएंस, टीचिंग प्रैक्टिस और इंटर्नशिप भी शामिल है. जैसे की अभी तक प्री प्राइमरी से प्राइमरी स्तर तक की कक्षाओं में पढ़ाने के लिए डीएलएड जरूरी था और अपर प्राइमरी से सैकंडरी स्तर तक के स्कूलों में पढ़ाने के लिए बीएड अनिवार्य था अब सभी को हटा कर एनसीटीई चार वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम( आईटीईपी) शुरू करने जा रहा है इसके बाद  प्राइमरी या फिर अपर प्राइमरी और इंटरमीडिएट में पढ़ाने के लिए अभ्यर्थियों को अब बीटीसी, डीएसएड या फिर बीएड का कोर्स नहीं करना पड़ेगा|

यानि कोई भी स्टूडेंट जो टीचर लगाना चाहता है वह चार साल का इंटीग्रेटेड टीचर एजूकेशन प्रोग्राम पूरा कर ले उसके बाद टीईटी, एसटीईटी या स्टेट लेवल के अन्य टेस्ट क्लियर करके टीचर बन सकते है यह दो कोर्स है एक आईटीईपी प्री प्राइमरी से प्राइमरी स्तर तक पढ़ाने के लिए होगा, जबकि दूसरा आईटीईपी कोर्स अपर प्राइमरी से सेकंडरी स्तर तक पढ़ाने के लिए होगा लेकिन दोनों की अवधि 4 साल है

इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) के लिए दखिला कैसे ले

यदि कोई भी स्टूडेंट इस कोर्स के अन्दर दाखिला लेना चाहता है तो वह 3 दिसंबर से लेकर 31 दिसंबर तक आवेदन कर सकते हैं क्योकि एनसीटीई ने एक नोटिफिकेशन जारी कर सत्र 2019-23 के लिए आईटीईपी कोर्स संचालित करने के लिए शिक्षण संस्थानों से ऑनलाइन आवेदन मंगाए हैं और टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) कोर्स के लिए अभी तक यह पता नही चला है की इस कोर्स के अन्दर दाखिला लेने के लिए कोई एंट्रेंस टेस्ट होगा या नही होगा लेकिन यह पता है की यह कोर्स सीधे विश्वविद्यालय से होगा

और इस कोर्स के लिए बीएड-एमएड वाले संस्थान के अन्दर इस कोर्स के लिए बुल्डिंग तैयार करनी होगी और एनसीटीई की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक आईटीईपी के लिए एक यूनिट 50 सीटों की होगी |

इस कोर्स का किसको फायदा हुआ किसको नुकसान हुआ

B.Ed कोर्स को चार साल करने के बाद कुछ स्टूडेंट इस लिए नाराज है क्योकि जो स्टूडेंट graduate है और B.Ed  करना चाहते थे उनको अब चार साल का कोर्स करना पड़ेगा उन्होंने पहले तीन साल graduation में लगा दी और अब 4 साल इस कोर्स के लिए लगाने पड़ेगे इसलिए वह सभी स्टूडेंट नाराज है

और फायदा उन स्टूडेंट को हुआ है जो अभी 12th में है और टीचर का कोर्स करना चाहते है क्योकि 12वीं पास छात्र बीएड की पढ़ाई कर सकेंगे.इसके लिए कोई डिग्री की जरुरत नही पड़ेगी कोई भी स्टूडेंट 12th के बाद सीधा टीचर के लिए कोर्स कर सकते है |

हमने इस पोस्ट में  इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) क्या है  NCTE launches 4 year teacher education course in hindi  NCTE ke andar admission kaise le NCTE ke liye online apply kanha se kare से सबंधित जानकारी दी है  इसके बारे में कोई भी सवाल या सुझाव होतो कमेंट करे और इस ब्लॉग को शेयर जरूर करे|

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.